Menu
blogid : 319 postid : 1383947

कुछ पैसों के लिए पार्टियों में गाते थे जगजीत, सिर्फ 30 रुपये में की थी शादी

जगजीत सिंह संगीत की दुनिया का ऐसा नाम हैं जिनकी कमी कोई पूरी नहीं कर सकता। उन्होंने कई फिल्मों में संगीत दिया, लेकिन बाद में गज़ल गायकी में ही रम गए। उन्होंने गज़ल को बिल्कुल अलग अंदाज में गाया, वो कागज की कस्ती, तुम इतना जो मुस्करा रहे हो, आहिस्ता-आहिस्ता जैसे तमाम गज़ल-गीत संगीत की दुनिया को जगजीत की अनमोल भेंट हैं। आइए जानते हैं जगजीत के जीवन से जुड़ी तमाम रोचक जानकारियां।


cover



बचपन से था फ़िल्में देखने का शौक


jagjit-singh



जगजीत सिंह की परवरिश मध्यमवर्गीय परिवार में हुई थी। बचपन में जगजीत सिंह बहुत शरारती थे और उन्हें फ़िल्में देखने का बहुत शौक था। घर से पैसे चुराकर फिल्में देखने जाते थे, कई बार पैसे ना होने पर पुराना टिकट दिखाकर गेटकीपर को चकमा दे देते थे। जगजीत के पिता चाहते थे कि वो पढ़-लिखकर आईएएस बने, एमए तक उन्होंने पढ़ाई भी की। लेकिन उन्होंने अपना करियर संगीत में बनाने की ठान ली।



पार्टियों में गाना गाया करते थे


Jagjit



गायकी में करियर बनाने के लिए सीधे मुंबई पहुंच गए, जगजीत को सिंगिंग में दिलचस्पी थी। उन्होंने बचपन में रियाज भी किया था, जगजीत सिंह जब मुंबई पहुंचे तो उनके पास काम नहीं था। शुरू-शुरू में वो पार्टियों में गाना गाया करते थे, इसके लिए उन्हें दो से ढाई सौ रुपये मिला करता था।



ऑल इंडिया रेडियो स्टेशन पर गाए गाने


jagjitt



जगजीत सिंह, मोहम्मद रफी को अपना आदर्श मानते थे। उन्होंने जालंधर (पंजाब) के ऑल इंडिया रेडियो स्टेशन में रफी के कई गाने गाए। बहुत कम लोग जानते हैं कि जगजीत को एक गुजराती फिल्म में एक्टिंग करने का ऑफर भी मिला था। लेकिन उन्होंने सिर्फ इसलिए फिल्म करने से मना कर दिया कि वो सिर्फ गाने गाना चाहते हैं। उन्होंने उस फिल्म में एक्टिंग तो नहीं कि लेकिन एक भजन जरूर गाया।



चित्रा के दूसरे पति हैं जगजीत



jagjit-chitra-2



बहुत कम लोगों को इस बात की जानकारी है कि जगजीत से शादी करने वाली चित्रा सिंह ने कभी जगजीत की गायकी को खारिज कर दिया था। चित्रा खुद भी बहुत बेहतरीन गायिका थीं, जगजीत को अपनी साथी गायिका चित्रा सिंह के साथ शादी करने के लिए काफी पापड़ बेलने पड़े। 1970 में चित्रा ने अपने पहले पति देबू से तलाक लिया और आखिरकार जगजीत ने चित्रा से शादी की, कहा जाता है कि दोनों को शादी करने में केवल 2 मिनट लगे और 30 रुपए का खर्चा आया था।


पहले भारतीय थे जिन्होंने डिजिटल एल्बम रिकॉर्ड किया


-jagjeet_singh


चित्रा और जगजीत की जोड़ी ने कई सारे म्यूजिक एल्बम किए, दोनों के एल्बम देशभर में काफी पॉपुलर हुए। बता दें जगजीत पहले भारतीय थे जिन्होंने 1987 में डिजिटल एल्बम रिकॉर्ड किया था। हालांकि बेटे के निधन के बाद चित्रा ने गायकी को लगभग बंद ही कर दिया। 2009 में उनकी बेटी मोनिका (जो उनकी और देबू की बेटी थीं) ने फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली। घर वालों का कहना था कि मोनिका काफी समय से डिप्रेशन में थीं।




पद्म भूषण से सम्मानित हैं जगजीत


Jagjit Singh 1



जगजीत के निधन के बाद भारत सरकार ने उनके नाम पर स्टांप जारी किया है। उनका निधन 10 अक्टूबर 2011 को हुआ था, उन्हें पद्म भूषण और साहित्य अकादमी से भी नवाजा गया है।…Next



Read More:

हॉलीवुड की ‘पद्मावत’ हैं ये 5 फिल्में, कई देशों में लगा है बैन

बॉलीवुड के वो 5 बड़े सितारे, जिन्‍हें आज तक नहीं मिला फिल्‍मफेयर का बेस्‍ट एक्‍टर अवॉर्ड

किसी ने 36 तो किसी ने 60, इन 5 बॉलीवुड एक्ट्रेस ने इस उम्र में की शादी

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *