Menu
blogid : 11280 postid : 110

सितारे जिन्होंने रोशन किया दक्षिण भारतीय सिनेमा – Super stars of south Indian cinema

हिन्दी सिनेमा का सफरनामा

  • 150 Posts
  • 69 Comments

राज और सिमरन की प्रेम कहानी हो या एंग्री यंग मैन का किरदार, मोगांबो की हंसी से लेकर कैट्रीना की अदाओं तक बॉलिवुड की हर चीज निराली है. लेकिन अगर आप यह सोचते हैं कि लोकप्रियता और शोहरत का सिलसिला केवल हिंदी फिल्म इंडस्ट्री तक ही सीमित है तो आपको भारत के दक्षिणी कोने की ओर भी ध्यान देना चाहिए. क्योंकि हमारी दक्षिण भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में भी कुछ स्टार्स ऐसे हैं जिन्होंने अपनी अदाकारी और स्टाइल के बल पर अपने लिए एक विशेष मुकाम हासिल किया है. इस लेख के माध्यम से हम आपको ऐसे ही कुछ साउथ इंडियन एक्टर्स से मिलवा रहे हैं जो दक्षिण भारतीय फिल्मों की शान माने जाते हैं:

1. राजकुमार – दक्षिण भारतीय सिनेमा के अमिताभ कहे जाने वाले राजकुमार को अगर कन्नड फिल्मों का सबसे महान नायक कहा जाए तो यह कदापि गलत नहीं होगा. 24 अप्रैल, 1928 को जन्में राजकुमार को राष्ट्रीय स्तर पर कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री को स्थापित करने का श्रेय दिया जाता है. वर्ष 1995 में राजकुमार को हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के सबसे बड़े अवॉर्ड दादा साहब फालके सम्मान और 1983 में भारतीय सरकार द्वारा पद्मभूषण से सम्मानित किया गया था.

2. शिवाजी गणेशन – 1 अक्टूबर, 1928 को जन्में शिवाजी गणेशन दक्षिण भारतीय फिल्मों के सबसे सम्मानजनक अभिनेता हैं. वर्ष 1952 में प्रदर्शित फिल्म पराशक्ति से अपने कॅरियर की शुरुआत करने वाले शिवाजी ने अपने जीवन में 300 से अधिक फिल्मों में काम किया था. शिवाजी गणेशन को दादा साहेब फाल्के और पद्मभूषण पुरस्कार जीतने के अलावा दो बार राष्ट्रीय  पुरस्कारों से भी नवाजा गया था.


3. रजनीकांत – रजनीकांत की लोकप्रियता को शब्दों में नहीं आंका जा सकता. 12 दिसंबर, 1950 को जन्में रजनीकांत ने 1975 में प्रदर्शित तमिल फिल्म अपूर्व रंगागल से अपने कॅरियर की शुरुआत की थी. अलग-अलग भाषाओं की 150 से अधिक फिल्मों में काम कर चुके रजनीकांत बॉलिवुड में भी बहुत लोकप्रिय हैं. शिवाजी फिल्म के लिए 26 करोड़ की फीस लेने वाले रजनीकांत जैकी चैन के बाद विश्व के दूसरे हाइएस्ट पेड अभिनेता बन गए.

4. चिरंजीवी – तेलुगू फिल्मों के मेगा स्टार माने जाने वाले चिरंजीवी का जन्म 22 अगस्त, 1955 को हुआ था. चिरंजीवी को चार बार नंदी अवॉर्ड्स से सम्मानित किया जा चुका है. इसके अलावा भारत सरकार ने भी चिरंजीवी को राष्ट्रीय पुरस्कार प्रदान किया है. फिल्मों के अलावा चिरंजीवी राजनीति में भी सक्रिय हैं.

5. कमल हसन – दक्षिण भारतीय फिल्मों के सबसे ज्यादा अनुभवी अभिनेता की उपाधि से सम्मानित कमल हसन हसन को दिए गए सम्मानों की सूची बहुत लंबी है. इन्हें चार राष्ट्रीय पुरस्कार, 10 दक्षिण भारतीय फिल्मफेयर अवॉर्ड, 2 फिल्मफेयर अवॉर्ड, तीन नंदी अवॉर्ड, नौ तमिलनाडु स्टेट नेशनल अवॉर्ड आदि प्रदान किए गए हैं. इन सब के अलावा कमल हसन को भारतीय सरकार द्वारा पद्मश्री भी दिया गया है.

6. ममूट्टी – मलयालम फिल्म इंडस्ट्री के सबसे प्रख्यात अभिनेता ममूट्टी 360 फिल्मों में काम कर चुके हैं. ममूट्टी तीन बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेता की श्रेणी में राष्ट्रीय पुरस्कार भी जीत चुके हैं जो कमल हसन और अमिताभ बच्चन के बराबर है. इसके अलावा ममूट्टी को केरल स्टेट फिल्म अवॉर्ड, 11 साउथ इंडियन फिल्मफेयर अवॉर्ड  के अलावा भारत सरकार द्वारा पद्मश्री से भी सम्मानित किया जा चुका है.

  1. 7. विष्णुवर्धन – राजकुमार के बाद अगर कन्नड़ फिल्मों में किसी ने सबसे अधिक योगदान दिया है तो वह है डॉ. विष्णुवर्धन जिन्हें आठ फिल्मफेयर अवॉर्ड्स, सात कर्णाटक स्टेट अवॉर्ड्स के साथ-साथ कई अन्य पुरस्कार भी प्रदान किए गए हैं.

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *