Menu
blogid : 7002 postid : 1372056

क्रिकेटर नहीं कुछ और बनना चाहती थीं मिताली, आज हैं इतने करोड़ की मालकिन

मिताली राज देश की वो शख्सियत हैं, जिन्‍होंने भारतीय महिला क्रिकेट को एक नई पहचान दिलाई है। भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली अपनी बेहतरीन परफॉर्मेंस और कप्तानी के दम पर टीम इंडिया को वर्ल्डकप 2017 के फाइनल तक ले गईं। मिताली वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाली महिला क्रिकेटर हैं। मगर आपको जानकर हैरानी होगी कि क्रिकेट में सफलता के शिखर तक पहुंचीं मिताली शुरू में क्रिकेटर नहीं बनना चाहती थीं। आज एक सक्‍सेसफुल क्रिकेट कॅरियर के साथ मिताली करोड़ों की मालकिन हैं। आज यानी 3 दिसंबर को मिताली का बर्थडे है। आइये उनकी जिंदगी से जुड़ी ऐसी ही कुछ दिलचस्‍प बातें आपको बताते हैं।


mithali cover


बनना चाहती थीं क्‍लासिकल डांसर


mithali5


आज 35 साल की हुईं मिताली पिछले 12 साल से टीम इंडिया की कप्तान हैं। मिताली का जन्म राजस्‍थान के जोधपुर में 3 दिसंबर 1982 को एक तमिल परिवार में हुआ। इसके चलते उन्होंने बचपन में ही क्लासिकल डांस सीखना शुरू कर दिया। 10 साल की उम्र तक मिताली भरतनाट्यम में पारंगत हो गईं थीं। वे इसी में कॅरियर बनाने की सोचने लगीं थीं। बताते हैं कि मिताली बचपन से आलसी थीं। उनके पिता चाहते थे कि बेटी एक्टिव बने, इसलिए उन्होंने मिताली को क्रिकेट खेलने के लिए कहा। 10 साल की उम्र में मिताली क्लासिकल डांस छोड़कर हाथ में बैट पकड़े मैदान में नजर आने लगीं।


17 साल की उम्र में भारतीय टीम में हो गया चयन


mithali3


इसके बाद उनकी डांस टीचर ने मिताली को क्रिकेट और डांस में से एक चुनने को कहा। मिताली के पिता भी क्रिकेट खेल चुके हैं। मिताली के अंदर क्रिकेट के जुनून को देखते हुए उनके माता-पिता ने उन्हें काफी सपोर्ट किया। मिताली की मां ने उनके लिए अपनी नौकरी तक छोड़ दी। स्कूल में मिताली लड़कों के साथ क्रिकेट की प्रैक्टिस करती थीं। 17 साल की उम्र में मिताली का चयन भारतीय टीम में हो गया। मिताली ने एक इंटरव्‍यू में कहा था कि शुरुआत में मैंने सिर्फ पेरेंट्स की खुशी के लिए क्रिकेट खेलना शुरू किया था। मेरा पहला प्यार तो भरतनाट्यम ही था। एक बार मैंने सिविल सर्विस में भी कॅरियर बनाने के लिए सोचा।


इतने करोड़ की हैं मालकिन


Mithali raj7


मिताली राज को 21 साल की उम्र में भारतीय महिला टीम की कमान सौंप दी गई थी। मिताली पहली महिला क्रिकेटर हैं, जिन्हें विजडन इंडिया क्रिकेटर अवॉर्ड मिला है। वे किताबें पढ़ने की शौकीन हैं। हर मैच में बैटिंग करने जाने से पहले किताब पढ़ते हुए अपना नंबर आने का इंतजार करती हैं। हाल ही में वर्ल्डकप में इंग्लैंड के खिलाफ मैच में भी उन्‍हें ऐसा करते हुए देखा गया था। मिताली को खेल में अच्छे प्रदर्शन के लिए भारत सरकार द्वारा अर्जुन अवॉर्ड मिल चुका है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मिताली का नेट वर्थ लगभग 5.5 करोड़ रुपये है। हालांकि, इसके बावजूद वे बेहद सिंपल लाइफ जीती हैं…Next


Read More:

कैफ की वजह से गांगुली ने लॉर्ड्स में लहराई थी अपनी जर्सी, ऐसी है इनकी लव स्टोरी

सचिन से लेकर मेस्‍सी तक, इन 6 धाकड़ खिलाड़ियों पर सजी जर्सी नंबर 10
कोहली से लेकर इंजमाम तक, जब मैदान पर अपने आंसू नहीं रोक पाए देश-विदेश के ये खिलाड़ी

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *