Menu
blogid : 7002 postid : 1390177

IPL की ‘बाजीगर’ टीम बनी मुंबई इंडियंस, यह है प्लेऑफ में जानें का फॉर्मूला

Shilpi Singh

11 May, 2018

आईपीएल में जहां कल दिल्ली का सफल खत्म हो गया वहीं, हैदराबाद ने जीत के साथ प्लेऑफ में अपनी जगह पक्की कर ली, फिलहाल वही एकलौती ऐसी टीम है जिसकी जगह पक्की हैं। हालांकि चेन्नई भी ज्यादा दूर नहीं है, लेकिन हैदराबाद ने सबसे पहले ये मुकाम हासिल किया है। जहां चेन्नई दूसरे नंबर पर बनी हुई है वहीं तीसरे चौथे औऱ पांचवे नंबर को लेकर संशय लगातार बना हुआ है। पंजाब ने शुरूआती मैचों में बेहतरीन खेल दिखाकर जीत हासिल की लेकिन पिछले कुछ मैचों से वो कुछ रनों के अंतर से हार का सामना कर रही है। वहीं, मुंबई ने एक बार फिर से दम भर रही है और लगातार जीत के साथ खुद को पॉइंट्स टेबल पर चौथे नंबर पर लेकर आई है। ऐसे में चलिए जानते हैं आखिर मुंबई को प्लेऑफ में जाने के लिए क्या करना होगा और मुंबई की जीत से नुकसान किसका होगा।

 

 

टॉप 4 टीमों में शामिल मुंबई

ईशान किशन के 17 गेंदों में अर्धशतक की मदद से मुंबई इंडियंस ने बुधवार को आईपीएल मैच में रनों का अंबार लगाने के बाद कोलकाता नाइट राइडर्स को 102 रन से हराकर प्लेऑफ के लिए अपने रास्ते खोल दिए हैं। इस जीत से न केवल मुंबई को 2 नंबर मिल हैं बल्कि उनका नेट रन रेट भी कोलकाता से अच्छा हो गया और इसी वजह से वो टॉप चार में शामिल हो गई है। कोलकाता और मुंबई के दोनों पॉइंट्स 10 ही हैं औऱ दोनों ने अबतक 11 मैच खेले हैं जिसमें 5 में जीत और 6 में हार मिली है, लेकिन 102 रनों से जीतकर मुंबई ने अपना नेट रन रेट कोलकाता से बेहतरी कर लिया है और यही वजह है कि वो अब टॉप 4 टीमों में शामिल हो गई है।

 

 

102 रनों की विशाल जीत ने बदला खेल

इस बड़ी जीत के बाद मुंबई इंडियंस ने सारे समीकरण बदल दिए हैं और उनका नेट रनरेट बढ़कर 0.529 हो गया है। अब केकेआर और मुंबई इंडियंस दोनों के 11 मैचों में 10 अंक है। अब मुंबई इंडियंस के लिए आईपीएल के प्लेऑफ में जाने का फॉर्मूला बेहद आसान है।  मुंबई के लिए नेट रन रेट अब कोई मसला नहीं है, लिहाजा प्ले ऑफ में जगह बनाने के लिए मुंबई को अपने बाकी बचे सभी तीन मैच जीतने होंगे। जिसमें से दो तो उनके घरेलू मैदान वानखेड़े में खेले जाएंगे।

 

 

पंजाब के लिए खतरा है मुंबई

13 को मुंबई राजस्थान से भिड़ेगी जो टेबल पर छठे नंबर है और मुंबई राजस्थान को हराकर अपनी राह थोड़ी और आसान करना चाहेगी। अगर मुंबई राजस्आथ से जीत जाती है तो पंजाब के लिए खतरे की घंटी होगी, क्योंकि पंजाब के पास अभी 12 पॉइंट्स है औ अगर मुंबई जीत जाती है तो उसका खेल खराब हो जाएगा। ऐसे में पंजाब मुंबई को हराकर उसे तीसेर नंबर से आने से रोकेगी, इन दोनों टीमों को 16 मई में आपस में भिड़ना है। वहीं, मुंबई अपना आखिरी मैच दिल्ली के साथ खेलेगे जो पहले से ही बाहर होने की कगार पर, ऐसे में दोनों टीमें जीते के लिए ही खेलेगी।

 

 

मुंबई को बाकि तीन मैच जीतने होंगे

अगर मुंबई को प्लेऑफ में जाना है, तो उन्हें ये सभी मैच जीतने होंगे, इस सूरत में उनके 16 अंक हो जाएंगे और प्लेऑफ के लिए उनकी जगह पक्की हो जाएगी। फिलहाल मुंबईको अपने नेट रन रेट को लेकर परेशान होने की जरुरत नहीं हैं क्योंकि 102 रोनं की विशाल जीत ने पहले ही उसे बेहतर कर दिया है।

 

 

कोलकाता और राजस्थान की राह मुश्किल

वहीं कोलकाता नाइट राइडर्स और राजस्थान रॉयल्स की राह मुश्किल है, उन्हें अगर प्लेऑफ में जगह बनानी है तो अपने बाकी बचे सभी मैच बड़े अंतर से जीतने होंगे। लेकिन अब टूर्नामेंट के अंतिम चरण में यह किसी भी कीमत पर आसान नहीं होगा, ऐसे में अब हर मैच हर किसी के लिए आखिरी मैच के बराबर ही होगा।

 

 

आईपीएल 2015 में भी शुरुआती 5 मैच हारकर चैंपियन बनी थी मुंबई

मुंबई इंडियंस के अपने शुरुआती मैच हारने के बाद वापसी करते हुए बता दिया कि क्यों इसे आईपीएल इतिहास की सबसे सफलतम टीम माना जाता है। इससे पहले भी आईपीएल 2015 में वह यह कमाल कर चुकी है। उस सीजन के अपने शुरुआती 7 मुकाबलों में उसने 2 मैच ही जीते थे। यानी 6 मैचों में एक मैच जीतने के बाद उसने अपना विजय अभियान शुरू किया था और वह ट्रॉफी पर कब्जा करने में कामयाब रही थी।Next

 

Read More:

आईपीएल के इन हीरो को भूले दर्शक, कभी मैदान पर चलता था जादू

IPL के स्टार गेंदबाज हुआ करते थे कामरान, अब करते हैं खेतों में काम

IPL में बल्लेबाजी से धमाल मचाने वाले 6 खिलाड़ी, जो आज तक नहीं ठोक पाए शतक

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *