Menu
blogid : 7629 postid : 825960

जाने-अनजाने नए साल की शुरूआत में यह जरूर किया होगा आपने

नए साल का पहला दिन भले ही बीत गया हो पर हम शर्तिया कह सकते हैं कि नए साल का खुमार आप पर उतरा नहीं होगा और आने वाले कुछ दिन तक आप पर यूं ही चढ़ा रहेगा. फिलहाल तो हम सब का उत्साह सातवें आसमान पर है और नए साल में कुछ नया करने की ख्वाहिश आप में भी जरूर होगी. पर इस ख्वाहिश के बावजूद कुछ काम ऐसे हैं जो हम हर साल की शुरूआत में करते हैं और इन्हें करने का हमारा अंदाज भी कभी नहीं बदलता. आईए जानते हैं कौन से हैं वे काम जो जाने अनजाने हमने इस नए साल में भी जरूर किया है…


new year



1) 31 दिसंबर की रात तक सभी जानने वालों को एसएमएस– हालांकि अब वट्सएप और फेसबुक का जमाना आ गया है पर अभी भी कई लोग ऐसे हैं जो नए साल का बधाई संदेश एसएमएस के जरिए ही देना पसंद करते हैं. बधाई संदेश भेजने की यह तैयारी कुछ दिन पहले ही कर ली जाती हैं. मोबाइल में एसएमएस पैक डलवाते हैं और फालतू एसएमएस करने से बचते हैं. पर दिक्कत यह है कि 1 जनवरी को कंपनियां एसएमएस का नार्मल रेट चार्ज करती हैं इसलिए हमारी कोशिश रहती है कि 31 दिसंबर को रात 12 बजने से पहले सभी जानने वाले को शुभ संदेश भेज दिया जाए पर इसके बावजूद भी कोई छूट जाता है तो देर से भधाई संदेश भेजने का दिन 2 जनवरी होगी.


Read: कहीं इस साल भी अधूरा न रह जाए आपका रिजॉल्यूशन…


2) पार्टी की तस्वीरें सोशल मीडिया पर पोस्ट करेंगे- अब नया साल है तो एक जबरदस्त पार्टी तो बनती ही है. पार्टी होगी तो सेल्फी और ग्रुपी को दौर भी चलेगा पर यह फोटो हम खुद देखकर खुश होने के लिए थोड़े खिंचवाते हैं. हम अपनी पार्टी की फोटो से फेसबुक और ट्विटर आदी सोशल मीडिया को पाट देंगे और हममे से कुछ अति उत्साही मित्र अपनी फोटो में अपने फ्रेड लिस्ट में मौजूद तमाम मित्रगण को टैग दे मारेंगे. अब ये मित्रगण पूरे हफ्ते फेसबुक के नोटीफिकेशन से तंग हों तो होते रहें कम से कम एक बार कमेंट में हैप्पी न्यू इयर तो जरूर लिखेंगे ना!


Celebrations-on-New-Year’s-Eve



3) पुरानी संकल्प फिर दोहराए जाएंगे- हर साल की शुरूआत में हम कुछ कसमें ऐसी खाते हैं जिन्हें हम कभी नहीं पुरा करते. जैसे इस साल से रेगुलर कसरत करेंगे, फेसबुक पर कम समय देंगे, पढ़ाई के लिए अतिरिक्त समय निकालेंगे वगैरा-वगैरा. पर साल के पहले ही दिन आखिरी रात की पार्टी की वजह से सुबह जल्दी नहीं उठ पाते. जब जल्दि नहीं उठते तो व्ययाम भी नहीं करते. भाई पार्टी की फोटो फेसबुक पर तो डालनी ही है. फोटो डाली है तो लाईक कमेंट भी चेक करेंगे. पहली जनवरी को औसत से अधिक फेसबुक पर समय जाया कर दिया. कोई बात नहीं नए साल की यह सारी कसमें अगले साल के लिए बचा लेते हैं कौन हर साल नई-नई कसमें खाने की जहमत उठाए.


4)  नए कलेंडर– नया साल आ गया तो घर में नया कलेंडर तो लगना ही चाहिए पर ये कलेंडर आते कंहा से हैं. एक आध कलेंडर हमने बाजार से खरीदा होगा जो अक्सर पंचांग होता है. पर घर के अन्य कमरों के लिए अपनी पसंदिदा दुकान या व्यवसायिक संस्थान द्वारा दिए गए कलेंडर हम खुशी-खुशी स्वीकार करते हैं और बड़े उत्साह से इन कलेंडरों को कमरे के उस हिस्से में टांगते हैं जहां अक्सर हमारी निगाह जाती है.


rashifal


5) राशिफल– साल की शुरूआत में अक्सर लोग वार्षिक राशिफल जरूर पढ़ते हैं. राशिफल कुल मिलाकर सबका ही अच्छा होता है और अपने भविष्य के बारे में अच्छा पढ़कर अच्छा महसूस होना स्वभाविक है.


Read: नए साल पर सुबह उठकर ऐसे करें भगवान को याद… अच्छा बितेगा पूरा साल


6) मंदिर जाएंगे- हम भगवान से कहेंगे कि भले ही हम साल भर कभी मंदिर का मुख तक नहीं देखते पर आज तो आएं हैं न. भले ही मां की जबरदस्ती के कारण पर आ ही गए तो हमारी भी अरज सुन लिजिए. हमसे न यह न्यू इयर रेजोल्युशन पूरे नहीं होते आपका हस्तक्षेप जरूरी है. प्लीज भगवान. इस न्यू इयर    को हमारे लिए हैप्पी बना दिजिए. प्लीज, प्लीज, प्लीज! Next…

Read more:

सोचिए कितना मजा आएगा अगर नए साल से हट जाए इन चीजों पर से टैक्स

2014 के सबसे मज़ेदार सेलिब्रेटीज़ जोक्स

गर्भ में पल रहे बच्चे की ये कैसी ‘सेल्फी’ ले रही हैं महिलाएं

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *