Menu
blogid : 319 postid : 771432

क्या ‘पीके’ के पोस्टर में छिपा है आमिर का पर्फेक्शन ?

आमिर खान की आने वाली फिल्म ‘पीके’ के पोस्टर पर अलग-अलग प्रतिक्रियाएं देखने को मिल रही है. कई लोग आमिर के इस पोस्टर में एक साहसी अभिनेता की छवि देख रहे हैं जो अपनी कला की अभिव्यक्ति के लिए किसी भी हद तक जा सकता है तो कई लोगों को आमिर की यह अदा गैर जिम्मेदाराना और अश्लीलता फैलाने वाला लग रह है. एक तरफ पोस्टर दिखाए जाने के बाद देश के कई अदालतों में आमिर के खिलाफ मुक़दमा दायर कर दिया गया है तो दूसरी तरफ कई बुद्धिजीवी और संगठन आमिर के समर्थन में आ गए हैं. सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर इस पोस्टर को लेकर चर्चा गरम है. अचानक से आमिर और उनकी फिल्म फेसबुक और ट्विटर पर ट्रेंड करने लगी है. कह सकते हैं कि आमिर का यह पोस्टर अपने उद्देश्य में पूरी तरह सफल रहा है.


aamir


पोस्टर देखते ही यह बात समझ में आ गई थी की इस पोस्टर का एकमात्र उद्देश्य विवाद खड़ा करना है. गौरतलब है कि पीके के पोस्टर से फिल्म के कथावस्तु की कोई झलक नहीं मिलती. इसने सिर्फ अटकलबाजी के बाज़ार को गर्म करने का काम किया है. पर सवाल यह है कि आमिर खान को यह सब करने की क्या जरूरत पड़ी.


Read: कालस्वरूप शेषनाग के ऊपर क्यों विराजमान हैं सृष्टि के पालनहार भगवान विष्णु


amir 2


आमिर खान को मनोरंजन बाज़ार में मिस्टर परफेक्शनिस्ट कहा जाता है. लगान से लेकर धूम 3 तक उनकी शायद ही ऐसी कोई फिल्म है जिसने बॉक्स ऑफिस पर धमाल न मचाया हो. जाहिर सी बात है कि आमिर खान सिर्फ एक कलाकार नहीं है बल्कि एक ब्रांड है. मनोरंजन उद्द्योग का सैकड़ों करोड़ रुपए का कारोबार इस ब्रांड के भरोसे टिका है और आमिर को अपने हितधारकों का ख्याल है. यह आमिर का ब्रांड ही था कि सिनेमाई दृष्टि से औसत से कम दर्जे की होने के बावजूद उनकी आखिरी फिल्म धूम3 कमाई के कई सारे रिकॉर्ड ध्वस्त करने में सफल रही थी.


amir3


Read: एक अविश्वसनीय सच, मिलिए गर्भ धारण कर बच्चा पैदा करने वाले दुनिया के पहले पुरुष से


आमिर की मिस्टर परफेक्शनिस्ट की छवि बाज़ार ने गढ़ी है और वजह सिर्फ यह नहीं है कि वे एक उम्दा कलाकार हैं बल्कि वे अपने कला को बेचने में भी उतने ही पारंगत हैं. उन्हें पता है कि मार्केटिंग हो या जंग जीतता वही है जिसमे चौंका देने की कला होती है. यह पहली बार नहीं है कि आमिर के पोस्टर ने लोगों को चौंकाया है. लगान के भोले भाले भुवन के बाद सख्त और अनुशासित और विद्रोही सैनिक मंगल पाण्डेय, फिर फिल्म गजनी में उनके सिक्स पैक एब और बालों के लुक तथा थ्री इडियट में दुबले पतले कॉलेज गोइंग स्टूडेंट की छवि ने लोगों को अचंभित कर दिया. आमिर अच्छी तरह जानते हैं कि वे क्या कर रहे हैं और किसके लिए कर रहे हैं इसलिए जो लोग उन्हें गैरजिम्मेदार बता रहे हैं उन्हें नासमझ ही समझा जाएगा.


Read more:

सस्पेंस के दीवाने आमिर खान

आमिर भी सचिन के संन्यास को भुनाने में लगे

अमरीकी पत्रिका टाइम ने कहा ‘सत्यमेव जयते’


Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *