Menu
blogid : 7002 postid : 1393271

IND vs AUS: धोनी ने बनाया ऐसा रिकॉर्ड जिसे दुबारा नहीं दोहराना चाहेंगे माही, इस खिलाड़ी को छोड़ा पीछे

Shilpi Singh

25 Feb, 2019

भारत के पूर्व कप्तान एमएस धोनी को एक बार आलोचनाओं का सामना करना पड़ा क्योंकि कल ऑस्ट्रेलिया के साथ हुए मैच में उन्होंने बेहद धीमी पारी खेली। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच टी-20 सीरीज के पहले मैच में विशाखापट्टनम के डॉ वाई एस राजशेखर स्टेडियम में भारत को 3 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। इस मैच में हार के लिए जहां उमेश यादव की आलोचना हो रही है, वहीं दूसरी ओर महेंद्र सिंह धोनी को भी लोग उनकी खराब पारी की वजह से निशाने पर ले रहे हैं। धोनी ने इस पारी में भले ही खुद को क्रिज पर देर तक रोके रखा लेकिन बड़ा शॉर्ट खेलने में कामयाब न हुए और नहीं ही उन्होंने कोई लंबे शॉर्ट लगाए।

 

 

लगातार मिस हो रहे थे धोनी के शॉट

उमेश के आउट होने के बाद धोनी ने पूरी तरह से बल्लेबाजी की जिम्मेदारी उठाने का फैसला किया। 18वां ओवर फेंकने आए रिचर्ड्सन पर धोनी की बड़े शॉट्स खेलने की कोशिश नाकाम रही और अंत में उन्होंने चौथी बॉल पर सिंगल लेकर युजवेंद्र चहल को स्ट्राइक दे दी। 19वें ओवर में भी स्ट्राइक पर धोनी थे। कमिंस की दूसरी बॉल पर दो रन लेने के बाद 5वीं बॉल पर उन्हें सिंगल से संतोष करना पड़ा।

 

 

आखिरी ओवर में भी नहीं जुटा सके रन

अब इनिंग्स के अंतिम ओवर की बारी थी। धोनी कुछ बड़ा करना चाहते थे। एक बार फिर उन्होंने चहल को सिंगल के लिए मना किया और दूसरी गेंद पर जोरदार छक्का जड़ डाला। 9वें ओवर के बाद भारत की यह पहली बाउंड्री थी, लेकिन इसके बाद फिर धोनी बेबस नजर आए। उन्होंने बल्ला भी बदला लेकिन नए बल्ले से भी बाउंड्री नहीं निकली। नतीजा यह हुआ कि अंतिम 12 ओवर में भारतीय टीम केवल 61 रन ही जोड़ सकी। एक समय 22 बॉल पर 19 रन बना चुके धोनी अंत में 37 बॉल पर 29 रन बनाकर नॉटआउट पैवेलियन लौटे।

 

 

धोनी के नाम अनचाहा रेकॉर्ड

इसके साथ ही एमएस धोनी भारत के लिए दूसरी सबसे धीमी पारी (35 गेंद से अधिक की पारी) खेलने वाले बल्लेबाज बन गए हैं। यह किसी भी भारतीय की इंटरनेशनल मैचों में सबसे धीमी बल्लेबाजी (37 गेंदों में 29 रन) भी है। रविंद्र जडेजा ने 2009 में इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स स्टेडियम में 35 गेंद पर 71.42 के स्ट्राइक रेट से 25 रन बनाए थे।

 

 

97वां टी20 मैच खेल रहे धोनी

एमएस धोनी का यह 97वां टी20 मैच है, उन्होंने इन मैचों की 84 पारियों में 37.54 के औसत से 1577 रन बनाए हैं। धोनी ने अपने टी20 करियर में सिर्फ दो अर्धशतक लगाए हैं। हालांकि, उन्होंने करियर में 125.25 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं, जो बेहतरीन कहा जा सकता है।

 

 

धोनी से निराशश हैं उनके फैंस

धोनी की इस पारी से निराश एक क्रिकेट प्रेमी ने लिखा, ‘धोनी शायद खराब फॉर्म में हैं. वे कम से कम 10 रन और बना सकते थे. वे अब पहले जैसे हिटर नहीं रह गए हैं’। एक अन्य क्रिकेटप्रेमी ने लिखा, ‘… धोनी आखिरी 15 गेंदों पर सिर्फ 10 रन बना सके। दुनिया के सबसे बेहतरीन फिनिशर ने अच्छा फिनिश नहीं किया’। एक अन्य प्रशंसक ने लिखा, ‘धोनी की यह बेहद खराब बैटिंग है, बेहद धीमी बैटिंग। एमएस धोनी कृपया टेस्ट क्रिकेट में वापसी करिए’।...Next

 

Read More:

फोर्ब्स इंडिया 2018 की लिस्ट में इन भारतीय खिलाड़ियों का रहा जलवा

महेंद्र सिंह धोनी से विराट कोहली तक, ये हैं 6 सबसे अमीर भारतीय क्रिकेटर

कबड्डी खिलाड़ी अनूप कुमार ने की सन्यास की घोषणा, भारत को जीता चुके हैं विश्वकप

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *