बगहा। पर्यटन नगरी वाल्मीकिनगर में प्रस्तावित बिहार कैबिनेट की बैठक को लेकर प्रशासनिक तैयारी युद्धस्तर पर चल रही है। बैठक को लेकर वन सभागार को नया कलेवर दिया जा रहा। सभागार के मंच को तोड़कर इस आडिटोरियम की शक्ल दी जा रही। सभागार परिसर में टेंट लगाए जा रहे। जहां मंत्रियों के साथ पहुंचने वाले अधिकारियों, पुलिस जवानों समेत अन्य लोगों के रुकने की व्यवस्था की जाएगी। हालांकि अभीतक प्रशासनिक स्तर पर कैबिनेट बैठक की औपचारिक घोषणा नहीं की गई है। लेकिन, तैयारियों को देखते हुए यह माना जा रहा कि 23 नवंबर को ही वाल्मीकिनगर की खुबसूरत वादियों के बीच कैबिनेट की बैठक होगी। जिसमें बिहार के भविष्य के लिए जरूरी योजनाओं को स्वीकृति प्रदान की जाएगी। अबतक की तैयारियों में गेस्ट रूम की साज-सज्जा से लेकर मृत त्रिवेणी केनाल में बोटिग के लिए आवश्यक संसाधनों की व्यवस्था की जा चुकी। अब बैठक के लिए वन सभागार को मूर्त रूप दिया जा रहा। बता दें कि नवंबर 2019 में जब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार वाल्मीकिनगर दौरे पर आए थे तो उन्होंने आने वाले दिनों में वाल्मीकिनगर में कैबिनेट की बैठक को लेकर घोषणा की थी। जिसके कुछ दिनों बाद सरकार के सचिव ने वाल्मीकिनगर का दौरा किया। तब यह माना जा रहा था कि कुछ ही महीनों में कैबिनेट की बैठक वाल्मीकिनगर में होगी। लेकिन, इसके बाद कोरोना संकट और फिर विधानसभा चुनाव के कारण बैठक टल गई। इसके बाद कोरोना की दूसरी लहर के कारण सबकुछ ठहर गया। सभी होटलों व आवासीय परिसरों को किया गया ब्लॉक :- कैबिनेट की प्रस्तावित बैठक के दौरान वाल्मीकिनगर पुलिस छावनी में तब्दील रहेगा। यहां के सभी होटलों व आवासीय परिसरों को 24 नवंबर तक के लिए ब्लॉक कर दिया गया है। इस दौरान वाल्मीकिनगर आने जाने वाले हर व्यक्ति की सघन जांच होगी। सुरक्षा में किसी प्रकार की चूक न हो, इसके लिए मंत्रिमंडल के आगमन के पूर्व ही सुरक्षाकर्मी कमान संभाल लेंगे।

Edited By: Jagran