Menu
blogid : 319 postid : 1398489

डेब्यू फिल्म नहीं चलने पर जूही चावला चली गई थीं साउथ फिल्मों में, आमिर खान के भाई ने कराई थी बॉलीवुड में वापसी

Rizwan Noor Khan

13 Nov, 2020

मिस इंडिया रहीं जूही चावला फिल्मों में अपनी चुलबुली हंसी और कॉमिक टाइमिंग के लिए सबसे ज्यादा मशहूर हुईं। जूही चावला की बॉलीवुड डेब्यू फिल्म उम्मीदों पर खरी नहीं उतरी और बॉक्स आफिस पर बड़ा कमाल नहीं कर सकी तो उन्होंने साउथ फिल्मों और छोटे पर्दे की ओर रुख कर लिया। आमिर खान के डायरेक्टर भाई ने जूही चावला की बॉलीवुड में वापसी कराई और उनकी अभिनय क्षमता को दर्शकों के सामने रख दिया। जूही के बॉलीवुड करियर की दूसरी फिल्म ने उनको स्टार बना दिया।

मिस इंडिया चुनी गईं और ​बॉलीवुड में एंट्री
हरियाणा के अंबाला शहर में 13 नवंबर 1967 को जन्मी जूही चावला के पिता राजस्व अधिकारी थे। जूही चावला शुरुआत से ही मॉडलिंग और ब्यूटी कांटेस्ट में हिस्सा लेने की चाहत रखती थीं जो बाद में पूरी भी हुई। 1984 में जूही चावला मिस इंडिया चुनी गईं और इसी साल मिस यूनीवर्स कांटेस्ट में वह बेस्ट कास्ट्यूम अवॉर्ड के लिए चुनी गईं।

मल्टीस्टारर ​फिल्म से बॉलीवुड में डेब्यू
मिस इंडिया बनने के बाद उन्हें मॉ​डलिंग के धड़ाधड़ आफर मिल रहे थे, लेकिन जूही ने फिल्मों में कदम जमाने का फैसला किया। 1986 में जूही चावला को एस मुकुल आनंद के डायरेक्शन में बनी मल्टीस्टारर फिल्म सल्तनत से डेब्यू करने का मौका मिला। धर्मेंद्र, श्रीदेवी, सनीदेओल और अमरीश पुरी की इस फिल्म को दर्शकों का भरपूर प्यार नहीं मिला। क्रिटिक्स ने फिल्म को बॉक्स आफिस पर असफल बताया।

एक के बाद एक साउथ फिल्में साइन कीं
जूही चावला की मल्टीस्टारर डेब्यू फिल्म के कमाल नहीं करने पर उन्होंने साउथ फिल्मों की ओर रुख कर लिया। जूही चावला को साउथ फिल्मों के मशहूर फिल्म एक्टर और डायरेक्टर रविचंद्रन ने 1987 में आई ​कन्नड़ फिल्म प्रेमलोक में जूही को मौका दिया। फिल्म में खुद रविचंद्रन ने मुख्य भूमिका निभाई। तमिल भाषा में भी डब हुई फिल्म को सराहना मिली और जूही चावला के अभिनय को दर्शकों ने पसंद किया। इसके बाद जूही ने 5 साउथ ​की फिल्में साइन कीं और 1 बंगाली फिल्म भी साइन कर ली। जूही के करीबी लोग मानने लगे थे कि शायद जूही हिंदी फिल्मों की ओर रुख नहीं करेंगी।

मंसूर खान ने बॉलीवुड में कराई वापसी
साउथ फिल्मों में मन जमाने की कोशिशों में जुटीं जूही चावला की मुलाकात आमिर खान के कजिन ब्रदर मंसूर हुसैन खान से हुई। मंसूर उस वक्त अपनी फिल्म कयामत से कयामत तक की तैयारियों में जुटे हुए थे। मंसूर खान के मनाने पर जूही चावला उनकी फिल्म में काम करने के लिए तैयार हो गईं। 1988 में फिल्म कयामत से कयामत तक रिलीज हुई और इसने सफलता का बेंचमार्क स्थापित कर दिया। इस फिल्म ने जबरदस्त कमाई करने के साथ ही दर्शकों के बीच खूब पॉपुलैरिटी हासिल की।

बॉलीवुड की दूसरी फिल्म ने बना दिया स्टार
कयामत से कयामत तक की सफलता ने आमिर खान और जूही चावला को सुपरस्टार बना दिया। फिल्म उस वक्त की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म भी बन गई। यह फिल्म गोल्डन जुबली साबित हुई और 50 सप्ताह तक सिनेमाघरों से नहीं उतरी। इसके गाने सुपरहिट साबित हुए और आज भी लोग इसके गाने बड़े चाव से सुनते हैं। जूही चावला को बेस्ट एक्ट्रेस समेत फिल्म को नेशनल अवॉर्ड समेत 8 फिल्म अवॉर्ड हासिल हुए।

दो दशक तक सबसे सफल अभिनेत्री रहीं
फिल्म कयामत से कयामत तक रिलीज होने के बाद जूही चावला बॉलीवुड की स्थापित अभिनेत्री बन गईं। हालांकि, इससे पहले जूही चावला साउथ की 5 फिल्में और एक बंगाली फिल्म भी साइन कर चुकी थीं, जो 1988 से लेकर 1889 तक रिलीज हुईं। जूही चावला ने 1980 से 2000 तक बॉलीवुड की सबसे सफल अभिनेत्री रहीं। जूही चावला छोटे पर्दे पर भी खूब काम किया। दूरदर्शन पर प्रसारित धारावाहिक बहादुर शाह जफर को लोगों ने पसंद किया।

आईपीएल टीम की मालिकिन हैं जूही
​दर्जनों सुपरहिट फिल्में देने वाली जूही चावला ने अपने करियर के पीक पर 1995 में बिजनेसमैन जय मेहता से शादी कर ली। उनके दो बच्चे हैं। जूही चावला 2019 में आई फिल्म ‘एक लड़की को देखा तो ऐसा लगा’ में दिखाई दी थीं। जूही चावला आईपीएल की क्रिकेट टीम कोलकाता नाइट राइडर्स की मालिकिन भी हैं। वह आने वाली फिल्म ‘शर्माजी नमकीन’ में पर्दे पर दिखाई देंगी।….NEXT

 

Read More : पहली फिल्म के लिए कादर खान को मिले थे 1500 रुपये

अपनी 9 फिल्में देखे बिना दुनिया छोड़ गए ओमपुरी को लाइफ टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड

मिर्जापुर 2 रिलीज, अमेजन प्राइम वीडियो पर अभी देखिए

वो फिल्म जिसके बाद सनी देओल ने शाहरुख और यश चोपड़ा से बात करनी बंद कर दी

हेमा मालिनी बनना चाहती थीं देवदास की पारो पर बीच में बंद करनी पड़ी फिल्म

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *