Menu
blogid : 7629 postid : 1311891

भारत की सबसे मंहगी पेटिंग जिसकी कीमत का आप अंदाजा भी नहीं लगा सकते

‘भूख से बैचेन उस बच्चे की तस्वीर करोड़ों रुपयों में बिक गई, लेकिन चदं सिक्कों से खरीदकर किसी ने उसे रोटी नहीं दी’.

तस्वीरों की दुनिया जो कि सच्चाई को बयां करती है कुछ ऐसी ही कहानी है. कभी-कभी तो ऐसा होता है कि तस्वीर से ज्यादा चित्रकार मशहूर हो जाता है और कोई पेंटिंग करोड़ों में महज इसलिए बिक जाती है क्योंकि वो किसी मशहूर चित्रकार ने बनाई है. ऐसी ही एक तस्वीर है जिसे भारत की अब तक की सबसे मंहगी पेटिंग माना जा रहा है. प्रसिद्ध पेंटर वासुदेव एस गायतोंडे की एक कैनवस ऑयल पेंटिंग 1965 के बाद सबसे महंगी बिकने वाली भारतीय पेंटिंग है.


painting 3


उनकी पेंटिंग 44, 15,008 डॉलर यानी 29.3 करोड़ रुपये में बिकी है. कंपनी ने अनुसार, सभी पांच सौ आर्टवर्क्स की सामूहिक कीमत 36.79 करोड़ डॉलर यानी 1936.6 करोड़ रुपये है. गायतोंडे के अलावा इस प्रतियोगिता में 32 कलाकारों के आर्टवर्क्स को शामिल किया गया था, जिसमें पेंटर सैयद हैदर रजा की सर्वाधिक 77 पेंटिंग को इस सूची में स्थान मिला है. कला जगत के लोगों का कहना है कि इस तरह की प्रदर्शनियों से उभरते हुए चित्रकारों को काफी प्रोत्साहन मिलता है. बीते दशकों में चित्रकारी की दुनिया को एक नई पहचान मिली है.



story 2

कभी चित्रकारी की दुनिया को केवल कला और साहित्य तक ही सीमित रखा जाता था. इसे प्रोफेशन के तौर पर 19 सदी के आसपास शुरू किया गया. अमृता शेरगिल की सेल्फ़ पोट्रेट ने सबका दिल लुभाने का काम किया है. खूबसूरती और प्रकृति के मिश्रण ने इस तस्वीर में चार चांद लगा दिए हैं. इसकी कीमत 17.2 करोड़ रुपये है. यानि कुछ हाथ ऐसे भी होते हैं जिनकी कीमत करोड़ों में होती है. इन चित्रकारों की बेहतरीन चित्रकारी से तो यही लगता है…Next


Read More :

7 साल के बच्चे ने मरने से पहले 25000 पेंटिंग बनाई, विश्वास करेंगे आप?

भारतीय नोट पर लगे महात्मा गांधी के फोटो की यह है सच्चाई

वास्तुशास्त्र: भूलकर भी इन 6 तस्वीरों को ना रखें घर में, आती है गरीबी और दुर्भाग्य

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *