बगहा। पिपरासी पंचायत समिति की बैठक मंगलवार को काफी गहमागहमी के बीच संपन्न हुई। बैठक में कई अधिकारी अनुपस्थित रहे।

बैठक को संबोधित करते हुए वाल्मीकि नगर विधायक धीरेंद्र प्रताप सिंह उर्फ रिकू सिंह ने कहा कि तेजी से प्रखंड का विकास किया जाएगा। सभी जनप्रतिनिधि मिलकर विकास की पहिया को आगे बढ़ाएं। जो भी समस्या उत्पन्न होगी उसका समाधान किया जाएगा। उन्होंने बैठक में अनुपस्थित रहे अधिकारियों पर नाराजगी व्यक्त की और डीएम से कार्रवाई की बात कही।

कार्यपालक पदाधिकारी विजय कुमार सिंह ने विकास कार्य के संबंध में विस्तृत जानकारी दी। योजनाओं के चयन और समस्या के समाधान के विषय में बताया। विधायक से भी विकास कार्य में सहयोग की अपील किया। मंझरिया पंचायत के पंचायत समिति सदस्य राजेश साहनी ने दो पुल निर्माण कराने व अन्य मांग उठाई। मुडाडीह के मुखिया जोखू बैठा ने सरकारी भूमि पर सामुदायिक भवन बनाने, डुमरी भगड़वा पंचायत के मुखिया गुलाब चौहान ने कहा कि वार्ड संख्या दो के 10 घरों में अभी तक बिजली नहीं पहुंची है।

मामले में विभागीय अभियंता राजीव कुमार ने बताया कि निरीक्षण कर बिजली दी जाएगी। बलुआ ठोरी के मुखिया संतोष कुशवाहा ने पंचायत में बिजली नहीं रहने की समस्या उठाई। दो भवन हीन विद्यालय का भी मुद्दा उठाया। इस बीच बीईओ सीताराम सिंह ने बताया कि पांच विद्यालय भूमिहीन और 12 विद्यालय में चहारदीवारी नहीं है। कुछ विद्यालयों में चापाकल भी नहीं है। चनकुहा भरपटिया विद्यालय में अतिक्रमण किया गया है। सीओ ललित कुमार सिंह ने बताया कि बहुत जल्द अतिक्रमण मुक्त किया जाएगा। मुडाडीह पंचायत समिति सदस्य प्रहलाद राम ने नवसृजित विद्यालय, उपप्रमुख रामदुलार चौहान ने मनरेगा में करीब 50 लाख रुपये भुगतान का मुद्दा उठाया। बैठक में पीएचडी विभाग के कनीय अभियंता दिलीप मंडल गायब रहे। बैठक में जिला परिषद सदस्य धनेश्वर यादव, प्रमुख पंचायत समिति अनिता कुमारी, तकनीकी पर्यवेक्षक अमित सिंह, सांसद प्रतिनिधि अमरुल्लाह अंसारी, पंचायत सचिव रामाशीष राम, हरनाम यादव, पंसस बलूआ ठोरी राजेश यादव, रवि कुमार आदि शामिल रहे।

Edited By: Jagran