Menu
blogid : 27464 postid : 19

कोरोना से जंग

News

  • 5 Posts
  • 1 Comment

 

21वीं सदी की सबसे बड़ी महामारी कोरोना वायरस ने आज देश दुनिया की हालत खराब कर दी है। पूरे देश की स्थिति कोरोना वायरस के कारण गंभीर बनी हुई है चीन के वुहान से फैला कोरोना वायरस धीरे-धीरे पूरे विश्व को अपनी चपेट में लेता चला गया। आज भी कोरोना वायरस रुकने का नाम नहीं ले रहा है। पूरे विश्व में कोरोना संक्रमितओं की संख्या वर्तमान समय में 33 लाख से अधिक पहुँच चुकी है।  यह संख्या दिनों दिन बढ़ती जा रही है मौतों का आंकड़ा भी दो लाख को पार कर चुका है और कोरोना के कारण तेजी से मरीजों की मौत हो रही है। यह आंकड़े यह बताने के लिए काफी है कि आज विश्व किस संकट में है। कोरोना वायरस जनमानस के लिए बहुत ही खतरनाक बीमारी बन गई है। इससे भी खतरनाक है कि अभी तक कोरोना वायरस की कोई उचित दवा व वैक्सीन नहीं मिली है। इन सबके बावजूद यदि हम कोरोना से लड़कर स्वस्थ्य हो चुके लोगों की संख्या देखें तो यह अच्छी तो नहीं पर इस संकट के समय में एक राहत की खबर है कि विश्व में 10 लाख से अधिक लोग ऐसे हैं जो कोरोना वायरस से लड़े और अब पूरी तरह स्वस्थ्य है।

 

 

कोरोना वायरस ने विकसित, विकासशील और अविकसित सभी देशों को अपनी चपेट में ले लिया और यह सभी देश कोरोना महामारी से जंग लड़ रहे हैं| कोरोना कई देशों में अपना प्रचंड रूप दिखा चुका है तो कहीं कोरोना अभी शुरुआती दौर में है अमेरिका, स्पेन, इटली, फ्रांस व जर्मनी जैसे बड़े देशों में कोरोना संक्रमितों की गिनती लाखों में हो रही है और कोरोना के कारण होने वाली मौतों का आंकड़ा भी लगातार बढ़ता जा रहा है|

 

 

यदि बात भारत देश की करें तो यहां भी कोरोना हजारों की संख्या में लोगों को अपनी चपेट में ले चुका है भारत जैसे बड़े व घनी आबादी वाले देश में कोरोना धीरे-धीरे पूरे भारत में फैल गया| भारत में कोरोना के 37000 से अधिक मरीज हो चुके हैं जबकि हजार से अधिक लोग अपनी जान गवां चुके हैं और एक सकारात्मक आंकड़ा यह है कि 9500 हजार से अधिक लोग कोरोना से जंग जीत चुके हैं| भारत देश लॉकडाउन लागू कर कोरोना वायरस से लड़ रहा है जो इस समय सही और उचित भी है| लॉकडाउन के कारण मजदूर वर्ग व गरीबों की स्थिति दयनीय हो गई है पर इन सबके परे लॉकडाउन ही हैं जो अभी तक भारत में मरीजों की संख्या हजारों में रोके हुए हैं नहीं तो इन्हें बढ़ने में समय नहीं लगता| भारत में पहले 21 दिनों का लॉकडाउन लगाया गया और बाद में इसे 19 दिन और दुबारा 14 दिनों तक बढ़ा दिया गया| अब लॉकडाउन खुलने की अगली तारीख 17 मई है जो स्थिर नहीं है| लेकिन अब लॉकडाउन स्थिति को देखते हुए लगाया गया है| 130 जिलों को रेड जोन में, 284 जिलों को ऑरेंज जोन में, व 319 जिलों को ग्रीन जोन में रखा गया है यहाँ पर अलग अलग पाबंदियां व छुट स्थिति को देखकर दी गई है|

 

 

कोरोना को हराने के लिए कोरोना योद्धाओं ने अपनी जी जान लगा रखी है इनकी बदौलत ही देश आज कोरोना से जंग लड़ रहा है| प्रथम श्रेणी के कोरोना योद्धाओं यानी डाॅक्टरों की बदौलत ही कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद ठीक होने का आंकड़ा 9500 को पार कर चुका है| और अब प्लाज्मा थेरेपी द्वारा भी मरीजों को ठीक करने के प्रयास किये जा रहे हैं| दिल्ली में एक मरीज प्लाज्मा थेरेपी से ठीक हो चुका है जिससे अब प्लाज्मा थेरेपी भी कोरोना ईलाज में कारगर सिद्ध होती नजर आ रही है|

 

 

कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है जो निराशा की बात है पर कोरोना से सही होते जा रहे मरीजों की संख्या अथवा कुछ सकारात्मक आंकड़े यह साफ कर देते हैं कि कोरोना से जंग लंबी व बड़ी जरूर हो सकती है पर यह असंभव नहीं है जीत हमारी ही होगी| कोरोना की इस जंग में हमारी भी ये जिम्मेदारी है कि कोरोना योद्धाओं का सम्मान करें जो दिन रात देश की सेवा कर रहे हैं और अपने घरों पर भी नहीं जा पा रहे हैं| सभी सरकार द्वारा जारी नियमों का पालन करें| घर रहे, सुरक्षित रहे…..

 

 

 

नोट : ये लेखक के निजी विचार हैं और इसके लिए वह स्वयं उत्तरदायी हैं।

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *