Menu
blogid : 319 postid : 1393403

कभी मां और दादी के साथ शेफ विकास खन्ना बेचते थे पराठें, आज हैं सबसे हॉट शेफ

Shilpi Singh

14 Nov, 2018

बचपन में जब अधिकांश बच्चे किसी खेल में मशगूल थे, उस दौरान एक 6 साल का बच्चा मैदान से दूर किचन में अपने जुनून को तेज आंच में सेंक रहा था। ये कोई और नहीं है बल्कि अमृतसर के रहने वाले विकास खन्ना हैं, जिन्होंने अपने खाना बनाने के शौक को एक ठेले से दुनिया तक पहुंचाया। आज उनके जन्मदिन पर चलिए जानते हैं, शेफ विकास खन्ना की सफलता की एक ऐसी कहानी है, जिससे आप शायद अंजान होंगे।

 

 

 

पैरों की बनावट की वजह से होती से परेशानी

विकास खन्‍ना का जन्‍म 14 नवंबर 1971 को अमृतसर में हुआ था, आज वे दुनिया के जाने-पहचाने नाम बन चुके हैं। बहुत कम लोगों को पता है कि विकास खन्‍ना जब पैदा हुए तो वे विक्‍लांग थे, उनके पैरों की बनावट ठीक नहीं थी। यही वजह है कि वो घंटो मां-दादी के साथ रसोई में बैठे रहते, यहीं से खाना बनाने की शुरुआत हुई।

 

 

17 साल से करने लगे काम

विकास ने 17 साल की उम्र से ही काम करना शुरू कर दिया था, सबसे पहले विकास ने अपने घर के पीछे ही एक छोटा सा बैंक्विट हॉल खोला। लेकिन इस काम में उन्हें कुछ खास सफलता नहीं मिली। उन्होंने कई और बिजनेस शुरू किये, पर उसमें भी वह कामयाब नहीं रहे, लेकिन विकास के परिवार ने हमेशा उनका साथ दिया।

 

 

मां और दादी के साथ बेचते थे पराठें

विकास स्टार प्लस पर आने वाले शो ‘मास्टर शेफ’ को होस्ट करते आ रहे हैं। इस शो के दौरान उन्होंने बताया कि ‘बचपन में उनकी दादी अमृतसर की एक छोटी सी गली में पराठें बनाती थीं और वह अपनी मां के साथ उसे बेचा करते थे’।

 

 

कॉलेज इंटरव्यू में हुए फेल

विकास जब कॉलेज में दाखिले के लिए गए तो पहले दो राउंड में उन्हें निराशा हाथ लगी, लेकिन आखिरी राउंड में जब उनसे खाने को लेकर सवाल पूछा गया, तो उन्होंने बताया कि एक दिन वो एयर-कंडीशन रेस्टोरेंट खोलेंगे, जिससे फिर खुली छतों के नीचे खाना नहीं बनाना पड़ेगा। यह बात कहते हुए विकास बाहर आ गए, तभी कॉलेज के प्रिंसिपल पीछे से आए और उनके जुनून की तारीफ करते हुए उन्हें कॉलेज में दाखिला दिया।

 

 

अमेरिका की सड़कों पर गुजारी रात

विकास ने एक इंटरव्यू में बताया था कि जब वो अमेरिका गए वो दौर उनके लिए बेहद मुश्किल था। उन्होंने कई रातें सड़कों और स्टेशन पर सोकर बिताईं, इतना ही नहीं उन्हें कई बार बर्तन धोने जैसे काम भी करने पड़े।

 

 

यहां से मिला नया मौका

विकास को न्यूयॉर्क के एक रेस्टोरेंट ‘सलमान बॉम्बे’ में काम करने का मौका मिला। उसके बाद करीब 7 साल बाद उन्हें एक शो में आने का न्यौता मिला। वो पहले भारतीय थे, जो इस तरह प्राइम टाइम पर टीवी पर आ रहे थे। इस इंटरव्यू के बाद उन्हें राजेश भारद्वाज का फोन आया और दोनों ने मिलकर विकास के सपने ‘जुनून’ नाम के रेस्टोरेंट को न्यूयॉक में 2010 में खोला और आज ये अमेरिका का सबसे मशहूर रेस्टोरेंट है।

 

उत्सव किताब पीएम और अमेरिकी राष्ट्रपति को कर चुके हैं भेट

विकास ने 2015 में 1200 पन्नों की ‘उत्सव’ नाम की अपनी एक किताब लिखी, जिसमें भारत के त्यौहार के दौरान बनने वाले व्यंजनों के बारे में बताया है। विकास को इस किताब को लिखने में 12 साल लग गए। इस किताब की एक कॉपी उन्होंने 2015 में अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा को तोहफे में दी है। इसकी एक कॉपी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और हिलेरी क्लिंटन को भी भेंट की है, वो दोनों देशों के पीएम और राष्ट्रपति के लिए खाना भी बना चुके हैं।

 

 

पांच मिशलिन अवॉर्ड

अमेरिका में अपने शुरुआती दिनों में जिस विकास खन्ना ने कई रातें वहां की सड़कों और स्टेशनों पर सोकर गुजारी है आज उन्हीं के नाम पांच मिशलिन अवार्ड हैं। 2011 में ‘पीपल्स मैगजीन’ ने विकास को सबसे सेक्सी और अमेरिका का सबसे हॉट शेफ घोषित किया था।…Next

 

Read More:

कभी 10 हजार रुपए सैलरी की जॉब करती थी किरण राव, लगान के सेट पर हुआ था आमिर से प्यार

गोविंदा के साथ चला था नीलम का अफेयर, कर चुकी हैं दो शादियां

सालों बाद नवम्बर और दिसम्बर में आएंगी 5 बड़ी फिल्में, बॉक्स ऑफिस पर होगा धमाका

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *