बेतिया । नरकटियागंज में बिजली विभाग ने ग्राहकों की सुविधा के लिए डोर टू डोर बिजली बिल का कलेक्शन करना शुरू कर दिया है। सहायक विद्युत अभियंता आलोक कुमार ने बताया कि सोमवार से एजेंसी के माध्यम से डोर टू डोर बिजली बिल का कलेक्शन शुरू कर दिया गया है। शहरी क्षेत्रों में एजेंसी को बिजली बिल का काम दिया गया है। उन्होंने बताया कि बिजली बिल के डोर टू डोर कलेक्शन शुरू होने से अब उपभोक्ताओं को भी दी ऑफिस के चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा। वह घर बैठे बिजली बिल जमा कर परेशानियों से बच पाएंगे। सबसे खास बात यह है। कि उपभोक्ता अपने बिजली बिल का भुगतान एटीएम ऑनलाइन माध्यमों से भी कर सकते हैं। इसके लिए एजेंसी के कर्मी को एटीएम कार्ड डालने वाली मशीन उपलब्ध कराई गई है। बिजली बिल जमा करने के उपरांत उपभोक्ता को तुरंत पावती रसीद भी मिल जाएगी। उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र में पहले से ही डोर टू डोर कलेक्शन का काम शुरू है। ग्रामीण क्षेत्रों के उपभोक्ता सिर्फ कैश के माध्यम से ही बिल जमा कर सकते हैं। लेकिन शहरी क्षेत्र के उपभोक्ता है। एटीएम व ऑनलाइन बिजली बिल जमा करा सकते हैं। मौके पर कनीय विद्युत अभियंता गौतम कुमार, कर्मी देवाशिष कुमार, मृत्युंजय कुमार, अमरेश कुमार, नंद किशोर कुमार, संतोष कुमार राजीव व सुजीत उपस्थिति रहे। सोने की चेन वापस मांगने पर महिला से बदसलूकी, प्राथमिकी दर्ज

नरकटियागंज में हिमालय सिनेमा चौक निवासी संगीता देवी ने दलित उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए शिकारपुर थाने में एक प्राथमिकी दर्ज कराई है। जिसमें सोनासती गांव निवासी मनीष कुमार चौबे को नामजद किया है। उसने बताया कि वह मनुआपुल की निवासी है। नेटवर्किग मार्केटिग के सिलसिले में वह हिमालय सिनेमा चौक पर एक किराये के मकान में रहती है। आरोपित से उसका करीब आठ वर्षो से जान- पहचान है। उसके एक परिचित मनीष सिन्हा नामक व्यक्ति ने उसके पास एक सोने का चेन रखा था। चेन वापस मांगने पर उसने बीते 13 नवंबर को मनीष चौबे के हाथ उक्त चेन को भिजवा दिया। किन्तु आरोपित ने उक्त चेन मनीष सिन्हा को नही दिया। चेन वापस मांगने पर आरोपित ने जान मारने की धमकी दी। थानाध्यक्ष अजय कुमार ने बताया कि मामले में प्राथमिकी दर्ज कर अग्रेतर कार्रवाई की जा रही है।

Edited By: Jagran