बगहा । पिपरासी प्रखंड की सेमरा लबेदहा पंचायत में स्थापित प्राथमिक विद्यालय का भवन वर्ष 2006 में गंडक नदी के गर्भ में समाहित हो गया। जिसके कारण विद्यालय को भैसहिया से स्थानांतरित कर नया टोला भैसहिया में संचालित किया जा रहा। 13 वर्ष बीत गए। लेकिन, इस विद्यालय की तस्वीर नहीं बदली। विद्यालय के बच्चे कुव्यवस्था का दंश झेल रहे। दोबारा विद्यालय के भवन निर्माण की पहल विभाग ने नहीं की। आज भी विद्यालय में अध्ययनरत बच्चे बोरा चट्टी पर बैठकर पठन-पाठन करते हैं। जबकि विद्यालय भवन के लिए एक एकड़ जमीन उपलब्ध है। जिसका अतिक्रमण स्थानीय लोगों ने कर लिया है। विद्यालय में पंचायत निधि से किचन शेड का निर्माण कराया गया है। स्वच्छता मिशन के तहत शौचालय का निर्माण भी हुआ है। हालांकि भवन नहीं बन सकने के कारण झोपड़ी में संचालित हो रहे इस विद्यालय में संसाधनों की घोर कमी बनी हुई है। प्रधान शिक्षक निजी राशि व्यय कर समय-समय पर झोपड़ी की मरम्मत कराते हैं। बरसात के दिनों में जल जमाव होने से पठन-पाठन बाधित हो जाता। विद्यालय में कुल 150 बच्चों का नामांकन है। जबकि चार शिक्षक कार्यरत हैं। प्रधान शिक्षक ने कई बार भवन निर्माण के लिए विभाग को पत्राचार किया। लेकिन आजतक कोई पहल नहीं हुई। इससे स्थानीय लोगों में आक्रोश व्याप्त है। अभिभावक कहते हैं कि सरकार गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की बात करती है, जबकि विद्यालयों में बच्चों के बैठने तक की व्यवस्था नहीं है। सीआरसीसी राजेश सिंह ने कहा कि पहले भवन निर्माण की राशि जिले से आवंटित होती थी, अब प्राक्कलन तैयार कर विभाग को स्वीकृति के लिए भेजा जाता है। रुपये आवंटित होते ही निर्माण कार्य प्रारंभ हो जाएगा। प्रखंड प्रमुख यशवंत नारायण यादव ने कहा कि जिले में होने वाली बैठकों में इस मुद्दे को उठाया जाएगा। पंचायत समिति की बैठक में भवन निर्माण का प्रस्ताव पारित है। जिलाधिकारी से वार्ता करेंगे। वर्जन विद्यालय भवन निर्माण हेतु विभाग को कई बार पत्राचार किया जा चुका है। लेकिन 13 वर्ष बीत जाने के बाद भी भवन का निर्माण की पहल नहीं हुई। फिलहाल विद्यालय का संचालन झोपड़ी में किया जा रहा। बच्चे बोरा चट्टी पर बैठकर पठन-पाठन करते हैं।

- कृष्ण चंद्र निषाद, प्रधानाध्यापक

प्राथमिकी विद्यालय, नया टोला भैसहिया

------------ वर्जन

विद्यालय के भवन निर्माण के लिए विधानसभा में प्रश्न उठाउंगा। साथ ही शिक्षामंत्री को पत्र लिखकर अविलंब राशि आवंटित करने की मांग करूंगा। - धीरेंद्र प्रताप सिंह उर्फ रिकू सिंह

विधायक, वाल्मीकिनगर

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस