Menu
blogid : 11280 postid : 96

बॉलिवुड में दमदार भूमिका निभाने वाली अभिनेत्रियां – Best Performances of Bollywood

हिन्दी सिनेमा का सफरनामा

  • 150 Posts
  • 69 Comments

सुंदरता, ग्लैमर और अदाओं की पर्याय बन चुकी बॉलिवुड अभिनेत्रियों में अभिनय क्षमता की भी कोई कमी नहीं है. उनकी अदाकारी और स्वाभाविक अभिनय का लोहा केवल भारतीयों ने ही नहीं बल्कि विदेशियों ने भी माना है. हिंदी सिने जगत में मौजूद इन खूबसूरत चेहरों में कुछ चेहरे ऐसे भी हैं जिन्होंने ना सिर्फ अपनी अपनी खूबसूरती से दर्शकों को लुभाया बल्कि अपने दमदार और काबिल-ए-तारीफ अभिनय क्षमता से सभी को आश्चर्यचकित भी किया. पर्दे पर उनके गजब के आत्मविश्वास और स्वाभाविक अभिनय को देखकर दर्शक उनकी तारीफ करते नहीं थके. बात भले ही गुजरे जमाने की क्यों ना हो लेकिन आज भी जब कभी बॉलिवुड की उन अभिनेत्रियों का जिक्र उठता है जिन्होंने दमदार अदाकारी के दम पर बॉलिवुड जगत में अपना अलग मुकाम स्थापित किया है तो कुछ नाम अपने आप ही जहन में आ जाते हैं. इस लेख के जरिए हम आपको हिंदी फिल्म इंडस्ट्री से जुड़ी कुछ ऐसी ही अभिनेत्रियों द्वारा अभिनीत फिल्म की जानकारी दे रहे हैं जिसमें उनकी पॉवरफुल एक्टिंग स्किल्स ने एक साधारण फिल्म को एक बड़ी हिट बनाने के साथ-साथ दर्शकों को भी अपने साथ जोड़कर रखा.


nargis duttनर्गिस (मदर इंडिया)1957 में प्रदर्शित इस फिल्म में नर्गिस (राधा) के अभिनय को देखकर सभी दर्शक हैरान रह गए. खूबसूरत नर्गिस ने इस फिल्म में एक ऐसी ग्रामीण महिला का किरदार निभाया था जो उधार में लिए हुए पैसों को चुकाने के लिए दिन-रात कड़ी मेहनत करती है. पति के साथ छोड़ देने के बाद वह अकेले ही अपने दोनों बच्चों की देखभाल करती है. फिल्म का सबसे प्रभावकारी और दुखद हिस्सा है राधा द्वारा अपने ही बेटे की हत्या क्योंकि उसका अपना बेटा अनैतिक रास्तों पर चल पड़ता है. जिस संजीदगी और मार्मिकता से नर्गिस दत्त ने इस किरदार को निभाया वह शायद किसी के लिए भी मुश्किल था.


सुचित्रा सेन (आंधी) इस फिल्म में नायिका सुचित्रा सेन ने एक ऐसी महिला की भूमिका निभाई थी जिसकी शादी उसके अति महत्वकांक्षी पिता द्वारा तोड़ दी जाती है. राजनीति में होने वाले उतार-चढ़ावों और  अकेलेपन से जूझती महिला का किरदार निभाने वाली सुचित्रा के अभिनय को भरपूर सराहना मिली. वर्ष 1975 में प्रदर्शित यह फिल्म के साथ यह विवाद भी जुड़ा रहा कि यह सुचित्रा का पात्र इंदिरा गांधी से प्रेरित है.


[Read –  बॉलिवुड ने बनाए है कई बड़े रिकॉर्ड]


shabanaशबाना आजमी (अर्थ) 1982 में प्रदर्शित इस फिल्म में शबाना आजमी की भूमिका एक ऐसी महिला की थी जिसके निर्देशक पति ने किसी दूसरी महिला के लिए अपनी पत्नी को छोड़ दिया था. पति से अलगाव और आर्थिक परेशानी ने एक पराश्रित महिला को किस तरह सशक्त और आत्म निर्भर बनाया यह इस फिल्म की स्टोरी लाइन थी. इस फिल्म में शबाना ने बड़ी सहजता और गंभीरता के साथ एक दमदार भूमिका निभाई थी.


[Read –Real names of Bollywood stars]

umrao janaरेखा (उमराव जान) युवा अमीरन को बचपन में ही अपने घर से अगवा कर लखनऊ की तवायफ उमराव जान बना दिया जाता है. बस यहीं से शुरू हो जाता है सपनों के टूटने और अरमानों के बिखरने का सिलसिला. परिवार वालों की अवहेलना और अकेलापन उमराव जान को मजबूत बना देता है.


अपनी कविताओं को ही अपना सहारा समझने वाली एक तवायफ की भूमिका में रेखा ने अपनी अदाओं और संवाद अदायगी के बूते जान भर दी थी.


vidya balanविद्या बालन (द डर्टी पिक्चर) 2011 में आई विवादास्पद फिल्म द डर्टी पिक्चर में विद्या बालन ने छोटे शहर की लड़की रेशमा जो अभिनेत्री बनना चाहती है, का किरदार निभाया था. फिल्म में विद्या का पात्र दक्षिण भारतीय फिल्मों की अभिनेत्री सिल्क स्मिता से प्रेरित था. सफल अभिनेत्री बनने की इच्छुक रेशमा ने कई अभिनेताओं और अमीर लोगों को अपने स्वार्थ के लिए प्रयोग किया. लेकिन अंत में उसे सिवाय अकेलेपन और निराशा के कुछ हाथ नहीं लगा. अपनी सेंसुअल और बोल्ड अदाओं से विद्या बालन ने दर्शकों को खूब आकर्षित किया. इस फिल्म में विद्या बालन ने बेहिचक बोल्ड और दमदार दृश्य दिए थे.


[Read – बॉलिवुड कलाकारों के दुखद और हैरान कर देने वाले अंत]



Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *