Menu
blogid : 313 postid : 665673

क्या आप भी मां नहीं बनना चाहतीं?

marriage materialजब-जब शादी की बात होती है तो यही सुना और देखा जाता है कि लड़कियां अपने जीवनसाथी को लेकर बहुत पोसेसिव होती हैं. वे इस बारे में बड़ी गंभीर होती हैं कि जिससे वे शादी करने जा रही हैं वह हस्बैंड मटीरियल हैं भी या नहीं? अपने साथी को लेकर उनकी प्राथमिकताएं, उम्मीदें इतनी ज्यादा होती हैं कि अगर एक कसौटी पर भी वो खरा नहीं उतर पाए तो प्रॉब्लम हो जाती है. लेकिन अगर आप ये सोचते हैं कि अपने संबंध को लेकर सिर्फ लड़कियां ही इतनी सीरियस होती हैं और तो आप गलत हैं क्योंकि लड़के भी समान रूप से अपनी होने वाली पत्नी के लिए गंभीर होते हैं और अपनी होने वाली जीवनसाथी में कुछ विशेष गुणों की तलाश करते हैं. जिस लड़की के प्रति वो आकर्षित हैं या जिससे वे शादी करने जा रहे हैं वह सबसे पहले इस बात की तरफ ध्यान देते हैं.



अब पता चलेगा ब्वॉयफ्रेंड के दिल में क्या है!!


चलिए हम आपको बताते हैं कि लड़कियों की कौन सी कमी उन्हें मैरेज मटीरियल बनने से रोकती है.


खर्चीला स्वभाव: आपको शायद ये लगता हो कि लड़के बड़े खर्चीले होते हैं, वह पैसे की अहमियत को नहीं समझते. लेकिन आपको बता दें कि लड़के कितने ही खर्चीले क्यों ना हो लेकिन वह हमेशा एक ऐसी लड़की की तलाश करते हैं जो पैसे को महत्व दे और अपने खर्चों में कटौती करे. अगर कोई लड़की पैसे जोड़ने से ज्यादा उन्हें खर्च करने में दिलचस्पी लेती हैं तो लड़कों के लिए वह मैरेज मटीरियल नहीं है.



आखिरकार कैसे भूल गए वो कॉल करना ?


हमेशा कंफ्यूज करना: वैसे तो यह खूबी लड़कों में ज्यादा होती है लेकिन अगर कोई लड़की कमिटमेंट से डरती है, शादी जैसे फैसले को लेकर आश्वस्त नहीं हो पाती तो वे लड़के जो वाकई एक सेटल जीवन की तलाश में हैं उन्हें अहमियत नहीं देते.


दूसरे लड़कों पर भी ध्यान देना: दूसरे लड़कों और लड़कियों को देखना तब तक सही रहता है जब तक आप शादी जैसे संबंध में पड़ने के लिए तैयार नहीं हैं. लेकिन एक बार अगर आप किसी प्रतिबद्ध संबंध में पड़ गए और उसके बाद भी आपने दूसरे लड़कों को देखना नहीं छोड़ा तो समझ लीजिए आपका संबंध समस्या में पड़ सकता है क्योंकि लड़के नहीं चाहते कि उनकी गर्लफ्रेंड या होने वाली पत्नी किसी और की तरफ देखे.


खतरनाक पत्नी का पति होने का दुख


बच्चे!! ना बाबा ना: लड़कियों के लिए मां बनना गर्व की बात होती है लेकिन आजकल वे परिवार से ज्यादा अपने कॅरियर को प्राथमिकता देने लगी हैं. इसलिए अगर आप भी उन महिलाओं में से हैं जो बच्चों को कॅरियर की राह में बाधा मानकर मां नहीं बनना चाहती तो समझ लीजिए आप मैरेज मटीरियल कभी नहीं साबित हो सकती.


शक्की मिजाज: वैसे तो लोग कहते हैं कि पुरुषों को ऐसी लड़कियां नहीं पसंद जो उन्हें अपने इशारों पर नचाएं, लेकिन अंदर की बात तो ये है कि पुरुष ऐसी लड़की का साथ बिल्कुल बर्दाश्त नहीं कर सकते जो हर पल उनपर शक करे. शक्की लड़कियों से वह दूर ही रहना पसंद करते हैं.


इस हुस्न के पीछे बहुत से राज छिपे हैं

समस्याओं का दूसरा नाम है ‘शादी’

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *