Menu
blogid : 7002 postid : 1391427

क्रिकेट मैदान के बाहर हिंदी कमेंटरी से चौके छक्के लगा रहे हैं ये 5 भारतीय क्रिकेटर

Shilpi Singh

23 Sep, 2018

90 के दशक में जब हम रेडियो पर हिंदी कमेंट्री सुना करते थे, तब ऐसा लगता था जैसे हम कोई लाइव मैच देख रहे हैं। अपब शायद ही कोई रेडियो सुनता हो लेकिन कमेंट्री आज भी लोग सुनते हैं। एक दौर था जब कमेंट्री केवल अंग्रेजी में होती थी, लेकिन अब समय के साथ क्रिकेट की कमेंट्री में बदलवा आया है और दर्शको को रिझाने के लिए हिंदी में कमेंट्री की शुरूआत की गई है। ऐसे में हिंदी में कमेंट्री करने के लिए कई सारे क्रिकेटर आगे आएं हैं, इस दौरान वो केवल कमेंट्री ही नहीं करते हैं बल्कि लोगों का मनोरंजन भी खुब करते हैं। तो चलिए एक नजर कुछ मशहूर हिंदी कमेंट्री करने वाले स्टार पर।

 

 

1. वीरेंद्र सहवाग

किसी दौर में भारतीय क्रिकेट टीम के ओपेनर रहे सहवाग आजकल कमेंट्री बॉक्स में अपना हुनर दिखा रहे हैं। सहवाग कमेंट्री करते वक्त अक्सर पुराने दिनों की कहानियां सुनाते हुए नजर आते हैं। इसके साथ ही वीरु को कुछ अजीबों गरीब सी लाइनें भी बोलते हैं बल्लेबाज और गेंदबाज को लेकर जो लोगों को हंसा दती है। जैसै ‘विराट अगर टैक्सी होते तो उनका मीटर 100 से शुरू होता’।

 

 

2. नवजोत सिंह सिद्धू

नवजोत सिंह सिद्धू भले ही इस समय राजनीति में व्यस्त हैं, लेकिन जब कभी भी कमेंट्री बॉक्स में होते हैं कमेंट्री कम करते हैं मुहावरे ज़्यादा सुनाते हैं। ननजोत ने कई सालों कमेंट्री बॉक्स में अपना जलवा दिखाया था और उनकी कमेंट्री को लोग आज भी याद करते हैं। वीरु की तरह ही सिद्ध भी कुछ इस अंदाज में बोलते थे, ‘बॉल सीमा रेखा से बाहर ऐसे दनदनाती हुई गयी जैसे हिरन के पीछे शेर पड़ गया हो’ या फिर ‘ये गगनचुंबी छक्का एयरहोस्टेज की पप्पी लेकर आ सकता है’।

 

 

3. आकाश चोपड़ा

आकाश चोपड़ा सबसे पुरानी हिंदी और अंग्रेजी के कमेंटेटर रह हैं, आकाश ने क्रिकेट से ज्यादा लंबी पारी कमेंट्री बॉक्स में खेली है। आकाश को कई बार उनकी कमेंट्री के लिए ट्रोल भी किया गया है लेकिन वो अपनी राय हर जगह देते हैं। जैसे ‘रो-हिट शर्मा ने ईडन गार्डन में जो 264 रन बनाये, उसके बाद इसका नाम रोहित गार्डन हो जाना चाहिए’।

 

 

4. आशीष नेहरा

हाल ही में अपने लंबे क्रिकेट करियर को अलविदा कहने वाले नेहरा आजकल कमेंटेटर बनकर लोगों के सामने आते हैं। नेहरा ने आते ही कमेंट्री बॉक्स में अफने जलवे दिखाने शुरू कर दिए हैं। नेहरा न केवल पुराने दिनों के किस्से सुनाते हैं बल्कि कुछ ऐसा भी बोल जाते हैं ‘टेस्ट मैच एक ऐसी दुकान है, जहां आपको हर दिन सामान बेचना पड़ता है। लेकिन टेस्ट में मेरी दुकान कम ही खुली’। वैसे नेहरा आजकल वीरू के साथ कमेंट्री बॉक्स में कुब रंग जमा रहे हैं।

 

 

 

5. वी वी एस लक्ष्मण

 

 

टीम इंडिया के लक्ष्मण बहुत ही स्पेशल हैं औऱ शायद इसलिए उन्होंने इंग्लिश में कंमेट्री करने के बाद भी हिंदी में अपनी एक अलग पहचान बनाई है। वी वी एस लक्ष्मण की इंग्लिश तो अच्छी है, लेकिन हिंदी में हाथ कुछ ज़्यादा ही तंग है। शायद इसलिए वो कभी कभी कुछ अलग ही बोल जाते हैं। ‘मेरा जहाज़ मुम्बई से हैदराबाद लैंड होने से पहले ही, वीरू टेस्ट में शतक बना देते हैं’।…Next

 

Read More:

ओडिशा से हैं हांगकांग के कप्तान अंशुमन रथ, भारतीय टीम को कर दिया था परेशान

जब मैदान पर आपस में खेलते-खेलते भिड़ गए पाक-भारत के ये 5 खिलाड़ी

एशिया कप: भारत-पाकिस्तान मैच में ये 8 खिलाड़ी होंगे गेम चेंजर्स

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *