Menu
blogid : 7002 postid : 1389427

इंडियन टीम का वो ओपनर, जो पूरे वनडे करियर में नहीं लगा पाया एक भी सिक्‍स

जब से टी-20 और आईपीएल की शुरुआत हुई है, तब से क्रिकेट के मायने बदल गए। कभी वनडे में 250 रन के स्‍कोर को भी सम्‍मानजनक और मैच जीतने के लिए पर्याप्‍त माना जाता था। मगर फटाफट क्रिकेट के बाद यह मानसिकता बदली और लगभग 300 रन का स्‍कोर भी टीमों के लिए आसान हो गया। पहले वनडे में जहां पूरी पारी के दौरान गिने-चुने छक्‍के लगते थे, वहीं अब एक पारी में न जाने कितने सिक्‍स जड़ दिए जाते हैं। मगर भारतीय टीम में एक ऐसा सितारा भी हुआ है, जिसने अपने पूरे वनडे करियर में 130 मैच खेले, लेकिन एक भी छक्‍का नहीं जड़ पाया। आइये आपको उस खिलाड़ी के बारे में बताते हैं।

 

 

भारतीय टीम के ऑलराउंडर थे मनोज प्रभाकर

क्रिकेट टीम में ओपनर का बड़ा योगदान होता है। आमतौर पर अनुभवी खिलाड़ियों को ही टीम की ओपनिंग सौंपी जाती है। टीम इंडिया के ऐसे ही एक ओपनर रहे हैं मनोज प्रभाकर। मनोज ऑलराउंडर रहे हैं। उन्होंने टीम इंडिया के लिए 1984 से 1996 तक क्रिकेट खेला। उन्‍होंने अप्रैल 1984 में वनडे और दिसंबर 1984 में ही टेस्‍ट क्रिकेट में डेब्‍यू किया। नवंबर 1995 में टेस्‍ट क्रिकेट और मार्च 1996 में वनडे क्रिकेट को अलविदा कह दिया।

 

 

130 मैच खेले, लेकिन सिक्‍स नहीं मार पाए

12 साल लंबे वनडे करियर के दौरान प्रभाकर ने 130 मैच खेले और 1858 रन बनाए। उनका हाईस्‍कोर 106 है। वनडे में प्रभाकर ने 2 शतक और 11 अर्धशतक बनाए हैं। उनका स्‍ट्राइक रेट 60.26 रहा है। मगर आपको जानकर हैरानी होगी कि इतने अच्‍छे बल्लेबाजी करियर के दौरान मनोज कभी भी छक्का नहीं लगा पाए।

 

 

टेस्‍ट में ठोके हैं 4 छक्के

वनडे के अलावा अगर टेस्ट करियर की बात करें, तो उन्होंने 39 टेस्ट मैचों में 32.65 की औसत से 1600 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्‍होंने एक शतक और 11 अर्धशतक ठोके। हालांकि, टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने 4 छक्के जरूर लगाए हैं। टेस्‍ट में प्रभाकर का हाईस्‍कोर 120 रन है।

 

 

गेंदबाज भी रही बेहतरीन

मनोज प्रभाकर ने बतौर गेंदबाज भी बेहतरीन प्रदर्शन किया है। उन्‍होंने 39 टेस्‍ट मैचों की 68 पारियों में 96 विकेट लिए। इसमें तीन बार 5 विकेट और चार बार 4 विकेट भी झटके हैं। वहीं, वनडे के 130 मैचों में उन्‍होंने 127 पारियों में गेंदबाजी की है, जिसमें 157 विकेट झटके हैं। वनडे में मनोज ने दो बार 5 विकेट और चार बार 4 विकेट लिए। इसके अलावा फर्स्‍ट क्‍लास क्रिकेट में भी उनका प्रदर्शन शानदार रहा है। इतना जरूर है कि इतने बेहतरीन क्रिकेटर का पूरे वनडे करियर के दौरान एक भी सिक्‍स न लगा पाना हैरान जरूर करता है…Next

 

Read More:

बॉलीवुड के वो 5 सितारे, जिन्होंने साथी कलाकारों की मौत के बाद ली उनकी जगह

जब उस्‍ताद बिस्मिल्‍लाह खां को ‘बाबा’ ने दिया दर्शन, मंदिर में कर रहे थे रियाज

यूपी में ब्राह्मण कार्ड खेल सकती है कांग्रेस, इन 4 नेताओं के बीच प्रदेश अध्‍यक्ष की रेस!

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *