बेतिया । जैसे-जैसे शराब तस्करी पर कड़ाई हो रही है, तस्कर नए-नए तरीके इजाद कर रहे हैं। ट्रेन और वाहनों से शराब की खेप ले जाने की बात अब पुरानी हो गई है। होम डिलीवरी करने वालों पर भी उत्पाद विभाग और पुलिस की नजर है। ऐसे में तस्कर नया तरीका अपना रहे हैं। बैरिया में गन्ना लदे ट्रैक्टर से शराब बरामदगी के बाद एक बार पुलिस का भी माथा ठनक गया। गन्ने लदे ट्रैक्टर से शराब बरामद का यह पहला मामला है। इसके पहले भी अलग-अलग तरीके इजाद का शराब ले जाने की कोशिश में कई लोग गिरफ्तार हो चुके हैं। कडाई के बाद भी शराब के शौकीनों की बढ़ती डिमांड और इसमें अच्छी आय के कारण तस्करों का शराब से मोह भंग नहीं कर पा रहे हैं। शराब तस्करी के धंधे में शामिल लोगों के लगातार पकड़े जाने के बाद भी शराब की तस्करी जारी है। शराब पर पूरी तरह रोक के लिए उत्पाद विभाग, पुलिस के अलावा एंटी लिकर टास्क फोर्स की भी पैनी नजर है। इसके लिए जिले में लगातार छापेमारी चल रही है। बावजूद तस्करी रुक नहीं रही है। शराब तस्करों का लंबा नेटवर्क है। शहर से लेकर गांव तक इनका जाल फैला है। तस्करी के लिए इनमे अलग-अलग लेयर बने है। जिसके माध्यम से एक से दूसरे जगह तक शराब की खेप पहुंचाई जाती है।

---------------------

कोट--

शराब तस्करी पर पूरी तरह रोक के लिए विभाग कटिबद्ध है। लगातार कार्रवाई हो रही है। कई लोगों को गिरफ्तार किया गया है। हर हाल में शराब के धंधे पर पूरी तरह विराम लगाया जाएगा।

मनोज कुमार सिंह, उत्पाद अधीक्षक, बेतिया।

Edited By: Jagran