Menu
blogid : 3738 postid : 1779

Saroj Khan – जानी मानी कोरियोग्राफर सरोज खान [जन्मदिन विशेषांक]

Special Days

Special Days

  • 1020 Posts
  • 2122 Comments

बॉलिवुड की जानी-मानी कोरियोग्राफर सरोज खान अपने कॅरियर में माधुरी दीक्षित से लेकर ऐश्वर्या राय तक लगभग सभी बड़ी अभिनेत्रियों को अपने इशारों पर नचा चुकी हैं. कथक से लेकर मणिपुरी तक सभी नृत्य शैलियों में पारंगत सरोज खान को बॉलिवुड में सभी मास्टर जी के नाम से पुकारते हैं. सरोज खान ना सिर्फ एक अच्छी कोरियोग्राफर हैं बल्कि अभिनय और निर्देशन में भी अपने हाथ आजमा चुकी हैं.

saroj khanसरोज खान का जीवन परिचय

बॉलीवुड के कुछ मुख्य नामचीन और प्रतिष्ठित कोरियोग्राफरों में से एक सरोज खान का जन्म 22 नवंबर, 1948 को हुआ था. 200 से अधिक फिल्मों में काम करने वाली सरोज खान का वास्तविक नाम निर्मला साधु सिंह हैं. सरोज खान का परिवार मूलत: पाकिस्तान से है. भारत विभाजन के समय इनके पिता को अपना स्थापित व्यवसाय और संपत्ति छोड़कर भारत आना पड़ा था. आय का कोई साधन ना होने के कारण सरोज खान का बचपन बहुत कठिनाइयों में बीता. इनके पिता ने छोटी आयु में ही सरोज खान को फिल्मों में काम करने के लिए भेज दिया था. 3 वर्ष की आयु में सरोज खान ने बाल कलाकार के रूप में पहली फिल्म नजराना की. सरोज खान ने बी. सोहनलाल जो उस समय के बहुत प्रतिष्ठित और सम्माननीय डांस मास्टर थे, से नृत्य प्रशिक्षण लेना प्रारंभ किया. सोहनलाल ने उन्हें कथक, मणिपुरी, कथकली, भरटनाट्यम आदि जैसे लोकनृत्यों का प्रशिक्षण दिया. तेरह वर्ष की आयु में ही सरोज खान ने 41 वर्षीय बी. सोहनलाल, जो पहले से ही विवाहित और चार बच्चों के पिता थे, से विवाह संपन्न किया. चौदह वर्ष की आयु में सरोज खान ने अपने पहले बेटे, राजू खान (कोरियोग्राफर) को जन्म दिया. वर्ष 1965 में सोहनलाल से अलग होने बाद भी सरोज खान उनकी सहायक के तौर पर कार्य करती रहीं. जब सोहनलाल की तबियत खराब हुई तो सरोज खान और सोहन लाल फिर से एक साथ हो गए. इनकी एक बेटी हिना खान भी हैं. अपने परिवार को छोड़कर सोहनलाल मद्रास चले गए. जिसके बाद सरोज खान ने सरदार रौशन खान से विवाह किया. इन दोनों की एक बेटी सुकैना खान हैं.


saroj khan and madhuriसरोज खान का कॅरियर

बाल कलाकार से अपने कॅरियर की शुरूआत करने वाली सरोज खान बाद में सोहनलाल के नृत्य समूह का हिस्सा बनीं. फिर नृत्य में स्नातक की उपाधि ग्रहण करने के बाद असिस्टेंट डांस मास्टर और फिर डांस मास्टर बनीं. स्वतंत्र कोरियोग्राफर के तौर पर सरोज खान की पहली फिल्म गुलजार निर्देशित मौसम (1975) थी. लेकिन वर्ष 1983 में प्रदर्शित हुई फिल्म हीरो उनके लिए एक बड़ा ब्रेक साबित हुई. नगीना (1986) में श्री देवी ने मैं तेरी दुश्मन गाने पर जो डांस किया था, वह सरोज खान ने ही कोरियोग्राफ किया था. इस गाने द्वारा सरोज खान की प्रतिभा को प्रशंसा मिलने लगी. तेजाब, खलनायक, मिस्टर इंडिया, चालबाज, नगीना, चांदनी, हम दिल दे चुके सनम, देवदास, गुरू आदि कुछ प्रमुख फिल्में हैं जिन्हें सरोज खान ने ही कोरियोग्राफ किया था. सरोज खान रियलिटी डांस शो नच बलिये के दो संस्करणों में जज के तौर पर कार्य कर चुकी हैं.  2008 में उन्होंने नृत्त्य आधारित अपने व्यक्तिगत कार्यक्रम में कार्य किया, जिसमें वह एक प्रशिक्षक के रूप में दर्शकों को डांस सिखाती थीं. यह शो आज भी जारी है. सरोज खान ने सोनी के झलक दिखला जा जैसे कार्यक्रमों में भी जज की भूमिका निभाई है.


सरोज खान को दिए गए सम्मान

सरोज खान को आठ बार फिल्मफेयर बेस्ट कोरियोग्राफी के अवार्ड से नवाजा जा चुका है. इसके अलावा वह तीन बार राष्ट्रीय पुरस्कार भी जीत चुकी हैं. लगान फिल्म के लिए सरोज खान को अमेरिकन आउटस्टैंडिंग अचीवमेंट अवॉर्ड भी प्रदान किया गया था.


बॉलिवुड में शायद ही ऐसा कोई बड़ा अभिनेता या अभिनेत्री हो जिसने सरोज खान के साथ काम नहीं किया हो. सरोज खान ने माधुरी दीक्षित के साथ कई फिल्मों में काम किया. कोरियोग्राफी के अलावा सरोज खान ने रविकिशन और नगमा अभिनीत एक भोजपुरी फिल्म ‘दिल दीवाना तोहार हो गईल’ का भी निर्माण किया है.


Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *