Menu
blogid : 7002 postid : 1381012

धोनी से पहले डेब्यू कर चुके हैं ये विकेटकीपर, टीम में जगह बनाने के लिए अब भी कर रहे संघर्ष

भारत के पूर्व कप्तान एम एस धोनी ने जब से टेस्ट से कप्तानी छोड़ी है सबसे बड़ा सवाल यही बना हुआ है कि आखिर अब कौन धोनी की जगह लेगा। इस सवाल को हाल ही में गावस्कर ने ये सवाल फिर से उठाया जब विदेशी दौरे पर गई टीम इंडिया टेस्ट सीरीज में स्ट्रगल कर रही थी। सुनील गावसकर ने तो यहां तक कह दिया कि एमएस धोनी को टेस्ट क्रिकेट से रिटायरमेंट नहीं लेना चाहिए था। ऐसे में तीसरा टेस्ट जल्द ही शुरू होने वाला है और अब तीसरे टेस्ट में टीम तीसरे कीपर के तौर पर बैट्समैन-विकेटकीपर दिनेश कार्तिक को टीम में शामिल करेगी, कार्तिक अफ्रीका पहुंच गए हैं और साथ ही अभ्यास भी शुरु कर दिया।


cover


1. पार्थिव पटेल

भारतीय टीम के बैट्समैन-विकेटकीपर पार्थिव पेटल ने टेस्ट डेब्यू अगस्त 2002 में किया था, धोनी से करीब 3 साल पहले। लेकिन पटेल वो कारनामा नहीं कर सके जिसकी लोगों को उम्मीद थी। जिस वजह से वो टीम का हिस्सा नही बन सके। हाल हीमें अफ्रीकी दौरे में दूसरे टेस्ट में उनका प्रर्दशन इतना खराब रहा कि, गावस्कर ने धोनी को याद करते हुए ये कहा ‘एमएस धोनी को टेस्ट क्रिकेट से रिटायरमेंट नहीं लेना चाहिए था। उन्हें कप्तानी छोड़कर बैट्समैन-विकेटकीपर के तौर पर टीम में बने रहना चाहिए था’।



parthiv patel



2. दिनेश कार्तिक

भारत के दौरे पर आई न्यूजीलैंड टीम जब वनड खेल रही थी, उस टीम में दिनेश कार्तिक को शामिल किया गया था। उसके बाद अब अफ्रीका के दौरे पर कार्तिक को टीम में लिया गया है। वहीं धोनी ने दिसंबर, 2005 में डेब्यू किया था यानि एक साल पहले। लेकिन धोनी को जल्द ही टीम का हिस्सा बना लिया गया, वहीं कार्तिक अभी भी टीम में आने के लिए इंतजार कर रहे हैं।


Karthik-



3. रिद्धिमान साहा

तीन मैचों की सीरीज के अब तक हुए दो मैचों में टीम इंडिया ने अलग-अलग विकेटकीपर को टीम में शामिल किया। पहले मैच में रिद्धिमान साहा ने बतौर बैट्समैन-विकेटकीपर थे, लेकिन उनके चोटिल होने के कारण उन्हें दूसरे टेस्ट में मौका नहीं मिल सका।



Wriddhiman Saha

वैसे रिद्धिमान साहा ने पहले मैच में बल्लेबाजी से बेहद निराश किया था, जबकि उन्होंने विकेट के पीछे अच्छा प्रर्दशन किया था। दिसंबर, 2014 धोनी ने टेस्ट क्रिकेट से रिटायरमेंट ले लिया था, उसके बाद से साहा टेस्ट टीम में विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। रिद्धिमान साहा ने साल 2010 में टेस्ट में डेब्यू किया था, लेकिन धोनी के रहते उन्हें बेहद कम मौके मिले।…Next


Read More:

इन 4 मौकों पर ताश की तरह बिखर गई टीम इंडिया की बल्लेबाजी, शर्मनाक हैं रिकॉर्ड

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके इन धाकड़ खिलाड़ियों पर IPL में बरस सकता है पैसा

जब मैदान पर इस भारतीय क्रिकेटर को लड़की करने लगी किस, कमेंटेटर करने लगा था गिनती

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *