Menu
blogid : 7002 postid : 1393250

Ind vs Pak वर्ल्ड कप: आयोजकों को मिल चुके हैं 4 लाख टिकटों के आवेदन, मैच पर संशय बरकार

Shilpi Singh

21 Feb, 2019

भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट विश्व कप में होने वाले मैच के बहिष्कार की मांग के बीच मैनचेस्टर में 16 जून को होने वाले इस मैच का जलवा प्रशंसकों के बीच बरकरार है। हालांकि इस बीच भारत की तरफ से इस बीच ये भी कह रहे हैं भारत को इस मैच का बहिष्कार करना चाहिए, लेकिन आईसीसी ने साफ कर दिया है की फिलहाल मैच में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा। वहीं दूसरी तरफ 16 जून को होने वाले मैच को देखने के लिए आवेदनों की लाइन लग गई है, दरअसल भारत-पाक मैच देखने के लिए चार लाख से अधिक लोगों ने टिकट के लिए आवेदन कर दिया है जो अपने आप में एक बड़ी खबर है।

 

 

मैच के लिए 4 लाख आवेदन किये जा चुके हैं

16 जून को भारत-पाक मैच जिस मैदान में होना है। उस मैदान की क्षमता सिर्फ 25000 है, जबकि मैच देखने के लिए 4 लाख आवेदन किये जा चुके हैं। इससे साफ़ है कि भले ही प्रशासक और खिलाड़ी पाक से नहीं खेलने की बात कर रहे हों, लेकिन इस मैच का जलवा प्रशंसकों के बीच बरकरार है।

 

 

स्टेडियम में सिर्फ 25000 दर्शक आ सकते हैं

ईएसपीएन क्रिकइंफो ने एलवर्थी के हवाले से कहा, ‘भारत बनाम पाकिस्तान के टिकटों के आवेदकों की संख्या 400000 से अधिक है जो काफी बड़ी संख्या है। स्टेडियम में सिर्फ 25000 दर्शक आ सकते हैं। इसलिए काफी लोग निराश होंगे एलवर्थी ने बताया कि इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया के बीच होने वाले मुकाबले के लिए 230000 से 240000 लोगों ने आवेदन किया है जबकि फाइनल के लिए आवेदन करने वालों की संख्या 260000 से 270000 के बीच है।’

 

 

बीसीसीआई करेगा ICC से ये मांग

पुलवामा आतंकी हमले के बाद अब भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने क्रिकेट विश्व कप से पाकिस्तान को बाहर करने की कोशिश शुरू कर दी है। इस कड़ी में भारतीय क्रिकेट बोर्ड अब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) को खत लिखकर पाकिस्तान टीम को विश्व कप से बाहर करने की मांग करेगा। क्रिकेट प्रशासकों की समिति के चेयरमैन विनोद राय ने BCCI के सीईओ राहुल जौहरी से ICC को खत लिखने के लिए कहा है।

 

 

मैच खलेन के पक्ष में नहीं है क्रिकेटर

पाकिस्तानी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद की ओर से पुलवामा में 14 फरवरी को की गई आतंकी वारदात में CRPF के 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले के बाद भारत के तमाम पूर्व क्रिकेटरों ने पाकिस्तान के साथ क्रिकेट नहीं खेलने की इच्छा जताई है। इसमें हरभजन सिंह से लेकर चेतन चौहान, गौतम गंभीर और पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन के नाम शामिल हैं।

 

 

भारत न खेले पाक से कोई मैच

सौरव गांगुली ने बुधवार को कहा कि सिर्फ क्रिकेट ही नहीं बल्कि पाकिस्तान के साथ सभी खेलों में संबंध खत्म होने चाहिए। पूर्व कप्तान गांगुली ने टीम इंडिया के अपने पूर्व साथी हरभजन सिंह का समर्थन करते हुए कहा कि विश्व कप के एक मैच में पाकिस्तान के खिलाफ नहीं खेलने से भारत की संभावनाओं पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

 

 

पाकिस्तान को हर क्षेत्र में नाही कहना चाहिए

गौरतलब है कि भारत और पाकिस्तान के मैच के दौरान हमेशा रोमांच और भावनाएं चरम पर होती हैं। अगर मुकाबला वर्ल्ड कप का हो तो दोनों टीमों के बीच प्रतिस्पर्धा और बढ़ जाती है, जिसका दर्शक भरपूर लुत्फ उठाते हैं। हालांकि फिलहाल भारत और पाकिस्तान के बीच खेले जाने वाले इस मैच पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। फिलहाल, बीसीसीआई के अधिकारी इस मामले पर ‘वेट एंड वॉच’ की पॉलिसी अपना रहे हैं। वहीं, कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद का कहना है कि पुलवामा हमले के बाद मौजूदा हालात को देखते हुए हमें फिलहाल पाकिस्तान को हर क्षेत्र में ‘ना’ ही कहना चाहिए।…Next

 

Read More:

न्यूजीलैंड पुलिस ने टीम इंडिया को लेकर जारी की ‘मजेदार चेतावनी’, अपने देश के खिलाड़ियों की जमकर की खिंचाई

इन मैदानों में लाइव क्रिकेट मैच देखते हुए ले सकते हैं स्विमिंग पूल का मजा, लगा सकते हैं डुबकी

कभी मैदान में घुसी कार तो कभी आई मधुमक्खी, इन अजीब कारणों से रोकने पड़े थे मैच

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *