Menu
blogid : 7002 postid : 1392119

T20: हिसाब बराबर करने उतरेगा भारत, मिली हार तो सीरीज जीतेगा ऑस्ट्रेलिया

Shilpi Singh

23 Nov, 2018

स्बेन के गाबा मैदान में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए तीन मैचों की सीरीज के पहले टी-20 मैच में मेजबान टीम ने मेहमान भारत को 4 रन से मात देकर सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। अगर टीम इंडिया आज खेले जाने वाले दूसरे मैच को गंवा देती है वो सीरीज भी हार जाएगी। ऐसे में दोनों टीमों के बीच खेले जाने वाले सीरीज के दूसरे मुकाबले में कड़ी टक्कर देखने को मिलेगी।अब देखना ये होगा कि क्या एक बार कड़ी प्रतिद्वंद्विता वाली इस जंग में क्या कुछ होता है, वो भी जब मुकाबला सबसे बड़े मैदान मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर होने जा रहा हो। वैसे बता दें कि   इस सप्ताह मेलबर्न में तूफानी हवायें चलती रही है और इस मैच पर भी बारिश की गाज गिर सकती है।

 

 

भारत का स्कोर कार्ड ऐसा है

भले ही भारत अपना पहला मैच हार चुकी है लेकिन आपको जानर हैरान होगी की भारतीय टीम पिछली नौ सीरीज से अजेय है। वह आखिरी बार पिछले साल नौ जुलाई 2017 को वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज हारी थी। उसके बाद से उसने नौ सीरीज खेलीं, जिनमें से आठ जीतीं और एक ड्रॉ कराईं। ऐसे में अगर भारत यहां पर सीरीज हार जाता है तो ये कप्तान विराट के लिए सही नहीं होगी। वहीं, ऑस्ट्रेलिया ने भारत के खिलाफ आखिरी बार टी-20 सीरीज एक फरवरी 2008 को जीती थी। उसके बाद से भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच चार द्विपक्षीय टी-20 सीरीज हुईं, लेकिन एक को भी वह जीतने में असफल रहा। भारत ने दो सीरीज जीतीं और दो ड्रॉ कराईं।

 

 

मेलबर्न में ऐसा हा भारत का रिकॉर्ड

भारत ने मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर तीन टी-20 मैच खेले हैं। इनमें से उसने पिछले दोनों मुकाबले जीते हैं, उन दोनों मैच में वह टॉस हार गया था। टीम इंडिया आखिरी बार यहां एक फरवरी 2008 को हारी थी। हालांकि, तब वह टॉस जीतने में जरूर सफल रही थी। भारत ने आखिरी बार इस मैदान पर 29 जनवरी 2016 को टी-20 मैच खेला था। इसे उसने 27 रन से जीता था।

 

 

फील्डिंग में देना होगा ध्यान

ब्रिसबेन में भारतीय टीम फील्डिंग में भी अपेक्षा अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाई थी। कोहली ने खुद दो बार गलती की। पहले ऑस्ट्रेलियाई कप्तान एरोन फिंच का कैच छोड़ा और बाद में डीप में फील्डिंग में चूक की। पहले मैच से पूर्व कोहली ने कहा था कि गलतियों पर अंकुश लगाकर निर्णायक क्षणों में दबाव बनाए रखना जरूरी है। हालांकि, सीरीज में पांच दिन में तीन मैच होने के कारण भारतीय टीम को कमजोरियों पर काम करने का समय नहीं मिल पाया होगा। इस बारे में ड्रेसिंग रूम में ही चर्चा हुई होगी।…Next

 

Read More:

बॉल आउट से मशहूर हुए थे रॉबिन उथप्पा, पत्नी शीतल है टेनिस खिलाड़ी

2018 में रिलीज हुई दिग्गज क्रिकेटरों की ऑटोबायोग्राफी, लिस्ट में सबसे ज्यादा भारतीय

एक वनडे मैच में सबसे ज्यादा रन लुटाने वाले गेंदबाज, लिस्ट में भारतीय भी शामिल

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *