Menu
blogid : 7002 postid : 1392796

विनोद कांबली ने सबसे कम उम्र में लगाया था दोहरा शतक, कर चुके हैं दो शादियां

Shilpi Singh
Shilpi Singh 18 Jan, 2019

टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर विनोद कांबली का जन्म 18 जनवरी 1972 को हुआ था। कांबली आज अपना 46वां जन्मदिन मना रहे हैं। कांबली और मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर बचपन के दोस्त रहे हैं। दोनों ने बचपन में साथ क्रिकेट खेलना शुरू किया और इंटरनेशनल क्रिकेट में भी आस-पास ही डेब्यू किया। कांबली हालांकि इंटरनेशनल क्रिकेट में बहुत ज्यादा टिक नहीं सके, बावजूद इसके उनके नाम एक ऐसा रिकॉर्ड है, जो सुनील गावस्कर, सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली जैसे दिग्गज बल्लेबाज भी तोड़ नहीं पाए।

 

 

मुंबई क्लब सर्किट में तेज गेंदबाज थे कांबली

कांबली का जन्म बहुत गरीब परिवार में हुआ था और वो चॉल में रहा करते थे। उनके पिता गणपत एक मेकैनिक थे और बहुत मुश्किल से सात लोगों के परिवार का पालन-पोषण करते थे। ये बहुत कम लोग जानते हैं, कि कांबली के पिता मुंबई क्लब सर्किट के लिए क्रिकेट खेलते थे और तेज गेंदबाज हुआ करते थे।

 

 

सचिन और कांबली की जोड़ी थी सुपरहिट

तेंदुलकर और कांबली का एक खास किस्सा भी है, दोनों ने स्कूल में वर्ल्ड रिकॉर्ड बना डाला था। तेंदुलकर और कांबली ने शारदाश्रम स्कूल की तरफ से खेलते हुए 664 रनों की साझेदारी निभाई थी। कांबली ने इस दौरान नॉटआउट 349 रन बनाए थे। इस साझेदारी के बाद से तेंदुलकर और कांबली का नाम चर्चा में आया। तेंदुलकर ने 1988 में रणजी में डेब्यू किया था, जबकि कांबली को ये मौका एक साल बाद 1989 में मिला।

 

 

अंडर-19 टीम का रहे हैं हिस्सा

अंडर-19 टीम में जब कांबली शामिल किए गए थे, तो उनके साथ टीम में सौरव गांगुली, अजय जडेजा और आशीष कपूर जैसे क्रिकेटर भी शामिल थे, जो बाद में भारत के लिए इंटरनेशनल क्रिकेट भी खेले। 1989 में कांबली ने गुजरात के खिलाफ रणजी में डेब्यू किया था। वो उन बहुत खास बल्लेबाजों में शुमार हैं, जिन्होंने अपने रणजी क्रिकेट का सफर छक्के से शुरू किया था।

 

 

सबसे कम उम्र में लगाया था दोहरा शतक

कांबली के नाम भारत की ओर से सबसे कम उम्र में टेस्ट में दोहरा शतक लगाने का रिकॉर्ड दर्ज है। कांबली ने 21 वर्ष और 32 दिन की उम्र में ये कारमना किया था। इंग्लैंड के खिलाफ मुंबई में कांबली ने 224 रनों की पारी खेली थी। सबसे कम उम्र में डबल सेंचुरी का रिकॉर्ड पाकिस्तान के जावेद मियांदाद के नाम है, जिन्होंने 19 वर्ष 140 दिन की उम्र में अपनी पहली टेस्ट डबल सेंचुरी जड़ी थी। कांबली के बाद भारत की ओर से सबसे कम उम्र में डबल सेंचुरी लगाने वाले बल्लेबाज सुनील गावस्कर हैं। गावस्कर ने 1971 में वेस्टइंडीज के खिलाफ 21 वर्ष और 277 दिन की उम्र में ये कारनामा किया था। इस तरह से कांबली ने 22 साल बाद गावस्कर का रिकॉर्ड तोड़ा था।

 

 

तीन पारियों में सेंचुरी जड़ चुके हैं

कांबली लगातार दो टेस्ट मैचों में डबल सेंचुरी जड़ चुके हैं। इंग्लैंड के खिलाफ होमग्राउंड पर 224 रनों की पारी खेलने के बाद उन्होंने जिम्बाब्वे के खिलाफ दिल्ली टेस्ट में 227 रनों की पारी खेली थी।  कांबली के नाम एक और रिकॉर्ड दर्ज है। वो टेस्ट क्रिकेट में लगातार तीन पारियों में सेंचुरी जड़ चुके हैं। बैक-टू-बैक डबल सेंचुरी के बाद उनके बल्ले से लगातार तीन सेंचुरी निकली थीं।

 

 

2009 में इंटरनेशनल क्रिकेट को कहा अलविदा

कांबली ने अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच अक्टूबर 2000 में खेला था। इसके बाद उन्हें इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने का मौका नहीं मिला। हालांकि उन्होंने काफी लंबे समय बाद इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की। कांबली ने साल 2009 में इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहा था। कांबली बॉलीवुड फिल्म में भी नजर आ चुके हैं। सुनील शेट्टी की फिल्म ‘अनर्थ’ और अजय जडेजा के साथ ‘पल पल दिल के साथ’ में कांबली काम कर चुके हैं।…Next

 

Read More:

टीम इंडिया टेस्ट में टॉप पर कायम, ODI में नंबर एक की राह नहीं है आसान

विश्व कप 2019 के लिए टीम लगभग तय, लेकिन इस वजह से कोई भी हो सकता है बाहर : रोहित

‘द वॉल’ राहुल द्रविड़ के आज तक नहीं टूटे ये रिकॉर्ड, आंकड़ों के सरताज हैं द्रविड़

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *