Menu
blogid : 319 postid : 1359738

‘शोले’ की वो मौसी जो हिन्दी सिनेमा की चुलबुली मां थी, पति सिलते थे राजेश खन्ना के कपड़े

‘देख लेना गांव वालों… वेन आई डेथ पुलिस कमिंग, बुढ़िया चक्की पिसिंग एंड पिसिंग’

‘शोले’ फिल्म का ऐसा सीन, जिसे आज दशकों बाद देखने पर भी हंसी नहीं रूकती. धमेंद्र की बेहतरीन एक्टिंग ने इस सीन को और भी खास बना दिया था, लेकिन इस सीन में जिसे मनाने के लिए वीरू ने पूरा नाटक रचा, बसंती की वो मौसी, उनकी एक्टिंग को भी कम नहीं आंका जा सकता. हिंदी फिल्मों में मां का यादगार रोल करने वाली दीना पाठक, जो बॉलीवुड के कई नामी सितारों की रिश्तेदार थी, उनके बारे में बहुत कम लोग जानते हैं. 1981 में रिलीज हुई फिल्म ‘उमराव जान’ में दीना ने हुसैनी का किरदार निभाया था, जो कोठे पर लाई हुई लड़कियों के साथ रहकर उन्हें वहां के तौर-तरीके समझाती है. आइए, जानते हैं फिल्मों में कभी संजीदा तो कभी चुलबुली-सी मां का किरदार निभाने वाली दीना पाठक के बारे में.


sholay



पति सिला करते थे राजेश खन्ना-दिलीप कुमार के कपड़े

दीना की शादी बलदेव पाठक से शादी हुई थी. उनकी मुंबई में गेटवे ऑफ इंडिया पर ‘श्रीमान’ नाम की कपड़े सिलने की दुकान थी. वो राजेश खन्ना और दिलीप कुमार के कपड़े भी डिजाइन करते थे. काम इतना बेहतरीन और आत्मविश्वास से इतने भर हुए थे कि वो खुद को इंडिया का पहला डिजाइनर कहते थे. बाद में उनका कारोबार चलना बंद हो गया. दूसरी तरफ संयोग की बात है ये तब हुआ जब राजेश खन्ना की फिल्में भी चलनी बंद हो गई थी. घाटा इतना ज्यादा बढ़ गया कि किराए की दुकान हाथ से निकल गई और 52 साल की उम्र में उनकी मौत हो गई.

dina 1
'उमराव जान' फिल्म के एक सीन में दीना पाठक




1948 से शुरू किया था कॅरियर

दीना ने अपना कॅरियर गुजराती थियेटर से किया था. रंगमंच में कई नाटक करने के बाद दीना ने करियावर, उसकी कहानी, सारा आकाश, सत्याकाम जैसी फिल्मों से अपने कॅरियर की शुरूआत की. इसके बाद दीना ने गुलजार की फिल्म ‘मीरा’ (1979) में उन्होंने राजा बीरमदेव की रानी कुंवरबाई का रोल किया. जैसे उन्होंने केतन मेहता की ‘भवनी भवई’ (1980), ‘मिर्च मसाला’ (1987) और ‘होली’ (1984) में काम किया. सईद अख्तर मिर्जा के डायरेक्शन में बनी ‘मोहन जोशी हाजिर हो’ (1984) में दीना ने मोहन जोशी की पत्नी का रोल किया. उन्होंने गोविंद निहलानी की सीरीज ‘तमस’ (1988) में बंतो की भूमिका की.

dina 2



बॉलीवुड के नामी रिश्तेदार

दीना पाठक की दो बेटियां हैं. रत्ना पाठक और सुप्रिया पाठक. नसीरूद्दीन शाह रत्ना के पति हैं यानि दीना के दामाद, जबकि सुप्रिया पाठक ने अभिनेता पंकज कपूर से शादी की है.


dina



‘पिंजर’ थी आखिरी फिल्म

2003 में उर्मिला मातोंडकर और मनोज वाजपेयी अभिनीत ‘पिंजर’ फिल्म में दीना ने राशिद (मनोज वाजपेयी) की चाची का किरदार निभाया था. फिल्म रिलीज होने से पहले ही दीना पाठक 11 अक्टूबर 2002 को दुनिया को अलविदा कह गईं. …Next


Read More:

सलमान के साथ डेब्यू करके रातोंरात हिट हुई थी ये अभिनेत्री, योगा टीचर से हुई है शादी

हर फिक्र को धुएं में उड़ाने वाले देवानंद ने सुरैया के प्यार में की थी सुसाइड की कोशिश!

आलिया भट्ट के पिता से लेकर सैफ की पहली पत्नी तक, प्यार के लिए इन सितारों ने छोड़ा अपना धर्म

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *