Menu
blogid : 25489 postid : 1388207

बचपना

Parivartan- Ek Lakshya

  • 23 Posts
  • 1 Comment

पीठ पीछे
प्यार से तुम
रोज लेते चुटकियां
और नजरे फेर लेते
सामने आते ही तुम .

जिंदगी
कुछ रोज की
शर्माओगे यूं कब तलक
सारे तोते उड़ गए
जो तेरे दिल के चोर थे .

भूल के भी
भूल से
मत बचपना उधार ले
बरना दुनिया सभ्य कितनी
बचपने से पूछ ले .

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *