Menu
blogid : 28261 postid : 62

कोरोना क्या कहता हमसे

AJAY AMITABH SUMAN UVACH
AJAY AMITABH SUMAN UVACH
  • 18 Posts
  • 0 Comment

कोरोना क्या कहता हम से ,
ना निकलो तुम अपने घर से।
ना खुद पे कोई शासन था ,
ना मन पे कोई जोर चले।

जंगल जंगल कट जाते हैं,
जाने कैसी ये दौड़ चले।
जब तुमने धरती माता के,
आँचल को बर्बाद किया।

तभी कोरोना आया है ,
धरती माँ ने ईजाद किया।
देख कोरोना आजादी का ,
तुम को मोल बताता है।

गली गली हर शहर शहर ,
ये अपना ढ़ोल बजाता है।
जो खुली हवा की साँसे है,
उनकी कीमत पहचान करो।

ये आजादी जो मिली हुई है,
थोड़ा सा सम्मान करो ।
यही कोरोना कहता हमसे ,
बढे चलो पर थोडा थम से।

अजय अमिताभ सुमन

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply