Menu
blogid : 313 postid : 3149

बस देखने भर से ही सोच में कमाल

thinkसच में हैरानी वाली बात है कि क्या केवल दृश्य देखने से ही सोच में बदलाव होने लगता है. हां, शायद यह बात सच है, क्योंकि राज जो 20 साल का है वो और उसके दोस्त फिल्म देखने गए थे जिसमे सेक्स के दृश्य दिखाए गए थे और उन लोगो का कहना है कि उस फिल्म को देखने के बाद उनकी सेक्स के लिए भावनाएं बढ़ने लगीं. हैरानी वाली रिसर्च रिपोर्ट सामने आई है जो यह कहती है कि फिल्मों में जो सेक्स के द्दश्य दिखाए जाते हैं उन दृश्यों को देखकर किशोरों में सेक्स की भावना बढ़ने लगती है, लोकप्रिय फिल्मों में सेक्स दृश्य देखने वाले किशोर युवावस्था से ही ज्यादा कामुक और सेक्स के मामलों में ज्यादा सक्रिय हो जाते हैं.

Read: प्यार में क्या चाहती है स्त्री


मनोवैज्ञानिकों ने हॉलीवुड की 700 हिट फिल्मों को लेकर किये गये अध्ययन के आधार पर कहा कि हॉलीवुड फिल्मों में पर्दे पर ज्यादा सेक्स दृश्य देखने वाले किशोरों की ज्यादा लोगों से यौन संबंध बनाने और कंडोम का उपयोग नहीं करने की संभावना ज्यादा रहती है. इस अध्ययन में पाया गया कि कामुक दृश्य देखने से किशोरों का व्यक्तित्व ‘मूलभूत रूप से प्रभावित’ होता है. ‘डेली टेलीग्राफ’ की खबर के अनुसार, न्यू हैम्पशायर के डार्टमाउथ कालेज के शोधकर्ताओं ने पाया कि युवा लोग भविष्य में अपने रिश्तों में ज्यादा जोखिम लेने में सक्षम होते हैं.


Read: संभाल कर ! खूबसूरती का सवाल है


Read: पद की गरिमा और व्यक्ति की गरिमा पर सवाल उठाने में अंतर है


Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *