Menu
blogid : 7002 postid : 1393258

World Cup: 27 साल बाद राउंड रॉबिन फॉर्मेट में होगा विश्व कप, जानें इसकी खास बातें

Shilpi Singh

22 Feb, 2019

इंग्लैंड में 30 मई से क्रिकेट के महाकुंभ यानी आईसीसी क्रिकेट विश्व कप (50 ओवर) का आगाज होने जा रहा है। क्रिकेट के इस बड़े तमगे को हासिल करने के लिए हर टीम अपनी जान झोंकने को तैयार है। इस विश्व कप के फॉरमेट में हालांकि बदलाव हुआ है और इस बार राउंड रोबिन फॉरमेट में टीमें खिताबी जंग के लिए जद्दोजहद करेंगी। जहां हर टीम को विश्व कप में हिस्सा लेने वाली सभी टीमों से खेलना होगा। राउंड रोबिन फॉरमेट विश्व कप में दूसरी बार इस्तेमाल किया जा रहा। सबसे पहले 1992 में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की संयुक्त मेजबानी में हुए विश्व कप में इसे इस्तेमाल किया गया था।

 

 

 

विश्व कप राउंड रॉबिन फॉर्मेट के आधार पर खेला जाएगा

यह विश्व कप राउंड रॉबिन फॉर्मेट के आधार पर खेला जाएगा। इससे पहले 1992 में यह फॉर्मेट अपनाया गया था, तब उस वर्ल्ड कप में नौ टीमें खेली थीं। विश्व कप के 12वें संस्करण में कुल 10 टीमें हिस्सा ले रही हैं और राउंड रोबिन फॉर्मेट के हिसाब से हर टीम को नौ मैच खेलने हैं। यह प्रारूप इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में भी इस्तेमाल किया जाता है। 46 दिनों तक चलने वाले इस विश्व कप में कुल 48 मैच खेले जाएंगे। अंकतालिका में शीर्ष-4 टीमें सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करेंगी और फिर दो टीमें 14 जुलाई को क्रिकेट के मक्का कहे जाने वाले लॉडर्स मैदान पर खिताबी जंग होगी। वह टूर्नामेंट पाकिस्तान ने जीता था, भारत ने 1992 के विश्व कप में आठ मैच खेले थे उसे सिर्फ दो मैचों में जीत मिली थी।

 

 

विश्व कप में 10 टीमें हिस्सा लेंगी

30 मई से होने वाले इस विश्व कप में 10 टीमें हिस्सा लेंगी, पिछले विश्व कप में 14 टीमें खेली थीं। 46 दिनों तक चलने वाले इस विश्व कप में कुल 48 मैच खेले जाएंगे। हर टीम कम से कम नौ मैच खेलेगी, इसके बाद चार सर्वश्रेष्ठ टीमें सेमीफाइनल में प्रवेश करेंगी।

    

 

आधी टीमें एक ही महाद्वीप की होंगी

यह पहला विश्व कप होगा, जिसमें अफगानिस्तान की टीम हिस्सा लेगी। अफगानिस्तान के एंट्री के साथ ही यह तय हो गया है कि विश्व कप में 10 में से पांच टीमें एशिया की होंगी। यानी, यह पहली बार होगा कि किसी विश्व कप में आधी टीमें एक ही महाद्वीप की होंगी।

 

 

सबसे अधिक टीमें ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप की होंगी

इस विश्व कप में एशिया के बाद सबसे अधिक टीमें ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप की होंगी। यहां से ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की टीमें दिखेंगी। यूरोप, अफ्रीका और अमेरिकी महाद्वीप से सिर्फ एक-एक टीम (इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका, वेस्टइंडीज) विश्व कप में खेलेंगी।

 

 

चार बार मेजबानी कर चुका है इंग्लैंड

इंग्लैंड पांचवीं बार विश्व कप की मेजबानी कर रहा है, वह इससे पहले 1975, 1979, 1983 और 1999 में विश्व कप की मेजबानी कर चुका है। इंग्लैंड सभी 13 विश्व कप खेलने और चार बार इसकी मेजबानी करने के बाद भी कभी भी चैंपियन नहीं बना है।

 

 

सेमीफाइनल और फाइनल के लिए रिजर्व डे

आईसीसी ने नॉकआउट यानी दोनों सेमीफाइनल और फाइनल के लिए रिजर्व डे रखे हैं। पहले सेमीफाइनल की मेजबानी ओल्ड ट्रेफर्ड नौ जुलाई को करेगा जिसमें पहले और चौथे नंबर की टीमें भिड़ेंगी। दूसरा सेमीफाइनल 11 जुलाई को एजबस्टन में दूसरे और तीसरे स्थान की टीमों के बीच खेला जाएगा।...Next

 

Read More:

फोर्ब्स इंडिया 2018 की लिस्ट में इन भारतीय खिलाड़ियों का रहा जलवा

महेंद्र सिंह धोनी से विराट कोहली तक, ये हैं 6 सबसे अमीर भारतीय क्रिकेटर

कबड्डी खिलाड़ी अनूप कुमार ने की सन्यास की घोषणा, भारत को जीता चुके हैं विश्वकप

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *