बेतिया। जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह डीएम कुंदन कुमार ने आसन्न पंचायत चुनाव को देखते हुए सभी कोषांगों के पदाधिकारी से पूरी तन्मयता के साथ अपने कार्य में जुट आने का निर्देश दिया है। शुक्रवार को कोषांगवार कार्यों की समीक्षा करने के दौरान उन्होंने यह बात कही। उन्होंने पंचायत आम निर्वाचन, 2021 को पूर्ण स्वच्छ, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न कराने के लिए हर स्तर पर तैयारी करने को कहा। बैठक के दौरान कार्मिक कोषांग, प्रशिक्षण कोषांग, सामग्री कोषांग, परिवहन कोषांग, ईवीएम कोषांग, मतगणना कोषांग, विधि-व्यवस्था कोषांग, निर्वाचन व्यय कोषांग, प्रेक्षक कोषांग, मतपत्र कोषांग, प्रतिवेदन कोषांग सहित नियंत्रण कक्ष द्वारा किए जा रहे कार्यों की विस्तृत रूप से समीक्षा की गई। जिलाधिकारी ने कहा कि पंचायत निर्वाचन अत्यंत ही महत्वपूर्ण है। निर्वाचन की पूरी प्रक्रिया में विभागीय दिशा-निर्देशों का शत फीसद अनुपालन सुनिश्चित कराया जाना अति आवश्यक है। प्रशिक्षण कोषांग को संबंधित कार्मिकों को तिथि का निर्धारण कर प्रशिक्षण देने की व्यवस्था करने को कहा। परिवहन कोषांग को पेट्रोलिग पार्टी आदि को बूथों तक पहुंचाने के लिए पर्याप्त संख्या में वाहनों की उपलब्धता ससमय उपलब्ध कराने की बात कही। परिवहन कोषांग के नोडल पदाधिकारी ने बताया कि अबतक पांच हजार वाहनों की उपलब्धता सुनिश्चित कर ली गयी है, शेष वाहनों के लिए कार्रवाई की जा रही है। ईवीएम कोषांग को ईवीएम को सुरक्षित तरीके से स्टोर रूम में रखने के लिए सभी व्यवस्थाएं अपडेट रखने को कहा गया।

वहीं विधि-व्यवस्था कोषांग की समीक्षा के क्रम में जिलाधिकारी ने सभी एसडीएम, एसडीपीओ के साथ समन्वय स्थापित कर विधि-व्यवस्था से संबंधित प्रतिवेदन अपडेट रखेंगे पर बल दिया। बैठक में तैयारी को लेकर कई दिशा निर्देश दिए गए। मौके पर उप विकास आयुक्त रविन्द्र नाथ प्रसाद सिंह, डीआरडीए के निदेशक राजेश कुमार, सभी एसडीएम, सभी नोडल पदाधिकारी सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

------------------------

कर्मियों का डाटा बेस तैयार करने में जुटा कार्मिक कोषांग

जासं, बेतिया : पंचायत चुनाव की तैयारी को लेकर जिला प्रशासन तेजी से कार्यो का निष्पादन करा रहा है। जिला निर्वाचन पदाधिकारी की ओर से गठित कार्मिक कोषांग ने अभी से ही चुनाव में प्रतिनियुक्त किए जानेवाले कर्मचारियों का डाटा बेस तैयार करने में जुट गया है। कार्मिक कोषांग के प्रभारी सह जिला आपूर्ति पदाधिकारी अनिल राय ने बताया कि चुनाव को शांतिपूर्ण एवं स्वतंत्र व निष्पक्ष संपन्न कराने के लिए कार्मिकों की संख्या का आकलन करते हुए उनका डाटा बेस तैयार करने का काम आरंभ कर दिया गया है। इसके लिए जिले के सभी विभागो के निकासी एवं व्ययन पदाधिकारियों को पत्र भेजकर अपने अपने कार्यालय में कार्यरत कर्मियों का पूर्ण ब्योरा भेजने का निर्देश दिया गया है। उन्होंने बताया कि इसके लिए सभी निकासी एवं व्ययन पदाधिकारियों को एक सप्ताह का समय दिया गया है। उन्होंने बताया कि सभी निकासी एवं व्ययन पदाधिकारियों से यह भी कहा गया है कि अपने अधिनस्थ कार्यरत महिला एवं पुरुष सभी कर्मियों का डाटा भेजेंगे। इस बार के चुनाव में महिला कर्मियों की भी प्रतिनियुक्ति चुनाव में होने की संभावना है। उन्होंने कहा कि जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने यह भी निर्देश दिया है कि यदि कोई भी निकासी एवं व्ययन पदाधिकारी कर्मियों की सूची में भेजने में लापरवाही या कार्मिकों का नाम पता छिपाते हैं, तो उनके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई भी की जा सकती है।

Edited By: Jagran