Menu
blogid : 7002 postid : 1364785

VVS लक्ष्मण कभी नहीं बन पाए विश्वकप टीम का हिस्सा, पूर्व राष्ट्रपति के हैं ‘भतीजे’

वांगीपुरप्पू वेंकट साई लक्ष्मण, यानी वीवीएस लक्ष्मण को प्यार से ‘वेरी वेरी स्पेशल लक्ष्मण’ भी कहा जाता है। क्योंकि उन्होंने वह कारनामा कर दिखाया, जो बड़े-बड़े धुरंधर खिलाड़ी भी कभी-कभार ही कर पाते हैं। क्रिकेट की दुनिया में यूं तो वीवीएस लक्ष्मण को उनकी कोलकाता में खेली गई 281 रनों की लाजवाब पारी के लिए याद किया जाता है। लेकिन वेरी वेरी स्पेशल लक्ष्मण ने इसके अलावा भी अपने क्रिकेट करिअर में ऐसी कई पारियां खेलीं, जिन्होंने टीम इंडिया को जीत दिलाई। तो चलिए जानते हैं उनके बारे में कुछ खास बातें।



cover vvs




डॉक्टर बनना चाहते थे लक्ष्मण

लक्ष्मण डॉक्टरी परिवार से ताल्लुक रखते हैं और वह खुद ही पढ़ाई लिखाई में बहुत तेज थे। उनके माता- पिता दोनों ही डॉक्टर हैं, लक्ष्मण ने भी मेडिकल छात्र के रूप में दाखिला लिया था। लेकिन उन्होंने डॉक्टरी को छोड़ एक क्रिकेटर बनने का फैसला लिया और क्रिकेट को एक बेहद ही स्टाइलिश बल्लेबाज देखने को मिला।



laxmannn



लक्ष्मण का विकेट लेना होती थी बड़ी बात

वीवीएस लक्ष्मण के बारे में अगर किसी से जानना है तो आप किसी भी ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज से उनके बारे में पूछ सकते हैं। ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज ब्रेट ली ने एक बार कहा था कि, अगर आप द्रविड़ का विकेट लेते हैं तो क्या बात। अगर आप सचिन का विकेट लेते हैं तो आप कमाल हैं, लेकिन अगर आप लक्ष्मण का विकेट लेते हैं तो आप जादूगर हैं।



Del521372



इस राष्ट्रपति के भतीजे हैं

आपको ये जानकर थोड़ा अजीब लगेगा लेकिन यह सच है कि लक्ष्मण भारत के दूसरे राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के भतीजे यानी ग्रेट ग्रैंड नेफ्यू हैं। लक्ष्मण के इस कनेक्शन की जानकारी उनके बड़े से बड़े प्रशंसक को भी शायद ही पता हो। इस बात की जानकारी उनके विकिपीडिया के पेज पर भी है।



VVS-Laxman-



ऑस्ट्रेलिया ने दिया वेरी वेरी स्पेशलटाइटल

लक्ष्मण ने अपने दौर की सबसे मजबूत मानी जानें वाली टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हमेशा बड़े स्कोर बनाए। कहा जाता है कि ऑस्ट्रेलिया उन्हें तकनीक और कलाई के इस्तेमाल के मामले में सचिन से भी बेहतरीन मनाती थी। ‘वेरी वेरी स्पेशल’ टाइटल उन्हें इयान चैपल ने दिया था।



laxman




डक से है बेहद खास कनेक्शन

वीवीएस लक्ष्मण वैसे तो क्रिकेट जगत के सबसे काबिल बल्लेबाज माने जाते हैं। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि, लक्ष्मण ने जब फर्स्ट क्लास क्रिकेट में डेब्यू किया था तो वह डक पर आउट हुए थे। इसी तरह वनडे क्रिकेट में भी डेब्यू के दौरान उन्होंने शून्य का स्कोर बनाया था। हालांकि टेस्ट में ऐसा नहीं हुआ था।


CRICKET-BAN-IND-PRACTISE



कभी नहीं खेला विश्व कप

100 से ज्यादा टेस्ट खेलने वाले लक्ष्मण के करियर में एक कमी भी है। वह कभी भी भारत के लिए विश्व कप नहीं खेल सके। 100 टेस्ट खेलने वाला यह खिलाड़ी सिर्फ 86 वनडे मैचों में ही भारत का प्रतिनिधित्व कर पाया। हालांकि साल 2003 विश्व कप में उनका नाम आगे आया था लेकिन उन्हें टीम में जगह हासिल नहीं हुई थी।


laxman




साल 2004 में हुई शादी


vvs0


जी.आर शैलजा से लक्ष्मण ने साल 2004 में शादी की और दोनों को दो बच्चे, एक बेटा और एक बेटी है। लक्ष्मण ने भारत की ओर से 134 टेस्ट मैच खेले हैं और 8,781 रन बनाए हैं। लक्ष्मण ने इस दौरान 17 सेंचुरी और 56 हाफ सेंचुरी बनाए हैं। लक्ष्मण को पद्मश्री पुरस्कार से भी सम्मानित किय जा चुका है।Next


Read More:

इतने कप्‍तानों की अगुवाई में खेल चुके हैं नेहरा, ऐसा रहा क्रिकेट कॅरियर

कोहली-युवी समेत भारत के वो बल्लेबाज जिन्होंने बनाया सबसे तेज शतक का रिकॉर्ड

इन 6 बल्लेबाजों ने बिना छक्का मारे वनडे में खेली 150 रनों की पारी, लिस्ट में दो भारतीय खिलाड़ी

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *