Menu
blogid : 313 postid : 698707

इस कदर भी दिल ना तोड़िए जनाब

सुना तो बहुत है कि वादे तोड़ने के लिए ही किए जाते हैं पर ऐसी भी क्या बेरुखी कि हमसफर बनने का दावा करने वाला साथी पल भर में ही साथ छोड़ के चला जाए. इस सच्चाई से लोगों का सामना तब ही होता है जब जनवरी का महीना शुरू होता है. अब आप सोच में पड़ गए होंगे कि आखिरकार आपको बेइंतहा मुहब्बत करने वाला व्यक्ति जनवरी के महीने में ही क्यों आपका साथ छोड़ चला जाता है.


breakupदरअसल एक नई रिसर्च से खुलासा हुआ है कि जनवरी में सबसे ज्‍यादा ब्रेकअप होते हैं. रिसर्च में शामिल हर पांचवें शख्‍स ने कहा कि यही वह महीना होता है जब ज्‍यादातर लोग अपने साथी से रिश्‍ता तोड़ लेते हैं. इस रिसर्च के अनुसार, ‘नए साल में नई शुरुआत की इच्‍छा रिश्‍ते टूटने का मुख्‍य कारण बताया गया है. कुछ लोग थोड़े भिन्न जरूर होते हैं इसलिए वो ब्रेकअप के लिए जनवरी महीने को छोड़ मार्च या फिर दिसंबर में से किसी एक का चुनाव करते हैं.

तेरे बिना जिंदगी से कोई शिकवा तो नहीं


इस रिसर्च को करवाने वाली कंपनी वाउचरक्‍लाउड के प्रवक्‍ता के अनुसार, दिसंबर का महीना सबसे तनावपूर्ण होता है जिससे अकसर रिश्‍तों में दूरी आ जाती है. दिसंबर का अंत होते ही नए साल के साथ जनवरी की शुरूआत हो जाती है और इस दौरान लोग जिंदगी की नई शुरुआत करने के बारे में सोचते हैं. ऐसे में ज्‍यादातर प्रेमी जोड़े अपने रिश्‍ते को नजदीक से देखते हैं और फिर अलग होने का फैसला ले लेते हैं. इन तथ्यों से काफी हद तक सहमति जताई जा सकती है पर पूर्ण सहमति नहीं.


क्या केवल जनवरी का महीना ही ऐसा अवसर होता है जिसमें लोग अपने रिश्तों की गहराई को परखते हैं. नहीं, यह सत्य हो ही नहीं सकता है क्योंकि रिश्तों की परख समय के अनुसार होती है. जब समय व्यक्ति की परिक्षा लेता है तो ऐसे में व्यक्ति के सबसे करीबी रिश्ते भी उसका साथ छोड़ देते हैं. जनवरी में प्रेमी जोड़े शायद इसलिए ब्रेकअप कर लेते होंगे क्योंकि उन्हें अपने प्यार के साथ संतुष्टि प्राप्त नहीं होती होगी तब जाकर ऐसे में वो फरवरी में किसी और शख्स से जुड़ संतुष्टि प्राप्त करना चाहते होंगे.


आखिरकार एक मॉडल चाहती क्या है ?

किसने सोचा था कि ऐसी भी शादी होगी !!

कितना रोमांटिक है आपका ब्वॉयफ्रेंड

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *