Menu
blogid : 7629 postid : 628653

वह मरा हुआ लेकिन जिंदा इंसान है

Court Ruled The Man Legally Deadउसकी सांसें चल रही हैं लेकिन वह फिर भी मरा हुआ है. वह जिंदा इंसानों में अजीब किस्म का इंसान है. ऐसा इंसान शायद ही पहले कभी आपने देखा होगा. दुनिया समझ नहीं पाती कि उसे जिंदा समझे या मरा हुआ और वह मरने के बाद आज भी चीख-चीखकर कह रहा है कि मैं जिंदा हूं. ऐसा कैसे हो सकता है कि कोई इंसान मरने के बाद भी जिंदा रहे?…इस दुनिया में तो कभी ऐसा नहीं देखा..आखिर वह किस लोक का प्राणी है….


यह कहानी है उस इंसान की जो आज भी जिंद है लेकिन देश, समाज और कानून उसे मरा हुआ हुआ मान चुका है. वह जिंद इंसानों की तरह रहना चाहता है लेकिन न कानून उसे जिंदा इंसानों की सुविधाएं देने को तैयार है न उसकी पत्नी और परिवार. बेचारा जिंदा होकर भी सबके लिए भूत से कम नहीं और सबके बीच इस तरह रहना उसके लिए किसी सजा से कम नहीं.


ओहियो के डोनाल्ड यूगेन मिलर के लिए तब एक बड़ी अजीब समस्या पैदा हो गई जब कोर्ट ने उसे जिंदा मानने से इनकार कर दिया. डोनाल्ड की पत्नी ने भी कोर्ट से अपील की कि डोनाल्ड को कानूनन जिंदा न माना जाए. दरअसल 1994 में डोनाल्ड रहस्यमय तरीके से अचानक गायब हो गए थे. न उनकी पत्नी, न किसी और को उनके बारे में कुछ पता था. 8 वर्षों तक वापस न आने पर पत्नी ने कोर्ट से अपील की थी कि डोनाल्ड को कानूनन मृत घोषित किया जाए ताकि मृतक के परिवार को मिलने वाले सोशल सिक्योरिटी लाभ उसे और उसकी दो बेटियों को मिल सकें. कोर्ट ने इसे मानते हुए डोनाल्ड को मृत घोषित कर दिया. लेकिन अब जब डोनाल्ड वापस आया तो उसे अपने कानूनन मृत होने की स्थिति का पता चला.

Reading: यह खूबसूरत कल्पना किसके हिस्से आएगी


Court Ruled The Man Legally Deadडोनाल्ड के लिए सबसे अजीब स्थिति तब हो गई जब मृतक व्यक्ति की सोशल सेक्यूरिटी नंबर रद्द हो जाने के कारण वह कोई काम नहीं कर सकता था. यहां तक कि ड्राइविंग लाइसेंस भी इस नंबर के बिना वह नहीं बनवा सकता था और मृत व्यक्ति को वह सोशल सिक्योरिटी नंबर नहीं दिया जा सकता था. इस तरह जिंदा होते हुए भी कानूनन मरा हुआ माने जाने वाले डोनाल्ड ने कोर्ट से अपने जिंदा होने की पुष्टि करने की अपील की. लेकिन तब डोनाल्ड की पत्नी ने इसके खिलाफ अदालत में गुहार लगा दी क्योंकि इससे सरकार की ओर से मृतक के परिवार को मिलने वाला सोशल सिक्योरिटी लाभ उसे मिलना बंद हो जाता.


डोनाल्ड अपनी नौकरी की खराब स्थिति से परेशान होकर 1986 में बिना किसी को बताए फ्लोरिडा चला गया था. 1994 में उसे मृत घोषित किया गया और 2005 में वह वापस आया. तब तक बहुत कुछ बदल चुका था. उसकी पत्नी तब तक 25000 डॉलर सरकार से ले चुकी थी. डोनाल्ड को कानूनन जिंदा घोषित किए जाने के बाद सरकार उससे यह राशि वापस मांग सकती थी. डोनाल्ड की पत्नी का कहना है कि वह इतनी बड़ी राशि वापस कर सकने की अर्थिक स्थिति में नहीं है. इसके अलावा उसका यह भी कहना था कि इस तरह गायब होकर डोनाल्ड ने भावनात्मक रूप से उसे उसकी दो बेटियों को वर्षों तक मानसिक यातना दी है और इसके लिए सजा के तौर भी उसे कानूनन जिंदा घोषित नहीं किया जाना चाहिए. इस तरह एक कानून ने डोनाल्ड की अपील ठुकराकर उसकी पत्नी की अपील स्वीकार कर ली और डोनाल्ड जिंदा होते हुए भी आज भी अजीब सी कानूनी स्थिति का सामना कर रहा है..और मरा हुआ है.

आदमी की दाढी में नूडल और कोल्ड ड्रिंक

मौत से छीनकर अपनी जिंदगी दुबारा वापस लाई

खजाना लाइव: फिर शुरू हुई टीआरपी की मारामारी

Unbelievable Human Alive After Death

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *