Menu
blogid : 28108 postid : 38

Piles की बीमारी को बिल्कुल भी ना करें नजरअंदाज

Akshansh Kulshreshtha

  • 4 Posts
  • 1 Comment

इंसान का शरीर कई तरह की बीमारियों को दावत देता है जिसमें बड़ी वजह है इंसान का खानपान। आजकल के दौर में खानपान ऐसा हो चुका है जो इंसान के शरीर को लगता कम निचोड़ता ज्यादा है। इसके चलते लोगों को पेट की समस्या रहती है और यह समस्या कई तरह की बीमारी पैदा कर देती है। 

piles
Image Source : Google

यह भी पढ़े : भारतीय न्याय व्यवस्था

ऐसी ही एक बीमारी है पाइल्स यानी बवासीर यह एक ऐसी बीमारी है इंसान को बहुत पीड़ा दे सकती है, अंग्रेजी में इस बीमारी को piles और Hemorrhoids के नाम से भी जाना जाता है।

 

क्या होता है इस बिमारी में ?
इस बीमारी से ग्रसित होने पर गुदा यानी ANUS के अंदर और बाहर या rectum के निचले हिस्से में सूजन आ जाती है, जिसके कारण गुदा के अंदर या बाहर किसी भी जगह पर मस्से जैसे दाने बन जाते हैं। यह मस्से काफ़ी दर्दनाक होते हैं। गूगल पर मौजूदा आंकड़ों की माने तो भारत के अंदर लगभग 60 फीसद लोगों को किसी ना किसी उम्र के पड़ाव में बवासीर जैसे बीमारी की समस्या हो ही जाती है, और जल्द से जल्द अगर इसका इलाज़ ना करवाया जाए तो ये और रोद्र रूप ले सकता है , ऐसे में इस बीमारी से निपटने के लिए सही उपचार (piles treatment) और परेज बहुत ज्यादा आवश्यक है।

यह भी पढ़े : Coronavirus से स्वस्थ हुए मरीजों में 5 महीने तक शरीर में रहती है एंटीबॉडी

यह बीमारी 2 प्रकार की होती है, खूनी बवासीर और बादी बवासीर लेकिन अगर इस बीमारी का इलाज जल्द से जल्द नहीं किया गया तो यह ऑपरेशन तक की स्थिति पैदा कर सकती है। ऐसे में भलाई इसी में होती है कि शुरुआती दौर में ही इसका उपचार सही तरीके से कर दिया जाए, इस बीमारी का इलाज आयुर्वेदिक होम्योपैथिक और एलोपैथी दोनों में मौजूद है।

 

डिस्‍क्‍लेमर: उपरोक्त विचारों के लिए लेखक स्वयं उत्तरदायी हैं। जागरण डॉट कॉम किसी भी दावे, आंकड़े या तथ्‍य की पुष्टि नहीं करता है।

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *