Menu
blogid : 7629 postid : 1113147

प्लेन क्रैश में सभी यात्रियों की हुई मौत, मलबे में यह बच्चा निकला जिंदा

‘जाको राखे साईयां मार सके न कोई’ किसी ने सही ही कहा है भगवान की कृपा जिस भी व्यक्ति पर रहती है उसका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता. यहां तक की बड़ी से बड़ी दुर्घटना भी, भगवान के उस बंदे के आगे खेल ही साबित होती है. ऐसा ही मामला देखने को मिला, दक्षिण सूडान में जहां प्लेन क्रैश होने के बाद मलबे के ढेर में से एक छोटे से बच्चे को बचाया गया. हैरानी की बात ये है कि प्लेन में सवार कुल 42 लोगों में से 41 लोग प्लेन क्रैश होते ही मौत के मुंह में चले गए जबकि ये बच्ची मलबे के ढेर के पास रोती हुए पाई गई. इस बच्ची के अलावा एक घायल व्यक्ति को भी अस्पताल में भर्ती करवाया गया था.


download (1)


Read : देश की इस पहली महिला का कागज के प्लेन से लड़ाकू विमान तक का सफर


जहां कुछ घंटों तक जिंदगी और मौत से जूझने के बाद उसने दम तोड़ दिया. रूसी एयरक्राफ्ट अंटोनोव 12 उड़ान के कुछ देर के बाद ही असंतुलित हो गया. जिसके बाद सफेद नील नदी के पास इसका मलबा पाया गया. प्लेन के मलबे को देखकर ये अंदाजा लगाया गया कि किसी तकनीकी खराबी के चलते प्लेन क्रैश हो गया है. इस जगह से राजधानी जुबा एयरपोर्ट महज कुछ दूरी पर था. आसपास रह रहे लोगों ने प्लेन के क्रैश होने का नजारा खुद अपनी आंखों से देखा. प्लेन को पूरी तरह जलता देख लोग उससे बचने के लिए दूर भागने लगे.


Read : सबूत कहते हैं कि एमएच370 एलियन के कब्जे में हो सकता है, लेकिन कैसे?


कुछ घंटों के बाद आग बूझने पर लोग मलबे के पास इकट्ठे होना शुरू हो गए. स्थानीय लोगों का कहना है कि उन्होंने मलबे के ढेर से बच्चे की रोने की आवाज सुनी तो वो चारों ओर बच्चे को तलाशने लगे. तभी कुछ दूरी पर उन्हें बच्चा दिखाई दिया. उसको उठाकर उन्होंने स्थानीय पुलिस को फोन किया. जिसके बाद बच्चे को तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया…Next


Read more :

विमान उड़ाने के लिए रावण ने यहां बनवाए थे हवाई अड्डे…वैज्ञानिकों ने खोज निकाला

दुश्मन जासूस को नहीं लगेगी कानो–कान खबर, यह तकनीक युद्ध भूमि में सैनिकों के लिए बेहद मददगार साबित हो सकती है

बंद कमरे में अपने प्रेमी से इश्क फरमाने के लिए मां ने कुछ ऐसा किया जिसकी किसी ने कल्पना नहीं की थी


Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *