Menu
blogid : 319 postid : 1395561

‘भुज: द प्राइड ऑफ इंडिया’ में अजय देवगन बनेंगे IAF विंग कमांडर, जानें किस भारतीय जवान पर आधारित है फिल्म

Shilpi Singh

20 Mar, 2019

बॉलीवुड में इन दिनों देशभक्ति फिल्में और बायोपिक्स का रंग चढ़ा हुआ है। जहां कल होली पर अक्षय कुमार पूरे देश को ‘केसरी’ रंग में डुबोने की तैयारी में हैं वहीं अब अजय देवगन ने भी अगले साल एक ऐसी बायोपिक लाने का फैसला कर लिया है जो देशभक्ति के रंग में रंगी हो, जी हां अब अजय देवगन ने देश के दुश्मनों पर एयरस्ट्राइक करने की ठान ली है। इस बायोपिक का नाम होगा ‘भुज द प्राइड ऑफ इंडिया’। 1971 में हुए भारत पाक युद्ध की दास्तां पर आधारित इस फिल्म में वह सेना के जवान विजय कर्णिक का किरदार निभाते नजर आएंगे।

 

 

 

फुटबॉल कोच सैय्यद अब्दुल का भी निभाएंगे किरदार

 

 

इन दिनों ‘टोटल धमाल’ की सक्सेस एंजॉय कर रहे अजय देवगन ने 2020 में अपने दर्शकों को एंटरटेनमेंट का डबल डोज देने के लिए कमर कस ली है। जहां पिछले दिनों अजय के फुटबॉल कोच सैय्यद अब्दुल रहीम की बायोपिक में नजर आने की खबर सामने आई थी वहीं अब अजय के एक और बायोपिक के साथ जुड़ने की जानकारी मिली है। यह बायोपिक इंडियन एयरफोर्स ऑफिसर विजय कार्णिक की है।

 

Bhuj The Pride of India में दिखेंगे अजय देवगन

 

 

ट्रेड एनालिस्ट तरण आर्दश ने यह धमाकेदार जानकारी अपनी सोशल मीडिया वॉल पर शेयर की है। तरण आदर्श ने लिखा ‘#BhujThePrideOfIndia में अजय देवगन। 1971 के भारत पाक युद्ध के दौरान भुज हवाई अड्डे के प्रभारी स्कॉडन लीडर विजय कार्णिक की भूमिका में। अभिषेक दुधई द्वारा निर्देशित. गिन्नी खानूजा, वज़ीर सिंह, भूषण कुमार द्वारा निर्मित, कृष्ण कुमार और अभिषेक दुधैया’।

 

स्कॉडन लीडर विजय कार्निक का किरदार मिभाएंगे

 

 

अजय देवगन स्कॉडन लीडर विजय कार्निक का किरदार निभाते हुए दर्शकों के सामने होंगे। कार्निक ने साल 1971 में हुए भारत पाक युद्ध के दौरान काफी अहम भूमिका निभाई थी। फिलहाल अजय अपनी आगामी फिल्म ‘दे दे प्यार दे’ और ‘तानाजी द अनसंग वॉरियर’ की शूटिंग में व्यस्त हैं। जिसके बाद वह फुटबॉल कोच सैय्यद अब्दुल रहीम की बायोपिक की शूटिंग शुरू करेंगे। अंदाजा लगाया जा सकता है कि इसी दौरान अजय इस फिल्म ‘भुज: द प्रइड ऑफ इंडिया’ की शूटिंग करेंगे।

 

कौन हैं स्काड्रन लीडर विजय कार्निक 

 

 

1971 में हुए भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान स्काड्रन लीडर विजय कार्निक को भुज एयरपोर्ट का इनचार्ज बनाया गया था। उन्होंने इस युद्ध के दौरान अहम भूमिका निभाई थी। कार्निक, उनकी टीम और गांव की महिलाओं की मदद से नष्ट हो चुकी एयरफोर्स एयरस्ट्रिप को बनाया था। ऐसा गुजरात के भुज एयरपोर्ट पर हुआ था। इसे भारत का ‘पर्ल हर्बर मूमेंट’ भी कहा जाता है।

 

प्रोड्यूसर भूषण कुमार फिल्म को लकेर खुश हैं

 

 

फिल्म के बारे में प्रोड्यूसर भूषण कुमार ने को बताया, यह साहसी कहानी आज की जनरेशन को पता होनी चाहिए क्योंकि अभी और आने वाली  जनरेशन को सिपाहियों की बहादुरता की कहान पता होनी चाहिए। स्काड्रन लीडर विजय कार्निक की भारत की 1971 का युद्ध जीताने में अहम भूमिका रही है। इस रोल को निभाने के लिए अजय देवगन से बेहतर कौन हो सकता है? फिलहाल हम अजय के साथ दे दे प्यार दे और तानाजी जैसी फिल्मों पर काम कर रहे हैं। हमे खुशी है कि वह इस फिल्म को भी हमारे साथ करने के लिए तैयार हैं।…Next

 

Read More:

सलमान से अजय तक, इन स्टार को आजतक नहीं मिला फिल्‍मफेयर का बेस्‍ट एक्‍टर अवॉर्ड

दूरदर्शन के एक सीरियल में काम करते थे राजपाल यादव, ट्रक से जाते थे स्कूल

जब आमिर खान की वजह से बाथरूम में रोई थी दिव्या भारती! सलमान ने ऐसे संभाला था

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *