Menu
blogid : 1969 postid : 357

शांति और रोमांच दोनों चाहिए तो यहां आइए

Jagran Yatra

  • 68 Posts
  • 89 Comments

भारत में वैसे तो कई दर्शनीय स्थल हैं जो अपने आप में ही अनोखे हैं और जहां जाने के लिए खर्चा भी बहुत कम होता है, इन्हीं में से एक है मध्यप्रदेश में स्थित पंचमढ़ी. अक्सर देखा जाता है कि पर्यटक स्थलों पर शोर ज्यादा होता है लेकिन पंचमढ़ी में ऐसी बात नही है. सतपुड़ा की पहाड़ियों के बीच बसा पंचमढ़ी मध्य प्रदेश का एकमात्र हिल स्टेशन है. चारो तरफ फैली हरियाली और शांति के बीच नदियों और झरनों की सुरीली आवाज सैलानियों को मंत्रमुग्ध कर देती है.

सतपुड़ा की पहाडियों के बीच होने और अपने सुंदर स्थलों के कारण इसे सतपुड़ा की रानी भी कहा जाता है. यह चारो तरफ से घने जंगलों और  कल-कल करते जलप्रपात और तालाब से घिरा हुआ है. सतपुड़ा राष्ट्रीय उद्यान का भाग होने के कारण यहां आसपास बहुत घने जंगल हैं. यहां के जंगलों में शेर, तेंदुआ, सांभर, चीतल, गौर, चिंकारा, भालू, भैंसा तथा कई अन्य जंगली जानवर मिलते हैं. यहां की गुफाएं पुरातात्विक महत्व की हैं क्योंकि यहां की गुफाओं में शैलचित्र भी मिले हैं.


यहां के प्रमुख दर्शनीय स्थल निम्न है:


प्रियदर्शिनी प्‍वाइंट : यहां से सूर्यास्त का दृश्य बहुत ही लुभावना लगता है. तीन पहाड़ी शिखर बायीं तरफ चौरादेव, बीच में महादेव तथा दायीं ओर धूपगढ़ दिखाई देते हैं. इनमें धूपगढ़ सबसे ऊँची चोटी है.


रजत प्रपात: यह अप्सरा विहार से आधा किमी. की दूरी पर स्थित है. 350 फुट की ऊँचाई से गिरता इसका जल एकदम दूधिया चाँदी की तरह दिखाई पड़ता है.


बी फॉल: यह जमुना प्रपात के नाम से भी जाना जाता है. पिकनिक मनाने के लिए यह एक आदर्श जगह है. यहां का गिरता पानी एक मधुर  ध्वनि फैलाता है जो मन को अपनी तरफ खींचता है.

जटाशंकर गुफा: यह एक पवित्र गुफा है जो पचमढ़ी कस्बे से 1.5 किमी. दूरी पर है. यहाँ तक पहुँचने के लिए कुछ दूर तक पैदल चलना पड़ता है. मंदिर में शिवलिंग प्राकृतिक रूप से बना हुआ है. यहाँ एक ही चट्टान पर बनी हनुमानजी की मूर्ति भी एक मंदिर में स्थित है. पास ही में हार्पर की गुफा भी है.


पांडव गुफा: महाभारत काल की मानी जाने वाली पाँच गुफाएँ यहाँ हैं जिनमें द्रौपदी कोठरी और भीम कोठरी प्रमुख हैं. पुरातत्वविद मानते हैं कि ये गुफाएँ गुप्तकाल की हैं जिन्हें बौद्ध भिक्षुओं ने बनवाया था


सतपुड़ा राष्टीय पार्क

इतनी शांति और आकर्षक नजारों के बीच आपको जानवरों से रुबरु होने का मौका मिले तो कितना अच्छा लगेगा न. सतपुड़ा राष्ट्रीय पार्क असंख्य दुर्लभ पक्षियों का घर है. यहां बिसन, टाइगर, तेन्दुए और चार सींग वाले हिरन जैसे जानवरों को देखा जा सकता है. यह पार्क सदाबहार साल, टीक और बांस के पेड़ों से भरपूर है. पार्क के आसपास ठहरने की उत्तम व्यवस्था है.


नोट: सतपुड़ा राष्ट्रीय उद्यान  में रुकने के लिए उद्यान के निदेशक से अनुमति लेना जरूरी है.


पंचमढी एक आदर्श पिकनिक स्पॉट है जहां आप मैट्रो की भागती जिन्दगी से परे प्रकृति को पास से निहार सकते हैं और वह भी कम खर्चे में. तो अगली बार शिमला, मसूरी जाने से बेहतर होगा मध्य प्रदेश की हवा ले कर आएं.

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें: http://jagranyatra.com/

Join us on : FACEBOOK

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *