Menu
blogid : 3738 postid : 605613

महेश भट्ट: अंतरंग रिश्तों को खूबसूरती से दर्शाया

Special Days

  • 1020 Posts
  • 2122 Comments

जब भी हम किसी फिल्म को देखते हैं तो उसके सीन, संवाद और सेट से अंदाजा लगा लेते हैं कि वह फिल्म किस निर्देशक की है. जब फिल्म में कॉमेडी हो तो हम बात प्रियदर्शन की करते हैं. वहीं जब बात वास्तविक मूवी की होती है तो हम मधुर भंडारकर का नाम लेते हैं लेकिन किसिंग सीन और बेड सीन से संबंधित फिल्मों के लिए हम हमेशा महेश भट्ट को ही याद करते हैं. आप यह महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) का अंदाज कह सकते हैं कि वह जब भी कोई फिल्म बनाते हैं तो दर्शकों को यह अंदाजा हो जाता है कि कोई बोल्ड फिल्म लेकर आने वाले हैं.


mahesh bhattअर्थ की सफलता

वैसे तो निर्देशक महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) ने अपने कॅरियर की शुरुआत 1974 में की थी लेकिन उन्हें सफलता 1982 में आई फिल्म ‘अर्थ’ से मिली. ऐसा माना जाता है कि यह फिल्म महेश भट्ट और परवीन बॉबी अधारित थी. इस फिल्म मे कुलभूषण खरबंदा, स्मिता पाटिल, शबाना आजमी और राज किरण ने मुख्य भूमिकाएं निभायी थीं. इस फिल्म से ही पता चल गया था कि महेश भट्ट किस तरह के फिल्मकार हैं.


Read: क्यों औरतों को बोल्ड अंदाज में दिखाया ?


फिल्म अर्थ पर विवाद

हाल ही में अपने जमाने की बेहद कामयाब फिल्म रही ‘अर्थ’ के निर्माता कुलजीत पाल ने फिल्मकार महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) के खिलाफ विरोध का मोर्चा खोल दिया था. भट्ट द्वारा एक पाकिस्तानी फिल्म निर्माता को ‘अर्थ’ का रिमेक बनाने पर सहमति दिए जाने से कुलजीत पाल बेहद नाराज हैं. दूसरी तरफ भट्ट का कहना है कि उन्होंने अपनी रजामंदी इस विचार से दी कि यह भारत-पाकिस्तान रिश्ते को मजबूत बनाने की ओर अच्छी पहल हो सकती है.


सेक्सुअल बयान

हमेशा की तरह सेक्स और सेक्सुअलिटी को लेकर फिल्म बनाने वाले फिल्मकार महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) न केवल अपने फिल्मों की वजह से चर्चा में रहते हैं बल्कि उनके द्वारा दिए गए बयान भी मीडिया की सुर्खियां बनते हैं.

उन्होंने अपने बयान में एक बार कहा था कि एक ही पार्टनर से सेक्स का जमाना अब लद गया है. छोटे शहरों में भी लोग मल्टी सेक्स पार्टनर वाली जीवन शैली को अपनाने लगे हैं. उन्होंने कहा था कि जैसे लोगों ने समलैंगिकता को अपना लिया है वैसे ही मल्टी सेक्स पार्टनर के कॉन्सेप्ट को भी स्वीकार कर रहे हैं कि छोटे शहरों में भी इसका चलन बढ़ रहा है. इससे पहले उन्होंने कहा था कि भारतीय दर्शक सेक्सुअल फिल्मों को अधिक तरजीह देते हैं इसलिए पारिवारिक फिल्में बॉक्स ऑफिस पर सफल नहीं होती हैं.


Read: तो क्या सेक्स पार्टनर बदलने का वक्त आ गया है?


महेश भट्ट का जीवन

महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) का जन्म 20 सितंबर, 1948 को हुआ था. उनके पिता नानाभाई भट्ट हिंदू धर्म से संबंधित एक मशहूर फिल्म निर्माता थे और उनकी मां एक शिया मुसलमान. उनके माता-पिता ने प्रेम विवाह किया था. नानाभाई भट्ट ने महेश भट्ट की माता से दूसरी शादी की थी इसलिए दोनों का परिवार अलग ही रहता था. बचपन से ही महेश भट्ट अपने पिता से दूर रहे. स्कूल के दौरान से ही वह मेधावी थे. गर्मियों की छुट्टियों के दौरान वह छोटे-मोटे काम कर मां का हाथ बंटाते थे. 20 साल की उम्र से ही उन्होंने विज्ञापनों के लिए लिखना शुरू कर दिया था.


Read More:


Mahesh Bhatt Profile

बिंदास और खुले विचारों की चिड़िया : पूजा भट्ट

इनकी फिल्मों में भावना नहीं, वासना झलकती है

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *