बगहा । पंचायत चुनाव की डुगडुबी बजने के साथ ही मतदाताओं को अपने पक्ष में करने के लिए प्रत्याशियों में होड़ मची है। इस बीच सरकार प्रायोजित योजनाओं का लाभ दिलाने का सब्जबाग दिखाकर मतदाताओं को खूब बरगलाया जा रहा है। जबकि वास्तविकता यह है कि इन योजनाओं का लाभ आम लोगों को दिलाने में किसी भी जन प्रतिनिधि का कोई योगदान नहीं है। बानगी के तौर पर प्रधानमंत्री आवास योजना को लिया जा सकता है। इस योजना के लाभ के लिए पूर्व से बनी सूची के आधार पर शत प्रतिशत लोगों को लाभ मिल चुका है। वर्ष 2018 में हुए सर्वेक्षण के आधार पर नये लाभुक परिवारों की सूची बनी है, लेकिन पंचायत चुनाव के कारण इस सूची का अनुमोदन नहीं हो सका है। तय है कि पंचायत चुनाव के बाद ही इस दिशा में काम आगे बढ़ेगा। ऐसे में अधिकारी लोगों से यह अपील कर रहे हैं कि किसी प्रकार के बहकावे के चक्कर में न आए। बगहा दो बीडीओ जयराम चौरसिया ने बताया कि पंचायत चुनाव तक किसी भी नये लाभुक को आवास योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा। प्रखंड के लाभुकों की पुरानी सूची के आधार पर लाभ दिया जा चुका है। इनमें अधिकांश ने अपना आवास बनवा लिया है जबकि कुछ निर्माणाधीन हैं। जिनका काम प्रगति पर है, उन्हें आवास सहायकों व पर्यवेक्षकों की रिपोर्ट के आधार पर दूसरी व तीसरी किस्त दी जाएगी। बीडीओ ने कहा कि वर्ष 2018 में नए सर्वेक्षण के आधार पर बनी लाभुकों की सूची का अनुमोदन पंचायत चुनाव के बाद होगा। इसके लिए ग्रामसभा का आयोजन होगा। तदुपरांत दावा आपत्ति लिया जाएगा। संपूर्ण प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही नये लाभुकों को योजना का लाभ दिया जा सकेगा। बीडीओ श्री चौरसिया ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि मतदाता पूरी तरह से अलर्ट रहें। यदि कोई प्रत्याशी मतदाता को डराता-धमकाता या फिर लुभाता है तो इसकी जानकारी प्रशासनिक महकमे को दें। ऐसे प्रत्याशियों पर त्वरित कार्रवाई की जाएगी। वाल्मीकिनगर विधायक धीरेंद्र प्रताप उर्फ रिकू सिंह ने कहा कि पंचायत चुनाव के दौरान मतदाताओं को प्रभावित करने वाले बख्से नहीं जाएंगे। इस संबंध में अधिकारियों से बातचीत की गई है।

Edited By: Jagran