Menu
blogid : 319 postid : 1230294

आमिर की इस फिल्म में रिजेक्ट हुए थे अक्षय, जानें फिर कैसे बनें ‘खिलाड़ी’

बॉलीवुड के खिलाड़ी अक्षय कुमार का असली नाम राजीव हरिओम भाटिया है. अक्षय आज भले ही सुपरस्टार के तौर पर जानें जाते हैं लेकिन एक दौर ऐसा भी था जब उन्हें साइड रोल में भी नहीं रखा जाता था. आइए जानते हैं एक खिलाड़ी की संघर्ष भरी कहानी.


बैंकॉक तक का सफर


akshay-kumar-


भारत में ताइकक्वांडो में ब्लैक बेल्ट हासिल करने के बाद अक्षय ने थाईलैंड के बैंकॉक में मार्शल आर्ट्स की पढ़ाई की. अक्षय कुमार ने कभी किसी काम को छोटा या बड़ा नहीं समझा. मार्शल आर्ट सीखने के लिए जब वे बैंकॉक गए तो वहां पर शेफ और वेटर का काम किया तथा बच्चों को मार्शल आर्ट भी सीखाया.


कैसे चुना मॉडलिंग को कॅरियर


akshay1


जब अक्षय मुंबई आकर बच्चों को मार्शल आर्ट सीखा रहे थे, उसी दौरान उनके एक स्टूडेंट के पिता ने उन्हें मॉडलिंग करने की सलाह दी. अक्षय ने उनकी बात को गंभीरता से लिया और जल्द ही मशहूर फोटोग्राफर जयेश सेठ को असिस्ट करने लगे ताकि उनका प्रोटफोलिओ मुफ्त में बन सके. उस दौरान उनके पास कई सारे ऑफर थे.


गोविंदा ने देखी थी अक्षय में सुपरस्टार की झलक


aky govinda



जयेश सेठ के लिए काम करने वाले अक्षय काम के दौरान वो गोविंदा की कुछ फोटोज उन्हें देने गए. उस वक्त गोविंदा अक्षय को देखकर कहा कि तू हीरो क्यों नहीं बनता. ये सुनकर अक्षय के दिल में ये बात घर कर गई कि वो भी हीरो बन सकते हैं. उन्होंने एक्टिंग का कोर्स भी किया, जिसके बाद उन्हें एक फिल्म ‘आज’ का ऑफर मिला, जब फिल्म रिलीज हुई तो पता चला कि उनका रोल सिर्फ 7 सेकेंड का था. इस फिल्म के हीरो का नाम था अक्षय. उसी वक्त राजीव भाटिया यानी अक्षय ने अपना नाम बदलकर उस फिल्म के हीरो के नाम पर रख लिया.


कभी ये सितारे चलाते थे सेकेंड हैंड कार, आज है इनके पास दुनिया की महंगी कार



किस्मत ने दिलाया पहला मौका



saugandh



नटराज स्टूडियो के बाहर एक मेकअप मैन नरेंद्र की नजर अक्षय पर पड़ी और उन्होंने तुरंंत अक्षय को प्रोड्यूसर के सामने पेश कर दिया. उनकी तस्वीर को देख प्रमोद चक्रवर्ती ने फिल्म ‘दीदार’ के लिए साइन किया. हालांंकि यह फिल्म 1992 में रिलीज हुई और उसके पहले हीरो के तौर पर अक्षय की पहली फिल्म ‘सौगंध’ थी जो पर्दे पर 1991 में आई थी. ये फिल्म कुछ खास नहीं कर पाई.


1992 में इस रोल के लिए हुए रिजेक्ट फिर भी बने खिलाड़ी



aky rejrct role



1992 में अब्बास मस्तान ने अक्षय को लेकर एक एक्शन फिल्म बनाई जिसका नाम ‘खिलाड़ी’ रखा. इस फिल्म ने रातों रात अक्षय को नया सितारा बना दिया. यह फिल्म अक्षय की पहली सुपरहिट फिल्म साबित हुई. उस दौरान अक्षय को हिट फिल्म ‘जो जीता वही सिंकदर’ में लिया जाना था जिसमें आमिर खान भी थे. लेकिन उनकी जगह दीपक तिजोरी को चुना गया. वैसे फिल्म ‘खिलाड़ी’ में भी अक्षय के साथ दीपक ने काम किया था.


कैसे बने सबसे बड़े खिलाड़ी


Akshay1



इन फिल्मों ने दिलाया खिलाड़ी का दर्जा. ‘मैं खिलाड़ी तू अनाड़ी’ (1994), सबसे बड़ा खिलाड़ी (1995), खिलाड़ियों का खिलाड़ी (1996), मिस्टर और मिसेस खिलाड़ी (1997) और इंटरनेशनल खिलाड़ी (1999) जैसी फिल्मों में अक्षय के काम को पसंद किया गया…Next


Read More:

रवीना की यह गलती पड़ गई भारी, नहीं बन सकी अक्षय की पत्नी

शूटिंग से फ्री होकर छुट्टी मनाने यहां जाते हैं बॉलीवुड सितारे

राजेश खन्ना, अमिताभ, शाहरूख समेत इन सितारों को ऐसे मिली अपनी पहली फिल्म

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *