Menu
blogid : 7002 postid : 1393122

संगकारा ने माना महानतम क्रिकेटर बन सकते हैं कोहली, कहा- विश्व कप में धोनी की होगी जरूरत

Shilpi Singh

13 Feb, 2019

विराट कोहली ने पिछले कुछ सालों में जिस तरह का प्रर्दशन किया है वो खास है और इसी वजह से आज के दौर में वो सबसे भरोसेमंद और काबिल खिलाड़ियों में गिने जाते हैं। जल्द ही ह विश्व कप 2019 शुरू होने वाला है और ऐसे में जाहिर है की हर किसी की नजर अब इसी पर टिकी हुई है। हाल ही में श्रीलंका के पूर्व कप्तान संगकारा ने कोहली की बल्लेबाजी और उनकी कप्तानी को लेकर कई सारी बातें कही हैं। इसके साथ ही संगकारा ने महेंद्र सिंह धोनी की भी जमकर तारीफ की।

 

 

सर्वश्रेष्ठ खिलाडि़यों की सूची में जरूर शामिल होंगे कोहली

संगकारा ने एक टीवी न्यूज चैनल पर कहा, ‘विराट के खेल का हर पहलू सबसे अलग है। मुझे लगता है कि मौजूदा दौर के क्रिकेट में वह बाकी खिलाडि़यों से काफी आगे हैं। मैं और आगे यह कहना चाहूंगा कि कोहली अगर सर्वकालिक महानतम क्रिकेटर नहीं भी बने तो वह सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ खिलाडि़यों की सूची में जरूर शामिल होंगे’।

 

 

हर प्रारूप में कोहली हैं कामयाब

संगकारा खेल के हर प्रारूप में कोहली की कामयाबी को देखकर हैरान हैं। श्रीलंका के पूर्व कप्तान ने कहा, ‘अगर आप देखें कि वह किस रफ्तार या लय से बल्लेबाजी करते हैं, तो यह बमुश्किल बदलता है। वह परिस्थितियों को काफी अच्छी तरह समझते हैं। वह खेल को लेकर काफी जुनूनी हैं। अगर आप मैदान पर उनका रवैया देखें, तो यह एक व्यक्ति और बल्लेबाज के रवैये का प्रतिरूप ही नजर आता है’।

 

 

महेला जयवर्धने ने भी कोहली की तारीफ

संगकारा के पूर्व टीम साथी महेला जयवर्धने ने भी कोहली की तारीफ की, उन्होंने कहा कि जिस तरह वह 130 करोड़ लोगों की अपेक्षाओं का बोझ लेकर बल्लेबाजी करते हैं वह प्रशंसनीय है। जयवर्धने ने कहा, ‘यह सिर्फ काबिलियत की बात नहीं है, लेकिन बड़ी बात यह भी है कि वह मैदान पर या उसके बाहर दबाव का सामना किस तरह करते हैं। हम सचिन के साथ बड़े हुए, उन्हें देखना एक अलग तरह का अनुभव था। अगली पीढ़ी के लिए यह जिम्मेदारी अब शायद विराट के कंधों पर है’।

 

 

कोहली को है धोनी की जरुरत

संगकारा ने धोनी की विराट कोहली के लिए अहमियत बताते हुए कहा, ‘जब विश्वकप जैसे बड़े टूर्नामेंट की बात आती है तो यहां अनुभव की बहुत अहमियत होती है। मुझे लगता है कि धोनी निश्चित तौर पर विश्वकप के लिए 15 सदस्यीय टीम में जगह बनाने में कामयाब होंगे। उनके अनुभव के कारण विराट कोहली कप्तानी करते हुए मैदान में खुद को शांत रखने में सफल होंगे। धोनी के अनुभव का फायदा विश्वकप में तब मिलेगा जब मैच करीबी होंगे’।

 

 

संगकारा ने पंत को बताया – भारत की शानदार खोज

संगकारा ने ऋषभ पंत की तारीफ करते हुए कहा,’पंत टीम इंडिया की एक शानदार खोज हैं। आप किस उम्र के हैं, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। कॉम्पिटिशन आपको बेहतर ही बनाता है। यह आप पर निर्भर करता है कि आप इसे लेते किस तरह हैं। आप इसे अवसर की तरह देखते हैं या फिर खतरे की तरह’।

 

 

कोहली के लिए 2018 का साल शानदार रहा

रन मशीन कोहली के लिए 2018 का साल शानदार रहा। कोहली ने इस साल आइसीसी के टेस्ट और वनडे के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर का खिताब जीता। इस दौर के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन, ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ (प्रतिबंध के कारण बाहर चल रहे), इंग्लैंड के जो रूट को पीछे छोड़ते हुए कोहली ने बीते साल दमदार प्रदर्शन किया। वह वनडे और टेस्ट क्रिकेट में बल्लेबाजों की सूची में शीर्ष पर काबिज हैं। संगकारा ने कहा है कि सचिन तेंदुलकर ने 463 वनडे मैच खेल कर 49 शतक लगाए हैं, जबकि विराट ने 222 मैच, यानी उनसे आधे से भी कम मैच खेल कर 39 शतक लगाए हैं।…Next

 

Read More:

न्यूजीलैंड पुलिस ने टीम इंडिया को लेकर जारी की ‘मजेदार चेतावनी’, अपने देश के खिलाड़ियों की जमकर की खिंचाई

इन मैदानों में लाइव क्रिकेट मैच देखते हुए ले सकते हैं स्विमिंग पूल का मजा, लगा सकते हैं डुबकी

कभी मैदान में घुसी कार तो कभी आई मधुमक्खी, इन अजीब कारणों से रोकने पड़े थे मैच

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *