Menu
blogid : 313 postid : 815

नवयुवकों से आगे बुजुर्ग

Internetकहा जाता है कि आधुनिक युग नवयुवकों का युग है. क्योंकि नित नई बदलती तकनीकों के साथ गति बनाए रखना किसी बूढ़े व्यक्ति से परे है. आज सोशल नेटवर्किंग साइट का ज़माना है जहॉ लोग तार की जगह अपडेट्स करते हैं. चिट्ठी की जगह मेसेज करते हैं. ऐसे में अगर आप पीछे रह गए तो आप का उद्धार नहीं हो सकता.

लेकिन भले ही आधुनिक युग नौजवानों का युग हो परन्तु बड़े-बुजुर्ग इससे परे नहीं हैं. प्रकृति की मांग परिवर्तित होती है और शायद बड़े-बुजुर्ग इस गुण को जान गए हैं तभी उनकी इंटरनेट और सोशल नेटवर्किंग साइट के प्रति रूचि भी बढ़ी है और मौजूदा समय में आलम यह है कि बड़े-बुजुर्गों ने सोशल नेटवर्किंग और शॉपिंग साइटों के इस्तेमाल के मामले में नौजवानों को भी पीछे छोड़ दिया है. भले ही तकनीक और प्रौद्योगिकी से रूबरू होने में उनकी गति धीमी हो लेकिन वह नई- नई तकनीकों और इंटरनेट का इस्तेमाल नौजवानों से भी ज़्यादा करते हैं.

‘‘प्यू रिसर्च सेंटर’ के द्वारा कराए गए एक शोध से पता चलता है कि 65 साल या इससे ज्यादा उम्र के बुजुर्ग इंटरनेट का उपयोग करने के मामले में नौजवानों से भी आगे बढ़ गए हैं, जबकि दूसरे पायदान पर 50 से 64 साल की उम्र के लोग कायम हैं.

शोध के मुताबिक, 18 से 33 साल की उम्र के लोग इंटनेट का इस्तेमाल स्मार्टफोन के द्वारा करने के मामले में अभी भी काफ़ी पीछे हैं. इसके अलावा पहले जहां उनका वर्चस्व था वहां भी बड़े-बुजुर्गों का दाखिला हो गया है.

इस शोध के अन्तर्गत ऑनलाइन टॉक, मनोरंजन और सोशल नेटवर्किंग साइट का प्रयोग शामिल था. गौर करने की बात यह है कि, सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन का इस्तेमाल करने में भी बुजर्ग आज युवाओं से पीछे नहीं हैं.

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *