Menu
blogid : 1048 postid : 154

Career in Bank-कैसे करें बैंक की तैयारी

नई इबारत नई मंजिल

  • 197 Posts
  • 120 Comments

Career in Bank

सरकारी बैंक (Government Bank) में नौकरी का एक अलग ही क्रेज होता है। उसमें भी यदि एसबीआई (State Bank of India) में पीओ (Probationary Officers)  का पद हो, तो नौकरी (Jobs) करने का क्रेज और बढ जाता है। यदि आपका सपना भी बैंक (Bank) में पीओ (Probationary Officers) बनने का है, तो आपके लिए बेहतर अवसर हैं।


आवश्यक योग्यता  (Qualification)

किसी भी विषय से ग्रेजुएशन (Graduation) अनिवार्य है। आरक्षित दायरे में आने वाले स्टूडेंट्स (Students) को सरकारी नियमानुसार अंकों में छूट का प्रावधान है। पीओ (Probationary Officers) के लिए उम्र सीमा जनरल कैंडिडेट (General Candidate)  के लिए 21 से 30 वर्ष है।


किस तरह की परीक्षा  (Examination)

प्रोबेशनरी (Probationary) पदों के लिए दो चरणों में लिखित परीक्षा (Written Test) होगी। इसमें ऑब्जेक्टिव और डिस्क्रिप्टिव (Objective and Descriptive) दोनों तरह की परीक्षाएं (Examination) होती हैं। इसमें डाटा एनालिसिस ऐंड इंटरप्रिटेशन (Data Analysis and Interpretation) , रीजनिंग (Reigning), जनरल अवेयरनेस (General Awareness) और इंग्लिश लैंग्वेज (English Language) से संबंधित प्रश्न होंगे। उसके बाद 50 अंकों की डिस्क्रिप्टिव परीक्षा (Descriptive Exam) होगी। अंत में इंटरव्यू या ग्रुप डिस्कशन (Group Discussions) के लिए बुलाया जाएगा। यदि आप इसमें सफल होंगे, तो आपका चयन पीओ (Probationary Officers) पद के लिए हो जाएगा।


तैयारी के लिए रणनीति (Preparation)

बैंक पीओ (Bank Probationary Officers) परीक्षा की तैयारी आप तभी बेहतर कर पाएंगे, जब आप खास योजना बनाएंगे और उसी के अनुरूप तैयारी को अंतिम रूप देंगे। विशेषज्ञों के अनुसार, एसबीआई (State Bank of India) की बैंक परीक्षा (Bank Examination) में प्रश्न काफी कठिन होते हैं। इसमें सफलता तभी मिल सकती है, जब आप सभी विषयों की बेहतर तैयारी करेंगे और समय रहते अपनी कमजोरियों से निजात पाएंगे। इस तरह की तैयारी के लिए अभ्यास महत्वपूर्ण है। आपके लिए बेहतर होगा कि परीक्षा में पूछे जानेवाले सभी विषयों की तैयारी के लिए समय निर्धारित कर लें और उसी के अनुरूप तैयारी को अंतिम रूप दें। मैथ्स (Maths) की तैयारी के लिए आप आरएस अग्रवाल (R.S. Agarwal) की पुस्तक का गहन अध्ययन कर सकते हैं। मैथ्स (Maths) हल करते समय इस बात का ध्यान रखें कि आप कम समय में कैसे अधिक से अधिक प्रश्नों को हल कर सकते हैं। यह तभी संभव हो सकेगा, जब आप महत्वपूर्ण सूत्रों को याद रखेंगे। गणित (Mathematical) के प्रश्नों को शॉर्टकट फार्मूले (Shortcut Formula) से हल करने का प्रयास करें। रीजनिंग (Reigning) और न्यूमेरिकल (Numerical) के लिए विश्वसनीय पुस्तक पढने के अलावा प्रतियोगिता पत्रिकाओं (Competition Papers) की मदद से प्रैक्टिस सेट (Practice Set) हल करने की कोशिश करें। अंग्रेजी के लिए ग्रामर (Grammar) की प्रामाणिक बुक जैसे रेन ऐंड मार्टिन आदि को पढें। इसके साथ ही राष्ट्रीय अंग्रेजी दैनिक समाचारपत्रों (Daily News Paper) की सहायता से शब्द भंडार (Vocabulary) बढाते रहें। जनरल अवेयरनेस (General Awareness) की तैयारी के लिए जरूरी है कि आप कम से कम एक अखबार (News Paper) का नियमित अध्ययन करें। इसके साथ ही करेंट अफेयर्स (Current Affairs) से संबंधित मासिक पत्रिका (Monthly Magazine) जैसे जागरण जोश (Jagran Josh) या अन्य मासिक पत्रिकाएं (Monthly Magazine) पढने की आदत डालें। मासिक पत्रिका (Monthly Magazine) में एक माह की महत्वपूर्ण जानकारियां (Important Informations) संक्षेप में होती हैं, जिसे कम समय में आसानी से पढा जा सकता है। इसके अतिरिक्त इस तरह की मासिक पत्रिका (Monthly Magazine) को आसानी से संग्रह भी किया जा सकता है। कुछ स्टूडेंट्स (Students) परीक्षा में प्रश्नों को हल करते समय निगेटिव अंकों (Negative Marking) का विशेष ध्यान नहीं रखते हैं, जबकि ऑब्जेक्टिव परीक्षा (Objective Exams) में एक या आधे अंक का भी खास महत्व होता है। हो सकता है कि आधा अंक कम होने से आप लिखित परीक्षा (Written Test) में असफल हो जाएं। इससे बचने का सरल उपाय यही है कि आप जो जानते हैं, उसे ही हल करें।


कैसे तोडें अंतिम चक्रव्यूह

लिखित परीक्षा (Written Test) में सफल होने के बाद जीडी (Group Discussions) और इंटरव्यू (Interview) देना होगा। जीडी (Group Discussions) के माध्यम से अभ्यर्थियों (Applicant) के व्यवहार, बातचीत का तरीका और ज्ञान की जांच की जाती है। यदि आप अपने तर्को से लोगों को सहमत करने में सफल होते हैं, तो जीडी में सफलता प्राप्त करना आसान हो जाएगा। इस तरह इंटरव्यू (Interview) में आपसे यह जानने की कोशिश की जाती है कि आप कितने योग्य हैं और आप अपने कार्यो से संस्थान को किस तरह आगे बढा सकते हैं। यदि आप में इस तरह की क्वालिटी (Quality) है, तो आप इस परीक्षा में निश्चित सफल हो सकते हैं।


Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *