बेतिया । बाल दिवस बच्चों के लिए एक खास दिवस है। बाल दिवस पंडित जवाहर लाल नेहरू के जन्मदिन पर मनाया जाता हैं, क्योंकि चाचा नेहरू को बच्चे अतिप्रिय थे। चाचा नेहरू बच्चों में सदैव देश का भविष्य देखते थे। बच्चों के सर्वागीण विकास से ही नए समाज का निर्माण संभव हो सकता है। नौतन में यह बातें रविवार की शाम अनुष्का एकेडमी सनसरैया में बाल दिवस पर आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम समारोह का विधिवत उद्घाटन करते हुए निवर्तमान सभापति गरिमा देवी सिकारिया ने कहीं। कार्यक्रम का संचालन खुशबू श्रीवास्तव ने किया। वहीं आगत अतिथियों का स्वागत अनुष्का एकेडमी के व्यवस्थापक सह सचिव नीरज श्रीवास्तव ने किया। इस दौरान सचिव ने विद्यालय के शिक्षण कार्यों का रिपोर्ट प्रस्तुत किया। विद्यालय के तरफ से मुख्य अतिथि गरिमा देवी सिकारिया को अंग वस्त्र और डायरी देकर सम्मानित किया गया। मौके पर विशिष्ट अतिथि सामून खां, अंबेडकर पटेल, सरपंच पति संजय यादव, गुड्डू पटेल, गौरी शर्मा, शिवशंकर पटेल, आदि को भी सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में विद्यालय के छात्र और छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति कर उपस्थित अभिभावकों का मनमोह लिया गया। शानदार कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले छात्र-छात्राओं को विद्यालय की ओर से पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। बाल कल्याण समिति ने धीरज को किया सम्मानित

योगापट्टी प्रखंड के किसान राजबली यादव के पुत्र धीरज कुमार को बीते दिनों मगरमच्छ से लड़कर अपने भाई की जान बचाने जैसे साहसिक कार्य के लिए बाल दिवस के अवसर पर बाल कल्याण समिति ने सम्मानित किया।समिति के अध्यक्ष आदित्य कुमार ने कहा कि यह बालक अपने इस अदम्य साहस के लिए समाज के लिए प्रेरणास्त्रोत है। समग्र शिक्षण एवं विकास संस्थान बेतिया और मिशन मुक्ति फॉउंडेशन नई दिल्ली के तकनीकी सहयोग से धीरज को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल वीरता पुरस्कार मिलने में काफी सहयोग किया है । मौके पर समिति के चंदना लकड़ा व अन्य उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran