Menu
blogid : 313 postid : 673776

जब शादी करना मजबूरी बन जाए तो…..

इंडियन सोसाइटी में शादी एक बड़ा फैसला माना जाता है. यह एक ऐसा संबंध होता है जिसमें शादी करने जा रहे युवक-युवती की भूमिका से ज्यादा उनके परिवारवालों की भूमिका ज्यादा महत्वपूर्ण होती है. यूं तो हमारे समाज में अभी भी परंपरागत तरीके से ही विवाह किए जाने जैसी परंपरा विद्यमान है लेकिन बदलती जीवनशैलियों और आधुनिक होती मानसिकता की वजह से प्रेम विवाह जैसे संबंध भी प्रमुखता के साथ देखे जा रहे हैं. इसलिए देखा जाता है विवाह करने के लिए या तो पारिवारिक रजामंदी होना जरूरी होता है या फिर युवक-युवती के बीच प्यार होना आवश्यक होता है. वैसे भी अब जब दो लोगों को एकसाथ जीवन यापन करना ही है तो उन दोनों में एकदूसरे के लिए भावनाएं होना बहुत जरूरी हो जाता है.


love marriageपरंतु हां, एक बात और है कभी-कभी कुछ केस ऐसे भी होते हैं जब आपके दो लोगों के बीच कोई भावनाएं नहीं होतीं, कोई प्रेम नहीं होता लेकिन फिर भी उन्हें विवाह बंधन में बंधना पड़ता है. अब इसे वक्त की जरूरत कहें या फिर मजबूरी लेकिन कई बार हालात ऐसे होते हैं जब आपको गलत वजहों के कारण विवाह बंधन में बंधना पड़ता है. चलिए हम बताते हैं वो वजह कौनसी हैं जो दो लोगों को ना चाहते हुए भी विवाह बंधन में बांध देती हैं:



बीवी के साथ-साथ गर्लफ्रेंड का भी शौक है तो…..



सब दोस्त शादी कर रहे हैं: आपके सभी दोस्त विवाह बंधन में बंधते जा रहे हैं और आप अभी तक कुंवारे हैं. देखिए यह शादी करने का कोई बहाना नहीं हो सकता क्योंकि जीवनभर साथ निभाए जाने वाले संबंध बिना सोचे-समझे नहीं बनाए जाते. बहुत जरूरी है कि आप बिल्कुल सोच विचार कर किसी निर्णय पर पहुंचें.


गर्भावस्था: भारतीय समाज में विवाह से पहले शारीरिक संबंध बनाना पूरी तरह निषेध माना जाता है ऐसे में अगर विवाह पूर्व कोई स्त्री मातृत्व धारण कर लेती है तो यह उसके और उसके परिवार के लिए एक बड़ी परेशानी का सबब बन जाता है. इसलिए कई बार यह गलती होने की वजह से लड़कियां ना चाहते हुए भी किसी ऐसे इंसान से शादी करने के लिए तैयार हो जाती हैं जिनके बारे में वह स्वयं आशवस्त नहीं होतीं.


मैं क्यों बताऊं मेरा ब्वॉयफ्रेंड है ….!!


पैसे की समस्या: किसी भी व्यक्ति के जीवन में पैसे की अहमियत कम नहीं आंकी जा सकती. सभी के लिए पैसा जरूरी होता हैं और शायद इसी वजह से लोग शादी करने के लिए तैयार हो जाते हैं क्योंकि उन्हें लगता है शादी के बाद उन्हें अपने साथी से वित्तीय समर्थन मिलेगा.


उम्र बीतने के कारण: लोगों का मानना है कि 30 से पहले-पहले शादी कर लेनी चाहिए. इसलिए वे लोग जो 30 की उम्र को पार करने वाले होते हैं उन्हें लगता है अब उन्हें शादी के बंधन में बंध जाना चाहिए. ऐसी मानसिकता की वजह से वह किसी से भी शादी करने के लिए तैयार हो जाते हैं.


बच्चों के प्रति प्रेम: स्त्रियों के मामले में यह वजह बहुत प्रभावी सिद्ध होती है क्योंकि उनके भीतर मातृत्व की भावना प्रबल रूप से विद्यमान होती है. उनकी उम्र बढ़ने के कारण उनके भीतर मां बनने की इच्छा भी बढ़ने लगती है इसलिए वह शादी करने के लिए खुद को तैयार कर लेती हैं.


क्या पत्नी के इशारों पर नाचते हैं आप ?

गर्लफ्रेंड को छूना चाहते हैं तो….

5 डेटिंग सुझाव जो कभी फेल नहीं होंगे

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *