Menu
blogid : 28663 postid : 5

पिंपल पर टूथपेस्ट

hindimegyan

  • 1 Post
  • 0 Comment

क्या पिंपल पर टूथपेस्ट का उपयोग किया जा सकता है? – can i use toothpaste on pimples?

रोजाना रात को सोने से पहले चेहरे को साफ करना और किसी मुंहासे की शुरुआत होते हुए देखना थोड़ा परेशान करने वाला हो सकता है. ऐसे में आपको क्या करना चाहिए? (जानें – पिंपल के लिए होम्योपैथी दवाओं के बारे में)

आपको इंटरनेट पर ऐसे ढेरों लेख मिलेंगे जिसमें रात को पिंपल पर टूथपेस्ट लगाकर सोने से इसे साफ करने में मदद मिलती है आदि.

साथ ही इस बात को पूर्णता नकारा भी नहीं जा सकता है कि टूथपेस्ट में मौजूद कुछ सामग्री स्किन को ड्राई करने और पिंपल को सिकुड़ने में मदद करती है. लेकिन पिंपल से पस निकलने के मामले में इस उपाय का रिस्क नहीं लिया जाना चाहिए.

इसके अलावा कई ऐसे उपाय है जिन्हें आप आज़मा सकते है.

पिंपल पर टूथपेस्ट लाभ से ज्यादा हानि पहुंचा सकते हैं –

हालांकि, यह स्पष्ट नहीं है लेकिन निम्न कारण जरूर पढ़ने चाहिए –

  • काफी सारे टूथपेस्ट के भीतर एक ट्रीक्लोसन नाम का केमिकल मौजूद होता था जो बैक्टीरिया को मारने का काम करता था. जिसके कारण पिंपल का ब्रेकआउट अधिक खराब हो सकता था.
  • टूथपेस्ट में पाएं जाने वाली सामग्रियों में बेकिंग सोडा, अल्कोहल, हाइड्रोजन पेरोक्साइड होते है जो पिंपल को सुखाने और छोटा करने का कार्य करते है.
  • विशेषज्ञों की मानें तो टूथपेस्ट में मेंथॉल होता है जो अस्थाई रूप से दर्द और सूजन को कम करने में मदद करता है. (जानें – लेजर के साथ एक्ने के इलाज के बारे में)
  • लेकिन ऐसी बहुत सारी अन्य जानकारी भी है जिससे आपको पता चले कि टूथपेस्ट को एक्ने पर उपयोग नहीं करना चाहिए.
  • सबसे जरूरी, आज के समय में शायद ही कोई कंपनी हो जो ट्रीक्लोसन को टूथपेस्ट फॉर्मूला में उपयोग करती हो.
  • काफी सारे अध्ययनों में देखा गया है कि ट्रीक्लोसन केमिकल थायरॉयड हार्मोन को नकारात्मक रूप से प्रभावित करता है.

स्किन पर इर्रिटेशन कर सकते है

  • ध्यान रहें कि टूथपेस्ट को दांतों के लिए बनाया जाता है न कि आपके चेहरे की संवेदनशीलता के लिए.
  • इसलिए टूथपेस्ट में मौजूद केमिकल की मात्रा दांतों के लिए सुरक्षित लेकिन चेहरे के लिए बहुत अधिक हो सकती है. (जानें – चेहरे पर चमक लाने के घरेलू उपाय)
  • ऐसा होने का कारण है टूथपेस्ट का पीएच लेवल जो हेल्दी स्किन को इर्रिटेट कर सकता है.
  • वहीं स्किन का पीएच अलग होने के कारण अधिक पीएच वाले बेकिंग सोडा के उपयोग से रैश और जलन हो सकती है.

स्किन का अधिक ड्राई हो जाना

  • फिर चाहे आप जलन से बचने को मैनेज कर लें, लेकिन काफी सारे संभावित रिएक्शन हो सकते है.
  • उदाहरण के लिए टूथपेस्ट के अधिक उपयोग के कारण स्किन का ज्यादा ड्राई होना, जिससे अधिक एक्ने हो सकते है.

टूथपेस्ट के स्थान पर क्या उपयोग करें

टूथपेस्ट के स्थान पर अन्य आसान विकल्पों का उपयोग कर लाभ मिल सकता है.

एक्ने संबंधी प्रोडक्ट

  • विशेषज्ञों की मानें तो ओटीसी प्रोडक्ट की मदद से एक्ने से बचाव किया जा सकता है.
  • प्रोडक्ट की बात करें तो इसमें सैलिसाइलिक एसिड, बेन्जॉयल पेरोक्साइड वाले प्रोडक्ट शामिल है.
  • साथ ही रेटिनॉइड आपको फेस वॉश, मास्क, मॉइस्चराइजर में मिलते है.
  • इसके अलावा आप ओटीसी स्पॉट ट्रीटमेंट को सीधे पिंपल पर उपयोग कर सकते है.

पिंपल के लिए अन्य घरेलू उपाय

  • कई विशेषज्ञ संस्थानों का मानना है कि टी ट्री ऑयल की मदद से हल्के से लेकर मोडरेट एक्ने तक को ठीक किया जा सकता है.
  • इसके लिए आपको टी ट्री ऑयल को अपने फेस प्रोडक्ट में डालना होगा.
  • आप इसके कुछ ड्रॉप्स को सीधे स्पॉट पर भी लगा सकते है.
  • कई ऐसे अन्य उपाय भी है जिनकी मदद से फायदा उठाया जा सकता है.

अंत में

कुछ तरीकों से कहा जा सकता है कि टूथपेस्ट की मदद से पिंपल को तेजी से सुखाया और सिकुड़न किया जा सकता है. लेकिन ऐसा होने के कई साइड इफेक्ट संभव है जो इसके उपयोग के साथ ही आते है.

प्रोडक्ट जो विशेषकर चेहरे और स्किन के लिए बनाए जाते है उनका उपयोग बेहतर रहता है. साथ ही यह आपके बजट के भीतर होते है.

 

डिस्क्लेमर: उपरोक्त विचारों के लिए लेखक स्वयं उत्तरदायी हैं। जागरण डॉट कॉम किसी भी दावे, तथ्य या आंकड़े की पुष्टि नहीं करता है।

Tags:      

Read Comments

Post a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *