Menu
blogid : 3738 postid : 638549

जब शाहरुख एक आम शख्सियत थे

Special Days

  • 1020 Posts
  • 2122 Comments

आज जब हम बॉलीवुड में शाहरुख खान को देखते हैं तो उनके लुक, स्टाइल और सेंस ऑफ ह्यूमर के दीवाने हो जाते है. तब हम यही सोचते हैं कि काश शाहरुख की तरह हम भी होते या फिर शाहरुख जैसा हमारा भी कोई बॉयफ्रेंड होता. आज हम जिस शाहरुख को देखते हैं वह पहले ऐसे नहीं थे उनकी जिन्दगी बहुत ही संघर्षों में गुजरी है.


shahrukh khan 1102 नवंबर, 1965 को दिल्ली में जन्में शाहरुख के पिता तेज मोहम्मद खान भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के एक सिपाही थे. उनकी मां लतीफ फातीमा थीं. वह पेशावर के रहने वाले पठान परिवार से संबंध रखते थे. माना जाता है शाहरुख के पूर्वज अफगानिस्तान से भारत आए थे. आजादी के बाद बंटवारे में शाहरुख खान के पिता दिल्ली आ गए.


Read: दीपावली केवल पर्व नहीं बल्कि एक संस्कृति और परंपरा है


शाहरुख खान का जन्म दिल्ली में हुआ. उनकी बड़ी बहन का नाम शहनाज है. दिल्ली के राजेन्द्र नगर पले बढ़े शाहरुख अपने पिता को आदर्श मानते हैं. उन्हें अपने पिता पर हमेशा से ही नाज रहा है. वह छह फुट लंबे हैंडसम पठान थे. एक बार जब शाहरुख छोटे थे तब उनके पिता उन्हें फिल्म दिखाने ले गए. उस समय शाहरुख के पिता के पास पैसे नहीं थे. उन्होने शाहरुख को फिल्म दिखाने की बजाय दिल्ली के कमानी ऑडिटोरियम के सामने बने चौराहे के पास ले गए. वहां उन्होने शाहरुख को मूंगफली पकड़ाया और पंजाबी लहजे में बोले, ‘यारां, यहीं बैठेंगे और गाड़ियों को आते-जाते देखेंगे’.


Read: क्या सच में विराट ‘सचिन’ हो सकते हैं ?


शाहरुख जब 15 साल के हुए तब उनके पिता की मौत हो गई. उनके पिता को लीवर कैंसर था. पिता की मृत्यु के बाद शाहरुख की मां ने अपने बच्चों को अच्छी परवरिश देने का लक्ष्य बनाया. उन्होंने शाहरुख को पढ़ा लिखा और सभ्य नागरिक बनाने में कोई कमी नहीं की. उनकी मां ने न केवल उन्हें एक व्यवहारिक इंसान बनाया बल्कि मेहनत से कैसे पैसा कमाया जा सकता इसकी भी सीख दी.


शाहरुख खान ने सेंट कोलम्बस स्कूल से अपनी पढ़ाई पूरी की. स्कूल के दौरान ही उन्होंने अभिनय में हिस्सा लेना शुरू कर दिया था. वह अपने स्कूल के होनहार छात्रों में से एक थे. स्कूल के बाद उन्होंने दिल्ली के हंसराज कॉलेज से अर्थशास्त्र में स्नातक की पढ़ाई की और फिर जामिया मिलिया यूनिवर्सिटी से मास कॉम्यूनिकेशन में मास्टर्स की डिग्री हासिल की.


पढ़ाई पूरी करने के बाद शाहरुख मुंबई चले आए. शुरुआत में उन्हें फिल्मों में अपने आप को स्थापित करने के लिए संघर्ष करना पड़ा. उस समय वह स्टार और स्टारडम से कोशों दूर थे. उन्हें यह भी नहीं पता था कि एक एक्टर को अपने हुस्से को किस तरह से नियंत्रण में रखना चाहिए. एक बार एक मैगजीन ने यह छाप दिया कि शाहरुख खान का फिल्म की अभिनेत्री के साथ संबंध हैं. इस झूठ पर शाहरुख को बहुत ही गुस्सा आया. वह सीधे ही मैगजीन के दफ्तर चले गए. वहां काफी मारपीट हुई और उन्हें जेल भी जाना पड़ा. बाद में नाना-पाटेकर ने जमानत देकर उन्हे छुड़वाया.


Read More:

शाहरुख खान की पांच दमदार फिल्में

Shahrukh Khan’s Profile in Hindi

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *