Menu
blogid : 7629 postid : 1110615

इधर खून बहता गया उधर लोग एक टक देखते रहे

बीते 24 अक्टूबर को दुनिया भर में मुहर्रम मनाया गया. प्रत्येक वर्ष हजरत इमाम हुसैन की शहादत के लिए इसे याद किया जाता है. कई लोग इसे त्योहार समझते हैं लेकिन यह एक मातम का दिन है. ज्ञात हो कि इमाम हुसैन अल्लाह के रसूल (मैसेंजर) पैगंबर मोहम्मद के नाती थे. मुहर्रम एक महीना है, जिसमें शिया मुस्लिम दस दिन तक इमाम हुसैन की याद में शोक मनाते हैं. ‘कत्ल की रात’ शहर के सभी मुहल्ले की ताजिया एकत्र होती है. अगले दिन पुरे शहर, टोले-मुहल्ले में ढ़ोल- नगाड़ों के साथ मातम मनाया जाता है.


jagran 2


दुनिया भर में मनाना जाने वाला यह मातम कई बार अपने हिंसक रूपों के लिए चर्चा में आ जाता है. जुलूस के दौरान युवक अस्त्र-सस्त्र से अपने हुनर का परिचय देते हैं. निसंदेह यह प्रदर्शन बेहत खतरनाक होता है. बीते 24 अक्टूबर को मुहर्रम के दौरान कई ऐसी तस्वीरें सामने आई जिसे देखकर आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे.


Read: मस्जिद में इस अभिनेत्री ने टखना क्या दिखाया हो गया विवाद



यह तस्वीर दिल्ली की है. इसमें दो बच्चें धारदार ब्लेड के पट्टे से अपनी पीठ पर लगातार वार कर रहे हैं. भले ही इन बच्चों को मुहर्रम के उद्देश्य पता न हो, परन्तु इनकी निष्ठा और अपने बड़ों का अनुकरण देखने लायक है.



jagran 11

यह तस्वीर लेबनान की है. जहां यह नौजवान मुहर्रम के मातम एवं शोक में अपने आपको घायल कर रहा है. युवक की पीठ तपती गर्मी में पसीने और लहू से तर-बतर हो गई है.


jagran 3

यह तस्वीर ग्रीस की है. यह व्यस्क अपने नंगे पीठ को धारदार ब्लेड के पट्टों से जख्मी कर रहा है. ब्लेड के पट्टों में लगा खून देखकर ऐसा लग रहा है कि पीठ बुरी तरह से जख्मी हो गया है.



jagran 6


Read: ऐसी मस्जिद जहां समलैंगिक भी प्रवेश कर सकें


यह तस्वीर पाकिस्तान के कराची शहर की है. तस्वीर में युवक के दुःख और दर्द को बहुत ही खूबसूरती के साथ फोटो के जरिए दिखाया गया है.


jagran 51

Next…


Read more:

शिव भक्तों के लिए काँवड़ बनाता है ये मुसलमान

रंगीन दुनिया की इस काली हकीकत को जिसने भी जाना उसके होश उड़ गए, जानिए ऐसा क्या करती हैं ये हसीनाएं

ये हैं वो बॉलीवुड अदाकारा जो शादी से पहले हुई गर्भवती और फिर कर ली गुपचुप शादी


Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *