बेतिया। प्रतिभा किसी परिचय का मोहताज नहीं होती। इसके लिए सभी प्रतिभागियों को अपने कला कौशल का प्रदर्शन करना होगा। उक्त बातें पूर्व मंत्री व विधायक विनय बिहारी ने कही। वे मंगलवार को बीआरसी में आयोजित तरंग प्रतियोगिता मे बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि मेहनत करनेवाले की मजदूरी कोई नहीं रोक सकता है। वहीं बीडीओ संजीव कुमार ने कहा कि खेल से तन मन स्वस्थ रहता है। आपके पास कौन सी विधा है कोई और नही जानता है, लेकिन सरकार इस तरह के मौके देकर प्रतिभा निखारने का प्रयास करती है जो सराहनीय है। तरंग प्रतियोगिता के एकल स्पद्र्धा में नवलपुर के छात्रों का प्रदर्शन सराहनीय रहा। इस मौके पर शिक्षक संघ के अंचल सचिव चन्द्रभूषण ¨सह उर्फ मोहन ¨सह ने सबका आभार प्रकट किया। संचालन शिक्षक नेतामणि मिश्रा ने किया। इस मौके पर अरूण ¨सह, डा. रामबहादुर प्रसाद, बालेश्वर तिवारी, राम प्रकाश पासवान, शिव कुमार ¨सह, जितेश चौबे आदि मौजूद रहे।

इनसेट

सम्मानित किये गये शिक्षक शिवकुमार

राजकीय सम्मान से सम्मानित किये गये कोहड़ा उच्च विद्यालय के शिक्षक शिव कुमार ¨सह मंगलवार को प्रखंड परिसर में शिक्षकों की ओर से सम्मानित किये गये। समारोह मे विधायक विनय बिहारी व बीडीओ संजीव कुमार समेत कई अन्य लोगों ने ट्रॉफी देकर उन्हें सम्मानित किया। अपने संबोधन में विधायक विनय बिहारी ने कहा कि शिक्षक पद नही प्रतिष्ठा है। इसे बेदाग बनाये रखने में कठिन परिश्रम की आवश्यकता है। एक शिक्षक छात्रों को लाख परेशानियों के बाद भी पठन-पाठन कराता है। वहीं बीडीओ संजीव कुमार ने कहा कि शिक्षक हरगुण सम्पन्न होता है। उनके इन्हीं गुणो के कारण सम्मान मिला है। उन्हें सम्मानित कर यह प्रखंड स्वयं गौरवान्वित महसूस कर रहा है। इस सम्मान को लेकर शिक्षक लालबाबू गिरी, सर्वेश चौबे, नंदू राम, मोहन ¨सह आदि ने बधाई दी है।

----------------------------------------------

Posted By: Jagran